अब जेल अधिकारियों को हर साल मिलेगा प्लेटिनम पदक

  •  नए महानिरीक्षक कारागार की नई पहल
  •  नई व्यवस्था के तहत एक दर्जन अधिकारियों को मिला सम्मान
  • पीएन पांडेय, शशिकांत मिश्रा और राजेंद्र कुमार जायसवाल हुए सम्मानित

आर के यादव

लखनऊ। कारागार विभाग के अधिकारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए विभाग के नए पुलिस महानिदेशक/महानिरीक्षक कारागार ने स्वतंत्रता दिवस नई पहल की है। नई पहल के तहत अब विभागीय अधिकारियों को गोल्ड सिल्वर के साथ हीरक पदक देने की पहल की गई है। नई पहल के तहत पहली बार 76वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर दो वरिष्ठ अधीक्षक, दो अधीक्षक, तीन जेलर दो डिप्टी जेलर समेत करीब एक दर्जन लोगों को इस पदक से सम्मानित किया गया है।

कारागार विभाग के पूर्व पुलिस महानिदेशक/महानिरीक्षक कारागार आनंद कुमार ने जेल अधिकारियों को मनोबल बढ़ाने के लिए आईजी के गोल्ड, सिल्वर व ब्रांस कमेंडेंशन डिस्क प्रशंसा चिन्ह दिए जाने की घोषणा की थी। इस कड़ी में आईजी जेल आनंद कुमार के करीब साढ़े तीन साल के कार्यकाल में सैकड़ों की संख्या में स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के मौके पर विभागीय अधिकारियों और कर्मियों को प्रशंसा चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

 

इस क्रम को आगे बढ़ाते हुए अभी पिछले दिनों कारागार विभाग के नए पुलिस महानिदेशक/महानिरीक्षक कारागार एसएन साबत ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नई पहल की है। इस पहल के तहत पहले से मिलने वाले आईजी के गोल्ड, सिल्वर प्रशंसा चिन्ह के साथ ही कुछ नए प्रशंसा चिन्ह दिए जाने की पहल की है। इसके तहत अब जेल अधिकारियों को इन पदको के साथ ही प्लेटिनम (हीरक) प्रशंसा चिन्ह देने का निर्णय लिया है। इसके अलावा बेहतर काम करने वाले जेल अधिकारियों और सुरक्षाकर्मियों को प्रशंसा रोल और प्रशंसा पत्र दिए जाने का फैसला किया है। स्वतंत्रता दिवस पर विभाग के एक वरिष्ठ अधीक्षक ग्रेड टू प्रेमनाथ पांडेय, एक वरिष्ठ अधीक्षक ग्रेड वन एके तिवारी, दो अधीक्षक शशिकांत मिश्रा और राजेंद्र कुमार जायसवाल के अलावा जेलर आरपी चौधरी, सत्य प्रकाश, पवन त्रिवेदी और दो डिप्टी जेलर, दो हेड वार्डर व एक वार्डर को हीरक प्रशंसा चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

पांच जेल अफसरों को मिला गोल्ड पदक

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जेल विभाग के सैकड़ों अधिकारियों और सुरक्षाकर्मियों व कर्मचारियों को गोल्ड, सिल्वर पदक देकर अलंकृत किया गया है। इसके मुरादाबाद के वरिष्ठ जेल अधीक्षक पवन प्रताप सिंह, अलीगढ़ के वरिष्ठ अधीक्षक बृजेंद्र कुमार सिंह, नैनी केंद्रीय कारागार के रंग बहादुर और बुलंदशंहर के अधीक्षक सीताराम शर्मा और प्रेम सागर शुक्ला को गोल्ड प्रशंसा चिन्ह देकर सम्मानित किया गया है। इसके अलावा चार अधीक्षकों को सिल्वर पदक के साथ प्रशंसा पत्र देकर पुरस्कृत किया गया है।

Raj Dharm UP

योगी की पहल उतर रही धरातल पर, शिमला का सेब अब पूरब की तराई में!

केवीके बेलीपार की पहल पर गोरखपुर के कुछ किसान बड़े पैमाने पर खेती की तैयारी में मात्र दो साल में ही आ जाता है फल, तीन साल पहले आई थी यह प्रजाति लखनऊ। शिमला का सेब तराई में! है न चौंकाने वाली बात। पर चौंकिए मत। यह मुकम्मल सच है। ठंडे और ऊंचे पहाड़ों से […]

Read More
Raj Dharm UP

काल बनी सड़क: एक बार फिर आगरा एक्सप्रेस-वे पर बड़ा हादसा, चली गई 18 लोगों की जान

एक टैंकर से टकराकर पलट गई डबलडेकर बस बड़ा हादसा: सड़क पर दिखने लगी लाशें ही लाशें लखनऊ । राष्ट्रीय राजमार्गों पर सड़क हादसे में मौत होने का सिलसिला थम नहीं रहा है। उन्नाव जिले में बुधवार सुबह लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे भीषण सड़क हादसा हुआ। डबल डेकर बस एक टैंकर से टकरा गई। टकराने के बाद […]

Read More
Raj Dharm UP

…तो जेल में ठूस दी जाएगी पाखंडियों की फौज, बड़े एक्शन की दरकार

ए अहमद सौदागर लखनऊ। हाथरस के सिकंद्राराऊ में सत्संग के दौरान भगदड़ में हुई मौतों के मामले में मुख्य आरोपी देव प्रकाश मधुकर सहित आधा दर्जन आरोपी को पकड़कर पुलिस ने पाखंडियों के चेहरे से नकाब उतार दिया है। आधा दर्जन आरोपी सलाखों के पीछे तो पहुंच गए हैं, इस मामले का असली पाखंडी बाबा […]

Read More