पर्यटन के लिहाज से बेहद खूबसूरत है तवांग,जिस पर चीन की है बुरी नजर

उमेश तिवारी


काठमांडू/नेपाल । चीन और भारतीय सेना के बीच हुई झड़प के बाद से अरुणाचल प्रदेश का तवांग एक बार फिर चर्चा में है। भारत-चीन के बीच सीमा विवाद की वजह से तवांग में भारतीय सेना के मिलिट्री वाहनों की आवाजाही ज्यादा रहती है। हालांकि, तवांग अपनी बेमिसाल खूबसूरती और बौद्ध मठों के लिए मशहूर है। यहां का प्राकृतिक सौंदर्य, बर्फीले पहाड़ और हरी-भरी वादियां सैलानियों का मन मोह लेती हैं।

यहां पर एशिया का सबसे बड़ा मठ तवांग भी है।अपने बौद्ध मठों के लिए यह शहर पूरी दुनिया में पहचाना जाता है। अरुणाचल प्रदेश के मुख्य आकर्षण में शामिल तवांग मठ (तवांग मोनेस्ट्री) को गोल्डन नामग्याल ल्हासे के नाम से भी जाना जाता हैं। यह मठ समुद्र तल से लगभग 3,000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इसे भारत के सबसे बड़े और दुनिया के दूसरे सबसे बड़े मठ का दर्जा प्राप्त है।

यह करीब 400 साल पुराना है जो 300 से भी अधिक बौद्ध भिक्षुओं के आश्रय स्थल के रूप में जाना जाता है। तवांग की झीलें इस शहर की खूबसूरती को और ज्यादा आकर्षक बनाती हैं। यहां नागुला लेक, सेला पास, माधुरी लेक, पांग्तेंग त्सो लेक , हार्ट लेक, बंगा जांग लेक जैसे कई लेक हैं जो सैलानियों के बीच काफी मशहूर हैं। तवांग की नदियां और झरने भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। बेहद शांत और सुंदर नदियों के पास अक्सर लोग घूमने-फिरने और पिकनिक मनाने के लिए आते हैं।

तवांग जाने के लिए सबसे अच्छा समय मार्च से सितंबर महीने का है क्योंकि ये जगह गर्मियों और मानसून में घूमने के लिए परफेक्ट है। लेकिन अगर आप बर्फबारी और बर्फ से ढके पहाड़ों का मजा लेना चाहते हैं तो आप यहां सर्दियों के मौसम में जाएं। हालांकि सर्दियों में यहां का तापमान एक से तीन डिग्री के आसपास रहता है। तवांग पहाड़ी इलाका है और यहां कोई एयरपोर्ट या रेलवे स्टेशन नहीं है। सबसे नजदीकी एयरपोर्ट असम का तेजपुर है जो तवांग से करीब 317 किलोमीटर की दूरी पर है।आप तेजपुर से तवांग जा सकते हैं। हालांकि देश के अन्य हिस्सों से तवांग पहुंचने के लिए गुवाहाटी एयरपोर्ट ज्यादा बेहतर है जो तवांग से करीब 480 की किलोमीटर दूरी पर है। यहां से सड़क मार्ग से तवांग जा सकते हैं।

अरुणाचलन का तवांग है बेहद खूबसूरत

सड़क मार्ग तवांग पहुंचने का सबसे लोकप्रिय और आसान साधन है।आप बस या कैब हायर कर तवांग पहुंच सकते हैं। तवांग में कोई रेलवे स्टेशन नहीं है। इसका सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन असम का रंगापाड़ा है। रंगापाड़ा से तवांग की दूरी करीब 383 किलोमीटर है। इसलिए रंगापाड़ा रेलवे स्टेशन से आपको आगे का सफर कैब या बस से करना होगा।

Entertainment Himachal homeslider Tourism

2023 Will Knock after a few hours : 2022 आज अंतिम पड़ाव पर, नया साल स्वागत के लिए तैयार, हिमाचल-उत्तराखंड में उमड़ी भीड़

शंभू नाथ गौतम साल 2022 आज अपने अंतिम पड़ाव पर आ पहुंचा है। शनिवार रात 12 यह साल हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाएगा। ‌नया साल 2023 रविवार से अपनी दस्तक देने के लिए तैयार है। ‌ नए साल का स्वागत करने के लिए इन दिनों गोवा, कश्मीर, हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड […]

Read More
Tourism

अगर दोस्तों के साथ लखनऊ जाने का है प्लान तो इन जगहों को करे एक्स्प्लोर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में घूमने के लिए अनगिनत जगहें हैं। ऐतिहासिक इमारतों से लेकर खूबसूरत पार्कों तक लखनऊ पूरे देश में मशहूर है। ऐसे में घूमने के शौकीन ज्यादातर लोग लखनऊ का मजा लेना पसंद करते हैं। अगर आप लखनऊ घूमने जा रहे हैं। तो लखनऊ के आसपास की कुछ जगहों को […]

Read More
Tourism Uttarakhand

रानीखेत के पास सौनी में बना देश का पहला हिमालयन मसाला गार्डन, उगाए जा रहे 30 प्रजातियों के स्पाइस

देहरादून। उत्तराखंड के रानीखेत के सौनी में नवनिर्मित देश का पहला हिमालयन स्पाइस गार्डन अस्तित्व में आ गया है। पूरे भारतीय हिमालयी क्षेत्र और देश में अपनी तरह का पहला हिमालयी मसाला उद्यान का उद्घाटन प्रसिद्ध इतिहासकार और पद्मश्री पुरस्कार विजेता शेखर पाठक ने किया। यह कश्मीर के केसर से लेकर प्रसिद्ध तेजपात (जो भौगोलिक […]

Read More