पाकिस्तान में मचा आंटे के लिए घमासान, देश के हालात बदहाल

पाकिस्तान पर सबसे बड़ा आर्थिक संकट


उमेश तिवारी


नौतनवा/महराजगंज। भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान अपने सबसे बड़ी आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। महंगाई चरम पर पहुंचती जा रही है और देश का विदेशी मुद्रा भंडार खत्म होता जा रहा है। देश के लोग रोटी के लिए मोहताज और आंटे के अकाल का सामना कर रहे हैं। गेंहू की किल्लत के चलते आंटे की कीमत आसमान छू रही है।सोशल मीडिया पर जो तस्वीरें और वीडियो वायरल हो रहे हैं, उनमें पाकिस्तान में आंटे के लिए मचे घमासान की तस्वीर साफ हो जाती है।

थाली की रोटी पर महंगाई की बम

पाकिस्तान में आंटे की इमरजेंसी जैसे हालात पैदा हो गए हैं। गेंहू की किल्लत गहराने से लोगों में अपने और परिवार का पेट भरने की चिंता बढ़ गई है। देश में आंटे की आपूर्ति डिमांड की तुलना में बेहद कम है और इसकी कीमत हर बीतते दिन के साथ बढ़ रही है। दूसरे शब्दों में कहें तो पाकिस्तानियों की थाली से धीरे-धीरे रोटी गायब होती जा रही है। पाकिस्तान ब्यूरो आफ स्टेटिस्टिक्स (PBS) के आंकड़ों के मुताबिक, पाकिस्तान में आंटे की कीमत 150 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई है।

आंटे के लिए मरने-मारने को मजबूर

बीते दिनों आई डॉन की एक रिपोर्ट की मानें तो पाकिस्तान में आंटे की किल्लत का अंदाजा लगाया जा सकता है। इसमें कहा गया था कि गेहूं संकट देश में विकराल रूप लेता जा रहा है। इस्लामाबाद में रोजाना गेहूं की खपत 20 किलो के 38,000 बैग्स की है, लेकिन यहां संचालित 40 आटा मिलों से 21,000 बैग्स की आपूर्ति हो पा रही है। आज देश के हालात ये बन चुके हैं कि लोग आंटे की बोरी के लिए मरने-मारने तक को तैयार नजर आ रहे हैं। इस तरह के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

आंटा लदे ट्रकों का पीछा करते लोग

सोशल मीडिया पर पाकिस्तान में आंटे की कमी से पैदा हुए हालातों की जो तस्वीरें और वीडियो वायरल हो रहे हैं, वो ये सोचने पर मजबूर करने वाले हैं कि आखिर कैसे देश में इस तर भुखमरी जैसे हालात बन गए। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि लोग आंटा लदे ट्रकों के पीछ दौड़ रहे हैं और कई किलोमीटर पीछा करने के बाद भी उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। बोरियों से लदे इन ट्रकों से आंटा लेने के लिए मारामारी हो रही है।

कंधे पर बोरिया लादे दिख रहे लोग

तस्वीरों में जहां आंटे के लिए मारपीट होती दिखाई दे रहे हैं, तो वहीं कुछ तस्वीरों में देखने को मिल रहा है कि ट्रकों से आंटे की बोरी के लिए हाथों में पैसे लेकर लोग किस तरह टूट पड़े हैं। जिसका मौका लग गया तो वो अपने कंधे पर पर एक नहीं बल्कि दो-दो आंटे की बोरियां ले जाते नजर आ रहा है, तो फिर कोई आंटा न मिलने की वजह से मायूस दिखाई दे रहा है।

परिवार का पेट भरने की जंग

पाकिस्तान में आंटे के अकाल के हालात बयां करती एक और तस्वीर सामने आई है, जिसमें आंटे के लिए लंबी-लंबी लाइनें लगी हुई दिखाई दे रही हैं। घंटों लाइन में लगकर लोग अपने और अपने परिवार का पेट भरने की जद्दोजहद करने में लगे हैं। गौरतलब है कि अभी वित्तीय संकट से जूझ रही पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था का हाल एक साल में ही बेहाल हो गया। जून में देश में बाढ़ के प्रकोप ने भी इकोनामी पर गहरी चोट की थी।

International

लुंबिनी विकास कोष के उपाध्यक्ष ने किया मोरारी बापू का स्वागत

गौतम बुद्ध का दर्शन पाना मेरे लिए सौभाग्य की बात: मोरारी बापू उमेश तिवारी लुंबिनी/नेपाल। नेपाल के लुंबिनी में रामकथा करने के लिए सोमवार को पहुंचे मोरारी बापू ने भगवान गौतम बुद्ध के जन्मस्थली माया देवी मंदिर का दर्शन किया। बुद्ध जन्मस्थली का दर्शन करने के बाद मोरारी बापू ने कहा कि गौतम बुद्ध की […]

Read More
International National

कनाडा की विदेश मंत्री “मेलानी जोली” का भारत दौरा

शाश्वत तिवारी कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली भारत यात्रा के दौरान अपने भारतीय समकक्ष डॉ. एसo जयशंकर के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगी। मंत्रालय की माने तो दोनों विदेश मंत्रियों के बीच एहम मुद्दों को लेकर द्विपक्षीय वार्ता होगी। कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली भारत की दो दिवसीय यात्रा पर सोमवार को नई दिल्ली […]

Read More
International Purvanchal

बौद्ध धर्म से जुड़े संगठनों ने लुंबिनी में राम कथा के विरोध में किया प्रदर्शन

कई संगठनों ने किया रामकथा प्रवचन का समर्थन उमेश तिवारी नौतनवा /महराजगंज। बौद्ध धर्म से जुड़े संगठनों ने नेपाल के लुंबिनी में होने वाले रामकथा प्रवचन के विरोध में प्रदर्शन किया है। रुपन्देही जिले के भैरहवा में सड़क पर उतर कर बौद्ध धर्म के अनुयायियों ने मंगलवार से होने वाले राम कथा के विरोध प्रदशर्न […]

Read More