बेहतर हुई कानून व्यवस्था, अपराधी खौफ़जदा: योगी

  • शहीदों के सम्मान में झुके शीश
  • पुलिस लाइन में आयोजित पुलिस स्मृति दिवस पर शहीदों को श्रद्धांजलि देते जवान
  • मुख्यमंत्री व डीजीपी सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने अमर शहीदों को दी भावभीनी श्रद्धांजलि
  • परिवारीजन किए गए सम्मानित

ए अहमद सौदागर


लखनऊ। पुलिस लाइन में शुक्रवार की सुबह अलग थी। शहीद पुलिसकर्मियों के सम्मान में शस्त्र और शीश दोनों झुके थे।
शोक की धुन बजते ही शहीदों की याद में कई आंखें नम हो गईं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डीजीपी डॉ देवेन्द्र सिंह चौहान, पुलिस कमिश्नर एसबी शिरडकर सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने शहीद स्मारक पर स्थापित की गई शोक पुस्तिका पर पुष्पचक्र चढ़ाकर अमर शहीदों को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

पुलिस लाइन में आयोजित स्मृति दिवस पर आयोजित परेड का नेतृत्व आईपीएस अफसर निखिल पाठक ने अपनी बुलंद आवाज़ में किया। इस बीच शोक पुस्तिका को मंच पर स्थापित किया, जहां डीजीपी ने शहीद हुए पुलिसकर्मियों की संख्या व यूपी में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के नाम पढ़े। इसके बाद शोक पुस्तिका को शहीद स्मारक पर ले जाया गया। परेड कमांडर ने डीजीपी और फिर मुख्यमंत्री को मान प्रणाम भी किया।

सीएम ने पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाइन में शोक परेड की ली सलामी

कहा शहीदों के परिवारीजनों और पुलिस के कल्याण के लिए सरकार कर रही काम

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बेहतर हुई है। अपराधियों में कानून का भय कायम हुआ है। वे अपनी जमानत ख़ारिज कर सलाखों के पीछे गए हैं। कई खूंखार अपराधी मुठभेड़ मारे गए, कई गिरफ्तार होकर पहुंचे सलाखों के पीछे तो कईयों को किया गया जिला बदर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाइन में शोक परेड की सलामी लेने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जबसे सरकार आई है, कानून व्यवस्था को सुधारने के साथ-साथ पुलिस बल को मजबूत करने के लिए अनेक काम किए गए हैं। पुलिस की कार्रवाई में जहां भारी मात्रा में अपराधी मारे गए और घायल भी हुए हैं। उन्होंने कहा कि हमेशा की तरह इस साल भी कई पुलिस जवानों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है। इन बहादुर जवानों ने प्रदेश में शासन और पुलिस विभाग का गौरव बढ़ाया है।

मुख्यमंत्री ने शहीदों के परिवारीजनों से की भेंट

मुख्यमंत्री ने शहीदों के परिवारीजनों से मुलाकात की। इनमें शहीद दरोगा वीरेंद्र नाथ मिश्र, शहीद दरोगा कादिर ख़ां, शहीद मुख्य आरक्षी मुनील कुमार चौबे, शहीद सिपाही सर्वेश कुमार, शहीद सिपाही सुमित कुमार, शहीद सिपाही ललित कुमार व शहीद सिपाही मनोज कुमार के परिवारीजन शामिल थे।

नम आंखों में चमक उठी शहादत

अपनों की याद में छलक पड़ी आंखें

अपनों को खोने का दर्द कोई बांट नहीं सकता। वक्त भी शायद ही उनके जख्मों को भर सके, लेकिन शुक्रवार को शहीदों के सम्मान में जब सैकड़ों शीश झुके तो शहीद हुए पुलिसकर्मियों के परिवारीजनों का सिर फक्र से ऊंचा हो गया। आंखों से झरझर आंसू बह रहे थे पर उनकी नमी से वह गर्व भी थे, जिसे वह ज़िन्दगी भर सीने में समेटे कर रखेगी। शहीद पुलिसकर्मियों की पत्नियों ने एक हाथ से आंसू को पोछते हुए खुद को संभाला और बस इतना ही बोली कि मासूम बच्चे हैं।

मुख्यमंत्री ने हर संभव मदद करने का दिया आश्वासन

कर्तव्य की बलि वेदी पर प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों की पत्नियों को जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हर कदम पर मदद करने का आश्वासन दिया, वहीं पुलिसकर्मियों को कई सौगातें भी दी।

Central UP

धूम धाम से मना BBD के चेयरमैन का जन्मदिन

लखनऊ । आज बीबीडी ग्रुप के अध्यक्ष, चेयरमैन बैडमिन्टन एसोसिएशन उप्र, उपाध्यक्ष बैडमिन्टन एसोसिएशन आफ इण्डिया एवं भारतीय ओलम्पिक एसोसिएशन यूथ कमीशन (आई.इ.ओ.) के चेयरमैन विराज सागर दास का जन्मदिन हर्षेल्लास के साथ उनके निवास स्थान विक्रमादित्य मार्ग पर मनाया गया। सरल स्वभाव एवं सादगी के धनी, खेल प्रेमी, साहित्य में रुचि रखने वाले विराज […]

Read More
Central UP

बच्चों के टीकाकरण को लेकर सर्वे-शत-प्रतिशत बच्चों को लगेगा रूबेला और खसरा टीका

फिरोजाबाद। राज्य में रूबेला और खसरे के बढ़ते खतरे को देखते हुए जनपद में शून्य से पांच वर्ष तक के बच्चों का सर्वे कराकर टीकाकरण कराया जाएगा। शासन के निर्देश के अनुसार खसरा और रूबेला जैसी खतरनाक बीमारियों के खात्मे को लेकर बुधवार से 15 दिसंबर तक सर्वे कार्य कराया जाएगा। CMO डॉ. डीके प्रेमी […]

Read More
Central UP

अपराधियों को नहीं पकड़ पा रहे 280 कैमरे

अब 1000 कैमरे रखेंगे संदिग्ध लोगों पर नज़र लाखों खर्च करने के बावजूद नहीं दिख रहे अपराधी इससे पहले 70 चौराहों पर लगे थे सीसीटीवी कैमरे ए अहमद सौदागर लखनऊ। मार्डन पुलिस कंट्रोल रूम के वजूद में आने के बाद राजधानी पुलिस कई अत्याधुनिक उपकरणों से लैस हुई और द्रष्टि प्रोजेक्ट के तहत 70 चौराहों […]

Read More