संस्कृति एवं संस्कार की कार्यशाला है, विद्या भारती: हेमचंद्र

गोंडा। विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र के संयोजन मे स्थानीय सरस्वती बालिका विद्या मंदिर मालवीय नगर गोंडा के परिसर में क्षेत्रीय संस्कृति महोत्सव का आयोजन संपन्न हुआ। जिसमें विद्या भारती की दृष्टि से सृजित प्रांत अवध नगरीय, अवध ग्रामीण, काशी नगरी, काशी ग्रामीण, गोरक्ष नगरी ,गोरक्ष ग्रामीण, कानपुर नगरीय एवं कानपुर ग्रामीण के प्रांत स्तर पर विजई प्रतिभागियों की विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गई।  जिसमें शिशु एवं बाल वर्ग हेतु कथाकथन, किशोर एवं तरुण वर्ग के लिए आशु भाषण तथा आचार्य पत्र वाचन की प्रतियोगिताएं संपन्न हुई। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर पुष्पार्चन एवं दीप प्रज्वलित कर संगठन मंत्री पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र विद्या भारती हेम चंद्र जी ने किया।

विशिष्ट अतिथि के रूप में सेवा शिक्षा संयोजक रजनीश पाठक, प्रदेश निरीक्षक राजेंद्र बाबू ,राजकुमार सिंह, रामकृपाल पांडेय, सुरेश कुमार सिहं,अवरीष कुमार सहित अन्य उपस्थित रहे। कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में अपना उद्बोधन मार्गदर्शन देते हुए संगठन मंत्री हेमचंद्र ने कहा कि यदि हमें अपने देश की प्रभुता एवं अखंडता को अक्षुण्य रखना है तो सर्वप्रथम हमें अपने संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्धन करना होगा। हमें अपने संस्कृति पर गर्व होना चाहिए।

आज भारत की संस्कृति को विश्व की सर्वश्रेष्ठ संस्कृतियों की संज्ञा दी जाती हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति एवं परंपराओं पर आधारित शिक्षा देने का कार्य विद्या भारती के विद्यालय कर रहे है। उन्होंने कहा कि संस्कृति एवं संस्कार की कार्यशाला है विद्या भारती के विद्यालय। प्रतियोगिता में सफल छात्रों को बधाई देते हुए असफल प्रतिभागियों को असफलता से सीख लेकर आगे बढ़ने की सीख दी। विभिन्न प्रतियोगिताओं के परिणाम की बात करें तो कथाकथन शिशु वर्ग में अवध नगरीय के सूर्यांश शुक्ला प्रथम, काशी नगरीय के अनुभव मिश्रा द्वितीय तथा कानपुर नगरीय की आदित्य अग्निहोत्री को तीसरा स्थान मिला।

बालवर्ग के कथाकथन में गोरक्ष नगरीय की प्राची मिश्रा प्रथम अवध नगरीय के अर्चिता पांडेय द्वितीय तथा अर्पण द्विवेदी काशी नगरीय तीसरे स्थान पर रहे। किशोर वर्ग के आशुभाषण में ओजस पांडेय अवध नगरीय प्रथम, वैभव उपाध्याय गोरखपुर. द्वितीय, प्रज्ञा साहनी गोरक्ष ग्रामीण एवं काशी ग्रामीण की दीप्ति गुप्ता तीसरे स्थान पर सफल हुई। वही तरुण वर्ग आशुभाषण में काशी नगरी अरिमर्दन दुबे प्रथम, कानपुर नगरीय की आर्या वर्मा द्वितीय तथा गोरक्ष नगरीय के मोहम्मद तालिब को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ।

आचार्य पत्र वाचन में अवध नगरीय के श्रीधर मिश्र प्रथम, पल्लवी शुक्ला गोरक्ष नगरी द्वितीय, तथा शशि द्विवेदी काशी नगरी तृतीय स्थान पर रही। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से डॉ वंदना सारस्वत, डॉ दिलीप शुक्ला, राजेंद्र खुराना, अरुण शुक्ला, रामप्रकाश गुप्त, वीरेश्वर चौधरी सहित विभिन्न विद्यालयों के प्रधानाचार्य काली प्रसाद मिश्र,  पुष्पा मिश्रा,मंगली प्रसाद तिवारी, देव प्रकाश मिश्रा सहित अन्य उपस्थित रहे, यह जानकारी प्रचार प्रमुख जितेंद्र पांडेय हलचल ने जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में दी।

Purvanchal

डीएम की अध्यक्षता में प्रधानाचार्य संगोष्ठी टाउन हॉल ऑडिटोरियम में संपन्न

शिक्षा से जुड़े विभिन्न योजनाओं पर डाला गया प्रकाश। नन्हें खांन देवरिया। प्रदेश में शिक्षा क्षेत्र में संचालित सरकार की योजनाओं के संबंध में जन जागरूकता बढ़ाने एवं पठन-पाठन स्तरोन्नयन विषयक पर प्रधानाचार्य संगोष्ठी टाउन हॉल ऑडिटोरियम में जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस दौरान जनपद में हाई स्कूल की परीक्षा […]

Read More
Purvanchal

जिलाधिकारी ने की आरईडी के अवर अभियंता के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की संस्तुति

ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करने के साथ ही विधिक कार्रवाई करने का दिया निर्देश ग्राम पंचायत तेंदुही में आंगनबाड़ी भवन बनाने में अनियमितता की पुष्टि, जाँच समिति की रिपोर्ट में खुलासा नन्हें खांन देवरिया। बैतालपुर विकासखंड के तेंदुही ग्राम पंचायत में मानक विरुद्ध एवं अत्यंत घटिया गुणवत्ता का आंगनबाड़ी भवन बनाने तथा एस्टीमेट के प्रावधानों […]

Read More
Purvanchal

वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम की तैयारी जोरों पर

जिलाधिकारी नियमित कर रहे हैं अभियान की समीक्षा नर्सरी में 33,03,774 वृक्षारोपण के लक्ष्य के सापेक्ष 41,34,804 पौधे उपलब्ध नन्हें खांन देवरिया। 1 जुलाई को आयोजित होने वाले वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए तैयारियां अंतिम दौर में है। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए नियमित समीक्षा कर अधिकारियों […]

Read More