#get up

Litreture

कविता: “का वर्षा जब कृषि सुखाने”

समय का महत्व जानना है तो समाचार पत्र से पूछ लीजिये, जिसका प्रातः इंतज़ार होता है, शाम तक रद्दी के ढेर में जाता है। उठो, जागो, तब तक मत रुको, जब तक लक्ष्य प्राप्त न हो जाए, जीना, मरना समय का खेल है, खेल समझ ले वो आबाद होता है। दुनिया की किसी चीज़ की […]

Read More
Litreture

ओशो वाणी जानिए क्या होता है ढाई आखर के प्रेम का मर्म

छोटा सा ‘प्रेम’ शब्द है–ढ़ाई आखर प्रेम के… कोई बड़ा शब्द नहीं है, छोटा सा। ‘इक लफ्जे-मोहब्बत का अदना ये फसाना है!’ उसकी छोटी सी कहानी है, मगर उससे बड़ी और कोई कहानी नहीं। उस छोटे से शब्द में सब समा गया है–सारे शास्त्र! कबीर ने कहाः ढाई आखर प्रेम के, पढ़ै सो पंडित होय। […]

Read More