डाकघरों के निजीकरण का प्रस्ताव नहीं, दो कर्मचारी संघों की मान्यता रद्द

नई दिल्ली। सरकार ने आज स्पष्ट किया कि डाकघरों के निगमीकरण या निजीकरण का कोई प्रस्ताव नहीं है और इस संबंध में कुछ कर्मचारी संघ गलत और भ्रामक जानकारी दे रहे हैं। इसबीच सरकार ने अनियमित फंडिंग और कई प्रावधानों के उल्लंघन के आरोप में डाक विभाग में कार्यरत कर्मचारियों के दो संघों की मान्यता रद्द कर दी है। विभाग ने आज यहां जारी बयान में कहा कि डाकघरों का निगमीकरण या निजीकरण का कोई प्रस्ताव नहीं है। डाक विभाग के निजीकरण/निगमीकरण के संबंध में कुछ कर्मचारी संघ गैर-तथ्यात्मक और भ्रामक बयान दे रहे हैं। इसके उलट, सरकार ने पिछले कुछ वर्षों में ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल बैंकिंग और सरकारी सेवाओं के प्रसार के लिए डाक नेटवर्क का उपयोग किया है। इसलिए, पिछले कुछ वर्षों के दौरान डाकघरों के नेटवर्क का लगातार विस्तार हुआ और उसमें मजबूती आई है।

उसने कहा कि कर्मचारी संघ हमेशा से डाक विभाग का अभिन्न अंग रहे हैं। ये संघ अपने सदस्यों के सेवा संबंधी साझा हितों को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। केन्द्रीय सिविल सेवा (कर्मचारी संघों की मान्यता) नियम – CCS (RSA) नियम, 1993 संघों को मान्यता प्रदान करते हैं। CCS (RSA) नियम, 1993 के सभी प्रावधानों का पालन करना सभी मान्यता प्राप्त संघों के लिए आवश्यक है।

दो संघों – अखिल भारतीय डाक कर्मचारी संघ समूह ‘सी’ और राष्ट्रीय डाक कर्मचारी संघ (NFPE)- द्वारा इन नियमों का कथित उल्लंघन किए जाने के संबंध में एक शिकायत प्राप्त हुई थी। लगाए गए आरोप इन दोनों यूनियनों के सदस्यों से जुटाई गई धनराशि के अनियमित उपयोग से संबंधित थे। प्रक्रिया का पालन करते हुए उक्त शिकायतों के संबंध में एक विस्तृत जांच की गई। संघ को अपना पक्ष रखने का अवसर दिया गया। जांच रिपोर्ट में संघ द्वारा धन के उपयोग में बरती गई विभिन्न अनियमितताओं की पहचान की गई, जो CCS (RSA) नियम, 1993 के प्रावधानों का सीधा उल्लंघन कर रहे थे। इन नियमों के तहत कई प्रावधानों का उल्लंघन विभिन्न पहलुओं के संदर्भ में सेवा संघों के उद्देश्यों के गैर-अनुपालन जैसा था। इसलिए प्रक्रिया का पालन करते हुए, डाक विभाग ने 25 अप्रैल, 2023 से अखिल भारतीय डाक कर्मचारी संघ समूह ‘सी’ और राष्ट्रीय डाक कर्मचारी संघ (NFPE) की मान्यता वापस ले ली है।(वार्ता)

Biz News Business

भारत-नेपाल सीमा पर लाखों रुपये मूल्य की तस्करी का 102 बोरी चीनी लहसुन बरामद, तस्कर फरार

उमेश चन्द्र त्रिपाठी निचलौल महराजगंज। नेपाल सीमा पर मंगलवार को निचलौल कस्टम और एसएसबी की संयुक्त टीम ने मुखबिर की सूचना पर तस्करी कर भारत लाई जा रही एक ट्रॉली पर लदी 102 बोरी चीनी लहसुन जब्त की हालांकि तस्करी के आरोपी फरार हो गए। टीम लहसुन और वाहन कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई […]

Read More
Business

वालमार्ट वृद्धि ने 58,000 से ज्यादा एमएसएमई को किया सशक्त: डिजिटल प्रशिक्षण, मार्केटप्लेस एवं ग्राहकों तक आसान पहुंच से कारोबार को मिली मजबूती

वालमार्ट वृद्धि के माध्यम से 58,000 से ज्यादा एमएसएमई को डिजिटल प्रशिक्षण प्राप्त हुआ है, जिससे उन्हें ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों माध्यमों पर कारोबार के विस्तार एवं विकास में मदद मिली है 14,500 से ज्यादा एमएसएमई फ्लिपकार्ट मार्केटप्लेस के माध्यम से खिलौने, कपड़े, घरेलू उत्पाद, हस्तशिल्प और पर्यावरण के अनुकूल (इको फ्रेंडली) ऑफिस एवं होम […]

Read More
Biz News Business

डिजिटल पेमेंट सर्विस को बेहतर बनाने के लिए विदेश मंत्रालय _एसबीआई के बीच करार

  (रिपोर्ट. शाश्वत तिवारी) नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय और भारतीय स्टेट बैंक (NSVACBAI) के बीच भारतीय प्रवासी श्रमिकों, भर्ती एजेंटों (RA) और ई-माइग्रेट पोर्टल के अन्य यूजर्स को एसबीआईई-पे नामक भुगतान गेटवे के माध्यम से एसबीआई की अतिरिक्त डिजिटल भुगतान सेवाएं प्रदान करने के लिए एक समझौता ज्ञापन (MOU) पर हस्ताक्षर किए गए हैं। विदेश […]

Read More