दुकानों पर घटती ग्राहकों की संख्या,बढ़ते आनलाइन व्यापार के कारणों पर,अध्यक्ष व्यापार मंडल ने विमर्श कर चिंता जताई

विजय श्रीवास्तव

लखनऊ। बाजार के दुकानों पर अच्छे ग्राहकों की घटती संख्या पर उतरठिया उद्योग व्यापार मंडल जो अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल से संबद्ध है के जिला अध्यक्ष ललित सक्सेना ने चिंता जताते हुए इसके कारण निवारण पर प्रकाश डाला, जिला अध्यक्ष ने लिखित बयान में कहा आन लाइन व्यापार के बड़े घरों  में तेजी से फलने फूलने के कई कारण हैं , घर बैठे आन लाईन खरीदारी, देखा देखी खरीदारी, नेट बैंकिंग का बढ़ता क्रेज, समय की बचत व बाजारों में जाम से मुक्ति,की वजह से सरकारी सेवा में लगे लोग व बड़े घरों की महिलाओं में आनलाइन का  क्रेज बढ़ा है।

उन्होंने कहा इसका एक कारण यह भी है बाजार के दुकान दार भाई अपने दुकानों के आगे तख्त डालकर रोड के पटरियों तक दुकान बढ़ा देते हैं जिससे अच्छे ग्राहकों को गाडी खडाकर परिवार साथ खरीदारी करने में असुविधा होती है वहीं ग्राहको के साथ कुछ दुकानदारों द्वारा वेरूखी पूर्वक लेन देन करना, खराब सामान बदलने में आनाकानी करना, रेट से अधिक मूल्य वसूलना आदि की शिकायतें भी ग्राहकों  से मिलती रहती हैं, जिसपर समय समय पर ऐसे लोगों पर नियमानुसार कार्रवाई भी की जाती है । ग्राहकों को बाजार से संतुष्टी मिलेगी तो वह आन लाइन खरीदारी नहीं करेगा। उन्होंने अनुचित मांग व व्योहार करने वाले दुकान दारों की शिकायत व्यापार मंडल से करने को कहा।

उक्त संबंध में वृंदावन सेक्टर दो की 50 वर्षीय गृहणी मोहिता श्रीवास्तव ने कहा आनलाइन खरीदारी मैंने अपने बहू डा0 अंशू श्रीवास्तव की देखा देखी शौकियन करना शुरू की थी पर अब मैंने आनलाईन खरीदारी बंद कर दी है। क्योंकि सामानों की गुणवत्ता ठीक नहीं होती है खराब सामान की वापसी पर वापसी चार्ज कंपनियां काट लेती हैं। मुहल्ले की दर्जनों गृहणियों ने कमोवेश यही बात दोहराई। जाब करने वाली पढ़ी लिखी दुबग्गा निवासी महिला अनू जैसवाल ने कहा हमने आन लाइन हैंड बैग का फोटो व रेट देखकर आर्डर किया था पर डिलीवरी सडे व खराब बैग का आया मैंने वापस किया तो वापसी चार्ज काट लिया गया। अब हमने आनलाईन खरीदारी से तोबा कर ली है।

लोगों के आनलाईन खरीदारी पर व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप वंसल ने कहा हम व्यापारी गण इसके कारण निवारण पर मंथन कर रहे हैं इस समस्या के निराकरण पर हर उचित कदम उठाया जा रहा है ।अध्यक्ष ललित सक्सेना ने सभी दुकानदार भाइयों से अनुरोध किया  कि आप का अपना दुकान  हो या महंगी पगड़ी देकर किराए पर दुकान लिया होआपकी नौकरी खेती-बाड़ी रोजी रोटी सब कुछ दुकान ही है इसी की कमाई से आपके परिवार का खर्चा, दुकान किराया,बच्चों की पढ़ाई लिखाई, शौक सान, माता पिता का दवा तीर्थ यात्रा चारों धाम सब कुछ इसी से चलता है। आप दुकान के प्रति शालीन संजीदा रहे उचित मूल्य रखें, मधुर वाणी, चेहरे पर मुस्कुराहट रखते हुए व्यापारिक नियमों का सही से पालन करें , फिर विश्वास रखें जिस तेजी से लोगों कीआनलाईन खरीदारी बढ़ी है उसी तरह आन लाईन का क्रेज धीरे धीरे घटेगा । अंत में अध्यक्ष ने कार्यकारिणी के सभी दाधिकारियों,सदस्यों , व्यापारियों, मीडिया जनों सहित देशवासियों को शुभ धनतेरस दीपावली, भैया दूज की हार्दिक बधाई शुभकामनाएं दी।

Biz News Business

भारत-नेपाल सीमा पर लाखों रुपये मूल्य की तस्करी का 102 बोरी चीनी लहसुन बरामद, तस्कर फरार

उमेश चन्द्र त्रिपाठी निचलौल महराजगंज। नेपाल सीमा पर मंगलवार को निचलौल कस्टम और एसएसबी की संयुक्त टीम ने मुखबिर की सूचना पर तस्करी कर भारत लाई जा रही एक ट्रॉली पर लदी 102 बोरी चीनी लहसुन जब्त की हालांकि तस्करी के आरोपी फरार हो गए। टीम लहसुन और वाहन कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई […]

Read More
Business

वालमार्ट वृद्धि ने 58,000 से ज्यादा एमएसएमई को किया सशक्त: डिजिटल प्रशिक्षण, मार्केटप्लेस एवं ग्राहकों तक आसान पहुंच से कारोबार को मिली मजबूती

वालमार्ट वृद्धि के माध्यम से 58,000 से ज्यादा एमएसएमई को डिजिटल प्रशिक्षण प्राप्त हुआ है, जिससे उन्हें ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों माध्यमों पर कारोबार के विस्तार एवं विकास में मदद मिली है 14,500 से ज्यादा एमएसएमई फ्लिपकार्ट मार्केटप्लेस के माध्यम से खिलौने, कपड़े, घरेलू उत्पाद, हस्तशिल्प और पर्यावरण के अनुकूल (इको फ्रेंडली) ऑफिस एवं होम […]

Read More
Biz News Business

डिजिटल पेमेंट सर्विस को बेहतर बनाने के लिए विदेश मंत्रालय _एसबीआई के बीच करार

  (रिपोर्ट. शाश्वत तिवारी) नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय और भारतीय स्टेट बैंक (NSVACBAI) के बीच भारतीय प्रवासी श्रमिकों, भर्ती एजेंटों (RA) और ई-माइग्रेट पोर्टल के अन्य यूजर्स को एसबीआईई-पे नामक भुगतान गेटवे के माध्यम से एसबीआई की अतिरिक्त डिजिटल भुगतान सेवाएं प्रदान करने के लिए एक समझौता ज्ञापन (MOU) पर हस्ताक्षर किए गए हैं। विदेश […]

Read More