भाजपा के कई दिग्गज सांसदों का कट सकता टिकट!

  • दर्जनों बड़े नेता टिकट को लेकर पशोपेश में पर
  • किसी भी समय जारी हो सकती भाजपा की तीसरी सूची

लखनऊ। लोकसभा चुनाव का एलान होते ही राजनीतिक दलों के साथ नेताओं में हलचल मच गई है। खासतौर पर भाजपा प्रत्याशियों की तीसरी सूची के इंतजार में है। तीसरी सूची किसी भी समय जारी हो सकती है। भाजपा की तीसरी सूची में कई दिग्गज निवर्तमान सांसदों के टिकट काटे जाने की संभावना जताई जा रही है। इससे टिकट के दावेदार नेताओं की धड़कनें बढ़ने के साथ नींद उड़ी हुई है। पिछले चुनाव में जीत हासिल करने वाले कई दिग्गज भाजपा नेताओं को टिकट मिलेगा या नहीं इस पर संशय बना हुआ है।

भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति प्रत्याशियों की तीसरी सूची में यूपी की करीब दो दर्जन सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा हो सकती हैं।टिकट की रेस में जुटे कई नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए है। भाजपा ने दूसरी सूची में यूपी की 80 सीटों के लिए 56 प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इसमें 51सीटों पर भाजपा और पांच सीटों पर सहयोगी दलों को दिए जाने पर सहमति बनी थी। इस आधार पर सहयोगी दलों ने अपने कोटे की सीटों पर प्रत्याशियों के नाम करीब-करीब तय कर दिए हैं। इस प्रकार 56 सीटों पर एनडीए के प्रत्याशी लगभग तय हैं। बिजनौर, बागपत, घोसी, मिर्जापुर व राबर्ट्सगंज ये पांच सीटें भाजपा ने तीन सहयोगी दलों को दी है।

मिली जानिकारी के मुताबिक पिछले चुनाव में जीतने व चुनाव लड़कर हारने वाले प्रत्याशियों को टिकट देने से पहले भाजपा नेतृत्व गहन मंथन में जुटा हुआ है। पहली सूची में घोषित 51 प्रत्याशियों के नामों को देखें तो भाजपा ने पुराने चेहरों पर ही भरोसा जताया है। बची हुई सीटों पर भी भाजपा यदि उसी सोच से आगे बढ़ी तो कमोवेश सभी सीटिंग सांसदों को टिकट मिल जाएगा।

प्रदेश की जिन दो दर्जन सीटों के लिए प्रत्याशियों की सूची आनी बाकी है। उन सीटों पर कई बड़े नेताओं की दावेदारी पर संशय की स्थिति बनी हुई है। इन सीटों पर रीता बहुगुणा जोशी, वरुण गांधी, मेनका गांधी, जनरल वीके सिंह, बृजभूषण शरण सिंह, रमापति राम त्रिपाठी, संघमित्रा मौर्य, सत्यदेव पचौरी, संतोष गंगवार के नाम शामिल है। पार्टी के राजनीतिक जानकारों की माने तो इसमें कई दिग्गजों के टिकट काटे जा सकते है।

इन दो दर्जन सीटों पर घोषित होंगे प्रत्याशी

मुरादाबाद, गाजियाबाद, अलीगढ़, मेरठ, हाथरस, फिरोजाबाद, बरेली, पीलीभीत, सुल्तानपुर, गोंडा, बदायूं, रायबरेली, कौशांबी, प्रयागराज, कैसरगंज, कानपुर, गाजीपुर,मछली शहर, बलिया, बहराइच, भदोही, देवरिया, मैनपुरी तथा फूलपुर शामिल हैं।

Raj Dharm UP

भगवान बुद्ध की असाधारण जीवन यात्रा के संस्मरणों को प्रदर्शित करेगी योगी सरकार

–उत्तर प्रदेश के बौद्ध विरासत स्थलों के माध्यम से भगवान बुद्ध की स्मृति में ‘द बोधि यात्रा 2024’ का नई दिल्ली में होगा आयोजन -बौद्ध तीर्थयात्रियों को उत्तर प्रदेश में आकर्षित करने की मंशा से एक दिनी इंटरैक्टिव व कल्चरल सेशन का हो रहा है आयोजन -सीएम योगी की मंशा अनुसार उ.प्र पर्यटन विभाग ने […]

Read More
Raj Dharm UP

कृषक उत्पादक सेल गठित करेगी योगी सरकार, मिशन मोड में चलाएगी अभियान

-उत्तर प्रदेश में सक्रिय किसान उत्पादक संगठनों को सुदृढ़ करने और उन्हें ओएनडीसी तथा ई-नाम से जोड़ने की प्रक्रिया को मिलेगी गति -सीएम योगी की मंशा के अनुरूप तैयार की गई विस्तृत कार्ययोजना को किया गया क्रियान्वित, 3 महीने बड़े स्तर पर आयोजित होगा अभियान -एफपीओ को इक्विटी ग्रांट, इनपुट लाइसेंस, बीज लाइसेंस, एनएससी सीड […]

Read More
Raj Dharm UP

‘राष्ट्र प्रेरणा स्थल’ के निर्माण व विकास कार्यों को गति देगी योगी सरकार

-लखनऊ के बसंत कुंज योजना सेक्टर-जे में गोमती नदी किनारे मास्टर प्लान ग्रीन में राष्ट्र प्रेरणा स्थल परियोजना को दिया जाएगा मूर्त रूप -सीएम योगी की मंशा अनुसार परियोजना को पूर्ण करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना को क्रियान्वित करने की प्रक्रिया हुई शुरू -लखनऊ विकास प्राधिकरण को दिया गया निर्देश, निर्माण व विकास कार्यों को […]

Read More