हर पार्टी में दावेदारों की गणेश परिक्रमा तेज

लखनऊ। अलीगढ़ लोकसभा सीट पर अभी तक किसी भी पार्टी ने अपना प्रत्याशी घोषित नहीं किया है। BJP, सपा और बसपा के टिकट पाने के लिए दावेदार दिल्ली के चक्कर काट रहे हैं। BJP की पहली लिस्ट के बाद सभी दलों में बैचेनी बढ़ गई है। लोकसभा चुनाव की घोषणा कभी भी हो सकती है। मगर अभी तक किसी भी दल में अलीगढ़ सीट पर दावेदारों की घोषणा न होना असमंजस बढ़ा रहा है। दावेदारों के स्तर से गणेश परिक्रमा का क्रम जारी है। सबसे ज्यादा बेचैन BJP व सपा के दावेदार हैं। बसपा में अभी तक कोई महत्वपूर्ण नाम सामने नहीं आया है। हालांकि, सभी दलों के सूत्र बताते हैं कि बहुत जल्द घोषणा होगी। देरी अगर होगी तो बसपा के स्तर से ही हो सकती है।

भाजपा : BJP संगठन द्वारा प्रत्याशियों की पहली सूची जारी होने के बाद अलीगढ़ के दावेदारों की शीर्ष नेताओं के आगे पीछे गणेश परिक्रमा और तेज हो गई है। इसमें सभी अपने अपने स्तर से प्रयास कर रहे हैं। BJP में मौजूदा सांसद सतीश गौतम के अलावा विधायक अनिल पाराशर, पूर्व सांसद शीला गौतम का परिवार, BJP के वरिष्ठ नेता व प्रदेश उपाध्यक्ष दिनेश शर्मा, राजेश भारद्वाज, BJP महानगर अध्यक्ष इंजी.राजीव शर्मा, डॉ. संजय भार्गव, BJP नेता कुशलपाल सिंह, राहुल सारस्वत राजा, प्रदेश उपाध्यक्ष बृजबहादुर, अनूप शर्मा, डॉ.निशित शर्मा आदि प्रमुख दावेदार हैं। इन सभी के स्तर से अपने अपने प्रयास जारी हैं। इधर, पहली सूची जारी होने के बाद दावेदारों ने दिल्ली डेरा डाल दिया है और अपने अपने स्तर से अपने अपने संपर्क के शीर्ष नेताओं की गणेश परिक्रमा शुरू कर दी है। दो मार्च को सांसद के अलावा महानगर अध्यक्ष व राहुल सारस्वत आदि ने दिल्ली में डेरा डाल रखा था। किसके प्रयास कितने सफल होंगे, ये तो आने वाली दूसरी सूची तय करेगी। मगर इतना जरूर है कि अलीगढ़ सीट बेहद हॉट बन गई है।

सपा : अगर सपा में बात करें तो यहां खुद सपा के स्तर से पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक को यह सीट ऑफर की गई है। इसके अलावा स्थानीय स्तर पर पूर्व सांसद चौ.बिजेंद्र सिंह, पूर्व विधायक ठा.राकेश सिंह, भगवान शर्मा गुड्डू, पूर्व ब्लाक प्रमुख सुमंत किशोर सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष अश्वनी शर्मा, मौजूदा जिलाध्यक्ष लक्ष्मी धनगर आदि के नाम दावेदारों में प्रमुख हैं। इन सभी के स्तर से अपने अपने प्रयास किया जा रहे हैं।

बसपा : बसपा की बात करें तो कोई प्रमुख नाम सामने नहीं आया है। हां, पार्टी खुद अपने स्तर से कई नामों पर विचार कर रही है। पूर्व मेयर मो.फुरकान, सलमान शाहिद के अपने अपने प्रयास हैं। बाकी कुछ नामों पर पार्टी के स्तर से खुद प्रयास किया जा रहा है।

Raj Dharm UP

राजधानी में बदमाश बेखौफ, अपराध बेकाबू-लखनऊ के गाजीपुर में पूर्व आईएएस की पत्नी की हत्या

लूट के विरोध में महिला की हत्या किए जाने की आंशका  घर में घुसकर बेरहमी से किया कत्ल, गले पर कसाव के निशान पति के घर लौटने पर हुई घटना की जानकारी, इलाके में सनसनी, पुलिस मौके पर ए अहमद सौदागर लखनऊ। राजधानी में बुजुर्ग अपने ही घरों में महफूज नहीं हैं।बदमाशों ने एक बार […]

Read More
Raj Dharm UP

अमीनाबाद में व्यापारियों ने किया योगी का स्वागत

लखनऊ। अमीनाबाद सभा में पहुंचे योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करते अमीनाबाद संघर्ष समिति के सदस्य अमीनाबाद में राजनाथ सिंह के समर्थन में सभा में शामिल हुए उतर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ  से मिले अमीनाबाद संघर्ष समिति के पदाधिकारियों के अनुसार योगी आदित्यनाथ से मिलकर पदाधिकारियों ने खुशी जाहिर की व अमीनाबाद आने पर […]

Read More
Raj Dharm UP

चार जून की प्रतीक्षा, माफिया की उसके बाद नहीं होगी रक्षा

सीएम योगी का बड़ा ऐलान, कहा- चार जून के बाद माफिया मुक्त राज्य घोषित होगा उत्तर प्रदेश अब मटियामेट करने की कसम खा ली है यूपी के सीएम ने, जो कहते हैं वो कर दिखाते हैं योगी ए. अहमद सौदागर लखनऊ। योगी आदित्यनाथ पर विपक्षी दल लगातार आरोप लगाते रहे कि उन्होंने अपने सजातीय अपराधियों […]

Read More