संजय बिश्नोई की फिल्म संतोष का काँस फिल्म फेस्टिवल में हुआ ऑफिसियल सिलेक्शन

एमी-विनिंग  सीरीज़ दिल्ली क्राइम और 12वीं फेल का हिस्सा बनने के बाद, संजय बिश्नोई ने अपने नाम में एक और उपलब्धि जोड़ ली है हालही में चल रहे 77वें कान्स फिल्म फेस्टिवल में उन्हें  भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। अभिनेता की फिल्म संतोष को अन सर्टन रिगार्ड कैटेगरी  में प्रतिष्ठित मंच पर प्रदर्शित किया जा रहा है।

अपने   उत्साह को  साझा करते हुए, संजय कहते हैं, “मैं इन प्रोजेक्ट्स का हिस्सा बनकर को  बहुत ही  भाग्यशाली महसूस  कर रहा हूं, जिन्होंने मुझे 2019 में सनडांस जाने का मौका दिया  और दिल्ली क्राइम जैसे वेब सीरीज़  के जरिये  भारत के लिए पहली एमी हासिल करने की अनुमति दी। और अब संतोष  कान्स फिल्म फेस्टिवल 2024 में टॉप कैटेगरी  में से एक में हैं। इससे हमें व्यापक दर्शकों तक पहुंचने और प्रोजेक्ट के लिए जागरूकता बढ़ाने का अवसर मिलता है। मेरे जैसा अभिनेता, जो अपने करियर के शुरुआती चरण में है, उन्हें  इस तरह की मान्यता और सम्मान से काफी फायदा होता है। मुझे उम्मीद है कि यह अधिक अवसरों और सार्थक कार्यों में तब्दील होगा, क्योंकि यही इस सब की यात्रा और उद्देश्य है।”

 

संतोष के बारे में  वे कहते हैं, “संतोष एक महिला की कहानी है जो  अपराध और जाति-आधारित भेदभाव की जटिल दुनिया में कैसे   सर्वाइव करती है । मैं शहाना गोस्वामी और सुनीता राजवार के साथ एक अहम् भूमिका निभा रहा हू। यह  कहने की जरूरत नहीं है कि यह एक अद्भुत फिल्म है और कान्स में इसका आधिकारिक चयन इस बात की  पुष्टि करती  है। मैं आने वाले महीनों में इस फिल्म के सफर  को लेकर वास्तव में उत्साहित हूं।”

संजय फिल्म फेस्टिवल में अपने समय का भरपूर उपयोग कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा, “मैं फ्रांसिस फोर्ड कोपोला  (Francis Ford Coppolla’s )की मेगालोपोलिस (Megalopolis) , योर्गोस लैंथिमोस (Yorgos Lanthimos) की काइंड ऑफ काइंडनेस और भारत के  सभी आधिकारिक चयन – ऑल द लाइट वी इमेजिन, द शेमलेस और ब्रिलियंट  राधिका आप्टे की  सिस्टर मिडनाइट देखने की पूरी कोशिश कर रहा हूं।”

उन्हें स्टैंड्स से मेगालोपोलिस (Megalopolis)  के रेड कार्पेट को देखने का मौका मिला। “मैं कोपोला (Coppola ) का प्रशंसक हूं और एडम ड्राइवर (Adam Driver) को देखना अद्भुत था। मैंने कान्स में मंथन स्क्रीनिंग के दौरान   हमारे अपने नसीरुद्दीन शाह को भी देखा। वह भारत और दुनिया भर में किसी भी अभिनेता के लिए प्रेरणा हैं। मैं इस खूबसूरत महोत्सव में सभी अद्भुत कलाकारों को देखने और अद्भुत सिनेमा का अनुभव लेने के लिए लगातार प्रयासरत हूं।”

Entertainment

लाडो फेम निर्देशक से खास बातचीत

अब बॉलीवुड में दिखने लगा है गोरखपुर का जलवा सबसे कम उम्र के निर्देशक , एडिटर और सिनेमाटोग्राफर हैं प्रकर्ष बॉलीवुड में गोरखपुर का जलवा दिखने लगा है। अभी तक म्यूजिक विडिओ में धूम मचा रहे सबसे कम उम्र के निर्देशक, सिनेमाटोग्राफर और एडिटर शॉट बाई इन्फ्लिक्ट यानी प्रकर्ष तिवारी ने ब्लैक होल मीडिया के […]

Read More
Entertainment

‘स्कंदा’ के वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर में मनाइए जबर्दस्त एक्शन का जश्न, आज ज़ी सिनेमा पर

  जब पर्दे पर जबर्दस्त एक्शन और रोमांच का जादू चलता है तो दर्शकों को मिलता है ढेर सारा यादगार मनोरंजन! और फिल्म ‘स्कंदा’ इसी बात की एक सटीक मिसाल है। तो आप भी जबर्दस्त एक्शन, झूमने लायक डांस, दमदार परफॉर्मेंस और रोमांच से भरी कहानी का मजा लेने के लिए तैयार हो जाएगी क्योंकि […]

Read More
Entertainment

एक बार और चोट पहुँचाने की कोशिश की आमिर खान ने… ‘महाराज’ को बनाया माध्यम

वैष्णव सम्प्रदाय और सनातन धर्म के ऊपर कुठाराघात है फ़िल्म “महाराज” केवल हिंदू समाज को बदनाम करने के लिए बनाई गई फ़िल्म, नहीं होना चाहिए- संजय भट्ट भारतीय फिल्म जगत में कुछ लोग विवादों में जान-बूझकर बने रहना चाहते हैं। उनको लगता है कि विवादों के बगैर उनको शोहरत हासिल नहीं हो सकती। कुछ लोग […]

Read More