चुनाव आयोग की सख्ती: आपराधिक प्रवृत्ति और बाहुबलियों पर पुलिस की रहेगी ख़ास नजर

ए अहमद सौदागर

लखनऊ। पहले की तरह नहीं अब 2024 लोकसभा चुनाव आपराधिक प्रवृत्ति और बाहुबलियों पर पुलिस की खास नजर रहेगी। इनसे से निपटने के लिए जिलों के जिलाधिकारी और कप्तानों को सख्त निर्देश दिए गए हैं। बताया जा रहा है कि इन पर नकेल कसने और नजर रखने के लिए हर एक जिले में एक कंट्रोल रूम में स्थापित करने के लिए भी कहा गया है, जो 24 घंटे ऐसी सभी गतिविधियों पर नजर रखेंगे।

वहीं, चुनाव में बांटे जाने वाले धन, शराब और उपहारों से निपटने के लिए प्रत्येक जिलों में आईटी, सेल्स टैक्स सहित दूसरी एजेंसियों की टीमें भी तैनात करने के लिए कहा गया है। इन्हें संयुक्त रूप से काम करने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही फेंक व झूठी सूचनाओं से निपटने की भी सख्त तैयारी की गई है।

आयोग ने अब ऐसी सभी सूचनाओं को सार्वजनिक करने का भी फैसला लिया है। वहीं कुछ दशक पहले के चुनावों पर नजर डालें तो आपराधिक प्रवृत्ति और बाहुबली सलाखों के पीछे रहकर अपनी ताकत दिखा मतदाताओं को अपने पाले में लेकर माननीय बन संसद और विधानसभा की दहलीज पर कदम रख वाहवाही बटोरने में कामयाब हो जाते थे, लेकिन गौर करें तो अब आपराधिक प्रवृत्ति और बाहुबलियों की दबंगई नहीं चलेगी। चुनाव आयोग ने ऐसी सख्ती अख्तियार किया है कि वे इस बार बौने नजर आ रहे हैं।

Uttar Pradesh

नाबालिग चला रहे ई रिक्शा व आटो

देवांश जायसवाल महराजगंज। नाबालिग आटो और ई रिक्शा चालकों की वजह से दुर्घटना के ग्राफ में इजाफा हो रहा है। मजे की बात है पुलिस और आरटीओ महकमा इस ओर से आंख बंद किए हुए हैं। इससे भी अचरज की बात यह है कि संबंधित विभाग नाबालिगों को धड़ल्ले से ड्रायबरी लाइसेंस जारी कर रहा […]

Read More
Purvanchal

जवानों और किसानों की हितैषी नहीं है भाजपा: वीरेंद्र

नया लुक संवाददाता  महराजगंज। लोकसभा के इस चुनाव में पहली बार देखा जा रहा है कि उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) केवल धर्म और सांप्रदाय के नाम पर चुनाव लड़ रही है। साल 2014 में इस पार्टी का नारा था अच्छे दिन आएंगे लेकिन दस साल के इनके […]

Read More
Purvanchal

Big News: ऐशबाग से बढनी होकर गोरखपुर जाने वाली इंटरसिटी एक्प्रेस के इंजन में लगी आग

आग पर काबू मिला, ग्रामीणों और ड्राइवर की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा आखिरी चरण के वोटिंग के लिए घर की ओर लौट रहे थे अधिकांश लोग विजय श्रीवास्तव लखनऊ। भगवान का शुक्र है की यह घटना बड़ा हादसा में परिवर्तित नहीं हुआ। रविवार का दिन था और तारीख थी 26 मई 2024 की। ढाई […]

Read More