झारखंड: कांग्रेस विधायक के 17 ठिकानों पर ED का छापा, मिले अहम दस्तावेज़,

  • पूर्व CM हेमन्त सोरेन के बाद अब कांग्रेस नेता की बढ़ेगी मुश्किलें

नया लुक ब्यूरो

रांची। हजारीबाग में प्रतिबंधित प्रकृति की जमीन की अवैध तरीके से हड़पने की कोशिश, रंगदारी, बालू तस्करी सहित करीब आधा दर्जन मामलों में ED ने बड़कागांव से कांग्रेस की विधायक अंबा प्रसाद व उनसे जुड़े 17 ठिकानों पर मंगलवार को छापामारी की।इस छापामारी में ED को कुछ लोगों के यहां से करीब दस लाख रुपये नकदी,भारी मात्रा में जमीन से जुड़े दस्तावेज, जमीन की खरीद-बिक्री व काले धन के निवेश से संबंधित दस्तावेज मिले हैं। ED सभी बरामदगी को मनी लॉन्ड्रिंग के बिंदु पर देख रही है।

राँची में सेना के उपयोग वाली 4.55 एकड़ जमीन की अवैध तरीके से खरीद-बिक्री मामले में शुरू हुई ED की जांच का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। इस जमीन की जांच के क्रम में ED की टीम ने चेशायर होम रोड की एक एकड़ जमीन की अवैध तरीके से खरीद-बिक्री मामले का भी भंडाफोड़ किया।जांच आगे बढ़ी और इसकी जांच की आंच तत्कालीन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन तक पहुंची और वे गिरफ्तार किए गए। अब जांच का दायरा राँची से निकलकर हजारीबाग भी पहुंच गया है, जहां बड़कागांव से कांग्रेस की विधायक अंबा प्रसाद, उनके पिता पूर्व मंत्री योगेंद्र साव आदि पर भी हजारीबाग में जमीन हड़पने की कोशिश करने का खुलासा हो चुका है।

हजारीबाग में जमीन हड़पने का क्या है मामला

हजारीबाग शहर के हुरहुरू स्थित जिस जमीन को लेकर गत वर्ष बवाल मचा था, वह जमीन खासमहाल की जमीन थी। उसका मौजा कैंटोनमेंट, थाना नंबर 157, भवन पट्टा होल्डिंग नंबर 302, प्लाट संख्या 872, 1235, 873, 1336, 893 व 1337 है। इस जमीन का कुल रकबा 25 डिसमिल, 15 डिसमिल व दस डिसमिल यानी कुल 50 डिसमिल है। इस 50 डिसमिल जमीन के आधे हिस्से यानी 25 डिसमिल पर चारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा था, जिसका विरोध हुआ और प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद गत वर्ष 11 नवंबर 2023 को चारदीवारी निर्माण बंद करवा दिया गया था।इस मामले में जांच के क्रम में प्रशासन ने योगेंद्र साव के साथ-साथ लीजधारक को भी नोटिस भेजा था। जमीन का लीज मोहम्मद अहसान के नाम से था, जो 31 मार्च 2008 को समाप्त हो गया था। उक्त जमीन सरकारी है। जांच में उक्त जमीन सरकारी पाए जाने के बाद प्रशासन ने उसे अतिक्रमण मुक्त कराया था।

पतरातू में अंबा प्रसाद व उनके पिता पर आया था आरोप

ED ने जमीन घोटाले के विभिन्न मामलों में कांग्रेस विधायक के ठिकानों पर दबिश दी थी। इनमें पतरातू के तालाटांड़ निवासी सरिता देवी ने भी अंबा प्रसाद व उनके पिता पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के विरुद्ध जमीन हड़पने व जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था।उसने रामगढ़ के उपायुक्त को बताया था कि वर्षों पहले जिस 49 डिसमिल जमीन की उसने एग्रिमेंट करवाया था, उसपर जबरन विधायक के पिता योगेंद्र साव ने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ चारदीवारी करवाकर गेट लगवा दिया था।

अंचलाधिकारी के ठिकाने से बरामद हुई नकदी

राँची के हवाई नगर, रोड नंबर चार निवासी शशिभूषण सिंह अंचलाधिकारी हैं। उनके हजारीबाग के सदर प्रखंड में पदस्थापन के दौरान ही पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के कब्जे वाली जमीन का विवाद सामने आया था। सूचना है कि वर्तमान में वे गोविंदपुर धनबाद में पदस्थापित हैं। ED की छापामारी में नकदी की सर्वाधिक बरामदगी उनके ही आवास से होने की बात सामने आई है। जब्त दस्तावेजों का सत्यापन जारी है।

यहां हुई छापामारी

योगेंद्र साव : हजारीबाग में कालावती अस्पताल के बगल में, डूमर लाज के पास हुरहुरू रोड। यहां हबिकान प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स अष्टभूजी माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स मां अस्टभूजी सेरामिक, वी कनेक्ट इंडिया, लक्ष्मण सेरामिक एंड मिनरल, मेसर्स अंकित राज, मेसर्स योगेंद्र प्रसाद, मेसर्स एसकेएस इंटरप्राइजेज, मिलियन ड्रीम फाउंडेशन।

मुकेश साव : 349, 1, मुंद्रिका भवन, बड़कागांव रोड, बिश्वेशवर नर्सिंग होम, हजारीबाग।

मेसर्स जय मां अष्टभूजी कंस्ट्रक्शन एंड रेसिडेंशियल

प्रेमिसेज आफ राजेश साव : 349, 1, मुंद्रिका भवन, बड़कागांव रोड, बिश्वेशवर नर्सिंग होम, हजारीबाग।

संजय कुमार : खरांती, गोसाईंबलिया, बड़कागांव, हजारीबाग।

अंबा प्रसाद : विधायक, एफ-44, सेक्टर-3, जगन्नाथपुर, धुर्वा, राँची।

पंकज नाथ : फ्लैट नंबर -9, ब्लाक्-बी, जी-9, साईं रेसिडेंसी, चित्रगुप्तनगर, बड़गाईं गांव, बड़गाईं एरिया, बड़गाईं रोड, राँची।

अजीत कुमार गुप्ता उर्फ इंदर : पिता राजेंद्र प्रसाद, 68 केबी रोड, खजांजी तलाब के नजदीक, सदर, हजारीबाग।

कुशाग्र रूद्र : पिता दिनेश कुमार राणा, दिनकर नगर, फोरेस्ट कालोनी, हजारीबाग।

बिंदेश्वर कुमार दांगी : पिता प्रेम नाथ महतो, जीडीएम चौकथाना के नजदीक, गुरुचट्टी, बड़कागांव, हजारीबाग।

मनोज कुमार अग्रवाल : पिता गजानंद अग्रवाल, फ्लैट नंबर 101, फर्स्ट फ्लोर, मुंका बगीचा, महेश सोनी चौक, हजारीबाग।

उदय साव : पिता महावीर साव, मेयातू गेट, सुल्ताना हजारीबाग।

शशि भूषण सिंह : पिता मकसुदन प्रसाद, रोड नंबर-5, हवाई नगर, राँची।

योगेंद्र साव : पतरवा चौक, हजारीबाग।

पंकज नाथ : ओकनी बाड़ा, हजारीबाग।

धीरेंद्र साव : हुरहुरु रोड, हजारीबाग।

Jharkhand

बिरसा जैविक उद्यान में बाघिन के चार नवजात की मौत

चारों 10 मई की आधी रात को पैदा हुए थे नया लुक ब्यूरो, झारखंड रांची। राजधानी के ओरमांझी ब्लॉक स्थित बिरसा जैविक उद्यान में बाघिन के चार नवजात की मौतमें बाघिन के चार नवजात शावकों की दु:खद मौत हो गई है। 10 मई को ही उनका जन्म हुआ था। बाघ के बच्चों की मौत से […]

Read More
Jharkhand

दूसरे दिन की पूछताछ के बाद झारखंड सरकार के मंत्री आलमगीर आलम गिरफ्तार,

आप्त सचिव और इसके निजी सहायक के अवैध धंधों की नहीं है जानकारी रंजन कुमार सिंह रांची (झारखंड)। जैसी आशंका थी, दूसरे दिन छह घंटे की पूछताछ के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम को गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को आलमगीर आलम 11:30 बजे ED ऑफिस पहुंचे। ED ने उनसे पूछताछ […]

Read More
Jharkhand

खेत में 11 हज़ार वोल्ट की चपेट में आकर जंगली हाथी की मौत, जंगल में दफनाया गया,

नया लुक ब्यूरो, रांची/हजारीबाग: झारखण्ड के हजारीबाग जिले के सदर प्रखंड अंतर्गत चुटियारो पंचायत के सरोनी कला गांव में करंट लगने से एक हाथी की दर्दनाक मौत हो गई। किसान पटवन करने के लिए बिजली का तार अपने खेत में ले गये थे। उसी तार की संपर्क में आने से हाथी की मौत हुई।हाथी झुंड […]

Read More