सिकंदराबाद में देसी धरती पर होगी विदेशी सुविधाओं की अनुभूति : जैन

सिकंदराबाद। तेलंगाना के सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन को वैश्विक स्तर का जंक्शन बनाने के लिए इसके उन्नयन का काम जोर-शोर से किया जा रहा है, जिससे यात्रियों को देसी भूमि पर विदेशी सुविधाओं की अनुभूति होगी। दक्षिण मध्य रेलवे के सिकंदराबाद मंडल के मंडल रेल प्रबंधक (DMR) भारतेश कुमार जैन ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सिकंदराबाद स्टेशन का बड़े पैमाने पर उन्नयन किया जा रहा है और इसे वैश्विक स्तर का जंक्शन बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया, तमाम चुनौतियों के बावजूद इस जंक्शन के उन्नयन का काम जोर-शोर से चल रहा है। सिंकदराबाद रेल मंडल में तीन जंक्शनों का बड़े पैमाने पर उन्नयन किया जा रहा है, जिसमें सिकंदराबाद के अलावा तेलंगाना में हैदराबाद और लिंगामपल्ली जंक्शन शामिल है। उन्होंने बताया कि सिकंदराबाद रेल मंडल में 20 जंक्शनों का अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत पुनर्विकास भी किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 फरवरी को 2000 से अधिक रेल परियोनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन और लोकार्पण करने जा रहे हैं। इनमें से 25 परियोजनाएं सिर्फ सिकंदराबाद रेल मंडल की हैं। उन्होंने बताया कि सिकंदराबाद रेल मंडल में जिन जंक्शनों का बड़े पैमाने पर उन्नयन किया जा रहा है, उन पर आम तौर पर पांच सौ लेकर छह सौ करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। वहीं अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत 20 करोड़ रुपये की लागत से शुरुआती दौर में पुनर्विकास किया जा रहा है। जैन ने बताया कि सिंकदराबाद रेल मंडल में जिन 20 जंक्शनों का पुनर्विकास किया जा रहा है, उनमें बेगमपेट, विकाराबाद, हाफिजपेट, हाई टेक सिटी, जहीराबाद, पार्लि वैजनाथ, बिदर, तंदुर, भद्राचलम रोड खम्मम, महबूबाबाद, वरांगल, मधीरा, मनचिर्याल, रमागुंडम,रामगुंडा, पेदापल्ली, करीम नगर,काजीपेट, जनगांव और यदाद्री रेलवे जंक्शन शामिल हैं।

रेल मंत्रालय के मुताबिक मोदी 26 फरवरी को विभिन्न राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में 41,000 करोड़ रुपये की विभिन्न रेल परियोजनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन तथा लोकार्पण करेंगे। आसफ जाही राजवंश के निजाम निजी मीर अकबर अली खान सिकंदर (आसफ जाह तृतीय) के नाम पर बसायी गयी इस नगरी के रेलवे जंक्शन का सौंदर्यीकरण किया जा रहा है। इस जंक्शन की नयी इमारत के बाद लोगों को ऐसी अनुभूति होगी, जैसे वे हवाई अड्डा पर आ गये हों। यहां फुड प्लाजा, बच्चों के खेलने के लिए पर्याप्त जगह, यात्रियों के विश्राम और मनोरंजन सहित तमाम सुविधाएं मौजूद होंगी। सिकंदराबाद रेलवे जंक्शन को दिव्यांगजनों के अनुकूल बनाया जा रहा है और देश के विभिन्न क्षेत्रों से इस जंक्शन को जोड़ने की पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है। इस स्टेशन को मेट्रो दो ओर से जोड़ती है। इस स्टेशन की नयी इमारत में गाड़ियों की पार्किंग के लिए समुचित व्यवस्था की गयी है। यात्रियों को छोड़ कर तत्काल निकल जाने वाली गाड़ियों के लिए अलग व्यवस्था की जा रही है तथा कुछ समय के लिए गाड़ियों को खड़ा करने के लिए अगल भूमिगत व्यवस्था की जा रही है। (वार्ता)

Litreture National

बुझता दिया तेल की बूंदे पा गया !

के. विक्रम राव  आज (29 मई 2024, बुधवार) मेरे 85 बसंत पूरे हो गए। कई पतझड़ भी। कवि कबीर की पंक्ति सावधान करती है, जब वे माटी से घमंडी कुम्हार को कहलाते हैं : “एक दिन ऐसा आएगा, जब मैं रौंदूगी तोय।” चेतावनी है। मगर आस बंधाती है शायर साहिर की पंक्ति : “रात जितनी […]

Read More
National

ओमान में डिजिटाइज प्रोजेक्ट से भारतीय प्रवासियों के ऐतिहासिक दस्तावेज होंगे संग्रहित

नई दिल्ली। भारतीय प्रवासियों के ऐतिहासिक दस्तावेजों को संग्रहित करने के लिए ओमान की राजधानी मस्कट में पहली डिजिटलीकरण परियोजना शुरू हुई। मस्कट स्थित भारतीय दूतावास ने भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार (एनएआई) के साथ मिलकर ओमान में भारतीय प्रवासियों की समृद्ध विरासत को संरक्षित करने के लिए यह अभूतपूर्व परियोजना शुरू की है। ‘ओमान संग्रह – […]

Read More
National

शांति रक्षक मेजर राधिका को मिला यूएन अवॉर्ड

शांति रक्षक मेजर राधिका को मिला यूएन अवॉर्ड संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में भारत की स्थायी प्रतिनिधि रुचिरा कंबोज ने बुधवार को भारतीय संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों की बहादुरी और समर्पण की प्रशंसा करते हुए वैश्विक शांति एवं सुरक्षा में भारत के उल्लेखनीय योगदान पर प्रकाश डाला। कंबोज ने अंतरराष्ट्रीय संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिक […]

Read More