कांग्रेस के लिए 24 की सबसे बड़ी चुनौती

शाश्वत तिवारी
शाश्वत तिवारी

कांग्रेस पार्टी के लिए 2024 का चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण होगा क्योंकि इससे पहले 2014 और 2019 में पार्टी ने बुरी तरह से हार का सामना किया है। कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाद्रा ने पार्टी को सशक्त बनाने के लिए कई कदम उठाए हैं, जैसे कि पार्टी के नए अध्यक्ष का चुनाव, पार्टी के कार्यकर्ता और नेताओं से संपर्क, जनता के मुद्दे उठाना, गठबंधन का विस्तार, सोशल मीडिया का प्रयोग और पार्टी की नई नीति और राजनीति का निर्माण।

कांग्रेस पार्टी के लिए 2024 की सबसे बड़ी चुनौती बीजेपी और सीधे पीएम नरेंद्र मोदी से मुकाबला करना होगा, जो आज की तारीख तक देश में सबसे लोकप्रिय नेता हैं। बीजेपी ने पिछले दो चुनावों में बड़ा बहुमत हासिल किया है और अभी भी देश के कई राज्यों में सत्ता में हैं। बीजेपी के नेताओं ने कांग्रेस पार्टी को कामज़ोर, बिखरी और परिवारवादी बताया है और उनके नेताओं पर आरोप लगे हैं। कांग्रेस पार्टी के लिए एक और चुनौति क्षेत्रीय पार्टियों से समझौता करना होगा, जो राज्य में प्रभावी है और बीजेपी से अलग है। कांग्रेस पार्टी ने पहले ही कुछ राज्यों में गठबंधन बनाया है, जैसे महाराष्ट्र, झारखंड, तमिलनाडु और बिहार। लेकिन कुछ राज्यों में कांग्रेस पार्टी को क्षेत्रीय पार्टियों से टक्कर लेनी होगी, जैसे कि उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और आंध्र प्रदेश।

कांग्रेस पार्टी के लिए 2024 का चुनाव जीतने के लिए पार्टी को एक मजबूत चुनावी एजेंडा तय करना होगा, जो जनता के हित और आकांक्षाओं के मुताबिक हो, और जनता उसे पसंद करे। पार्टी को अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं को एकजुट और उत्कृष्ट रखना होगा और बीजेपी के हथियार और हमलों का मुहतोड़ जवाब देना होगा। पार्टी को अपने गठबंधन साथियों के साथ अच्छी तरह से काम करना होगा और जनता को अपने विकास और न्याय के संदेश को पहचानना होगा।

कांग्रेस पार्टी के लिए 2024 में कितनी सीटें मिलेंगी, ये केवल अनुमान लगाया जा सकता है, क्योंकि चुनाव में बहुत से तथ्य और परिस्थितियों का प्रभाव पड़ता है। लेकिन अगर हम कुछ सर्वेक्षण और विश्लेशकों की बात करें, तो कुछ इस प्रकार के अनुमान मिलते हैं, सी-वोटर के सर्वेक्षण के मुताबिक कांग्रेस पार्टी को 2024 में 91 से 115 सीटें मिल सकती हैं, जो 2019 के मुकाबले में 39 से 63 सीटें ज्यादा हैं। वही बीजेपी को 283 से 309 सीटें मिल सकती हैं, जो 2019 के मुकाबले में 20 से 46 सीटें कम हैं।
वाराणसी के एक प्रसिद्ध ज्योतिष ऋषि द्विवेदी ने कांग्रेस पार्टी की कुंडली देखकर बताया है, कि पार्टी के लिए 2024 का चुनाव शुभ होगा और पार्टी को 150 से 200 सीटें मिल सकती हैं। उनका कहा है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के सितारे बुलंद होंगे और उनकी पार्टी को फ़ायदा होगा। नवभारत टाइम्स द्वारा किए गए सर्वे की माने तो कांग्रेस पार्टी को 2024 में 80 से 100 सीटें मिल सकती हैं। वही बीजेपी को 250 से 270 सीटें मिल सकती हैं, जो 2019 के मुकाबले में 53 से 73 सीटें कम हैं।

(लेखक-यूपी के जानेमाने पत्रकार है)

Analysis

आस्था से खिल्ली न करें ! संवेदना से फूहड़पन होगा!!

के. विक्रम राव  मान्य अवधारणा है की दैवी नाम केवल मनुष्यों को ही दिए जाते हैं। मगर सिलिगुड़ी वन्यप्राणी उद्यान में शेर और शेरनी का नाम अकबर और मां सीता पर रख दिया गया। भला ऐसी बेजा हरकत किस इशोपासक को गवारा होगी ? अतः स्वाभाविक है कि सनातन के रक्षक विश्व हिंदू परिषद ने […]

Read More
Analysis

स्मृति शेष : हिंदी के वैश्विक उद्घोषक, बहुत याद आयेंगे अमीन सयानी

संजय तिवारी (21 दिसंबर 1932 – 20 फरवरी 2024) विश्व में हिंदी के लोकप्रिय रेडियो उद्घोषक अमीन सयानी अब नहीं रहे। अपनी आवाज में यादों का सागर छोड़ कर उन्होंने विदा ले ली है। उन्होंने पूरे भारतीय उपमहाद्वीप में प्रसिद्धि और लोकप्रियता हासिल की जब उन्होंने रेडियो सीलोन के प्रसारण पर अपने बिनाका गीतमाला कार्यक्रम […]

Read More
Analysis

गुलजार को मंडित करके विद्यापीठ ऊंचा हो गया!

के. विक्रम राव मुकफ्फा (अनुप्रास) विधा के लिए मशहूर सिख शायर, पाकिस्तान से भारत आए, एक बंगभाषिनी अदाकारा राखी के पति सरदार संपूरण सिंह कालरा उर्फ गुलजार को प्रतिष्ठित पुरस्कार देकर श्रेष्ठ संस्था भारतीय ज्ञानपीठ ने हर कलाप्रेमी को गौरवान्वित किया है। भारतीयों को इस पर नाज है। वस्तुतः हर पुरस्कार गुलजार के पास आते […]

Read More