अठारह दिन बाद भी धर्मेंद्र प्रजापति के परिजनों को नहीं मिली आर्थिक सहायता

  • मुकादमे का मुख्य आरोपी घूम रहा, खुलेआम कधंई पुलिस को मैंनेज किए जाने की है चर्चा
  • 14 दिसंबर की शाम पांच बजे ग्यारह हजार की लाइन ठीक करते समय धर्मेंद्र प्रजापति की हुई थी दर्दनाक मौत

अजीत तिवारी
प्रतापगढ़ । एक सप्ताह और दस दिन के अंदर सहायता राशि दिए जाने का आश्वासन हवा हवाई साबित हो गया। कधंई थाना क्षेत्र के कांपा हरी गांव निवासी संविदा लाइन मैन धर्मेंद्र प्रजापति पुत्र रामदीन की कधंई थाना क्षेत्र के रुदापुर गांव में ग्यारह हजार हाई वोल्टेज की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई थी। परिजनों ने 24 घंटे तक शव का दाह संस्कार करने से मना कर दिया था। शव घर पर रखकर आर्थिक सहायता और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। उस दौरान विद्युत विभाग और पुलिस की जान हलक में अटक गई थी। साम दाम दण्ड भेद ऐन केन प्रकारेण धर्मेंद्र प्रजापति के परिजनों को झांसे, में लेकर कुछ तथाकथित पत्रकार और ढोंग करने वाले समाजसेवी शव का बेलखरनाथ धाम में दाह संस्कार करवा दिया यह कहते हुए की एक सप्ताह के अंदर सहायता राशि मिल जाएगी।

विधुत उपकेंद्र सोनाही के एसडीओ शैलेन्द्र सिंह को बुलाकर बकायदा लिखवाया गया की विधुत सुरक्षा अधिनियम के तहत बिजली विभाग के इंस्पेक्टर की जांच के बाद आर्थिक सहायता मिल जाएगी लेकिन आठरह दिन बाद भी कोई भी विभागीय अधिकारी कर्मचारी धर्मेंद्र प्रजापति के घर झांकने तक नहीं गया।और झूठा आश्वासन देने वाले ढोंगी समाजसेवी और तथाकथित पत्रकार अब धर्मेंद्र प्रजापति के परिवार की मदद करने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। बिजली विभाग की तरफ से जांच करने वाले इंस्पेक्टर भी कांपा हरी गांव नहीं पहुंचे हैं। मृतक धर्मेंद्र प्रजापति के पिता रामदीन व भाई राजेश प्रजापति पत्नी संगीता ने बताया की फोन से भी किसी भी अधिकारी ने कोई भी जानकारी नहीं ली और न ही किसी प्रकार की सहायता ही अभी तक मिली है। रामदीन की तहरीर पर मुकदमे का मुख्य आरोपी करुणेश शर्मा को भी कधंई पुलिस अभी तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है आरोपी खुलेआम घूम कर पुलिस की खिल्ली उडा रहा है।

क्षेत्र में चर्चा यह है कि कधंई पुलिस करुणेश शर्मा को बचाने के लिए दलालों के माध्यम से मोटी रकम ले चुकी है इसलिए उसे गिरफ्तार करने में हीला हवाली कर रही है। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार के दावों और आदेश को प्रतापगढ़ जिले के अधिकारी कर्मचारी नहीं मानते हैं। तीन साल से सोनाही विधुत उपकेंद्र पर तैनात धर्मेंद्र प्रजापति को सभी जानते थे कि यह संविदा लाइन मैन के पद पर कार्यरत हैं इसके बावजूद भी उसके परिवार के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। जिले के आलाधिकारी भी भ्रष्टाचार से कराह रहा सोनाही विधुत उपकेंद्र की जांच का आदेश देना मुनासिब नहीं समझ रहे है। मंच से भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंकने वाले जिले के नेता भी भ्रष्टाचार में संलिप्त जिले के सरकारी अधिकारी कर्मचारी को बचाते हैं।

Purvanchal

नौतनवां में भगवान परशुराम की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर निकली भब्य कलश यात्रा

उमेश चन्द्र त्रिपाठी नौतनवां/महराजगंज। नौतनवां कस्बे के आराध्य देवी माता बनैलिया मंदिर परिसर में भगवान परशुराम मंदिर के प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम का शुभारंभ हो गया है। यह मंदिर पूर्वांचल का पहला भगवान परशुराम का मंदिर है। बता दे कि मंगलवार सुबह 9:00 बजे से ही पूजन एवं अधिवास एवं अनुष्ठान कार्यक्रम प्रारंभ हो गया है। आज […]

Read More
Purvanchal

सोनौली बॉर्डर पर करोड़ो रुपए मूल्य का चरस बरामद,एक गिरफ्तार

उमेश चन्द्र त्रिपाठी भारत-नेपाल के सोनौली‌ बॉर्डर पर श्यामकाट गांव के पास पुलिस ने बोरी में भरकर नेपाल से चरस लेकर भारतीय सीमा में आ रहे एक नेपाली नागरिक को गिरफ्तार करने का दावा किया है। बरामद चरस की कीमत करोड़ों में बताई जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस ने उक्त […]

Read More
Uttar Pradesh

हिंदुस्तान के विकास के लिए जातीय जनगणना होगा क्रांतिकारी कदम: राहुल गांधी

उन्नाव/कानपुर। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं सांसद राहुल गांधी ने कहा कि हिन्दुस्तान के विकास के लिए जातीय जनगणना क्रांतिकारी कदम साबित होगा। पार्टी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के 39 वें दिन बुधवार को गांधी ने उन्नाव और कानपुर का भ्रमण किया। कानपुर में गांधी का भव्य स्वागत किया गया। राहुल गांधी ने उन्नाव […]

Read More