कुलदीप यादव में वीनू मांकड़ की छवि दिखी! कितना साम्य!!

के. विक्रम राव

बड़ी एकांगी होता है खेल रिपोर्टर! कल (11 सितम्बर 2023) भारत-पाक एक दिवसीय मैच था। सभी दैनिकों में बैटर्स विराट कोहली और केएल राहुल की सेंचुरी के सामने बॉलर कुलदीप यादव की करिश्मायी बॉलिंग कम वर्णित हुई, दब सी गई। हालांकि इस 29-वर्षीय बायें बाजू वाले चाइनामैन (गुगली) बॉलर ने मात्र आठ ओवर में पांच विकेट झटक कर पाकिस्तान की हार पक्की कर दी थी। भारतीय क्रिकेट में 25 साल का लंबा इंतजार खत्म कर दिया। मगर रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाए, जो आंध्र प्रदेश के अरशद अयूब ने 1988 में ढाका में पाकिस्तान के खिलाफ बनाया था। तब अयूब ने केवल 21 रन देकर पांच विकेट चटकाये थे।

उन्नाव (यूपी) में जन्मे कुलदीप यादव ने महान बायें हाथवाले बॉलर वीनू मांकड़ की अनायास याद दिला दी। पद्म भूषण (1973) मलवंतराय हिममतलाल उर्फ “वीनू” मांकड़ का तब दौर था। छः दशक पूर्व। जामनगर (गुजरात) के उनका निधन 21 अगस्त 1978 में इकसठ वर्ष के आयु में हुआ था। वे टेस्ट मैच में सैकड़ा मारने वाले प्रथम भारतीय रहे। कुल 44 टेस्ट मैच खेले और 165 विकेट लिए। इंग्लैंड के मशहूर बॉलर इयान बाथम ने कहा : कि अपने दौर के दुनिया में बायें बाजूवाले श्रेष्ठतम स्पिनर मांकड़ थे।   वीनू मांकड़ क्रिकेट इतिहास में विशेषतया स्मरणीय हैं क्योंकि उन्होंने विलक्षण रीति से बैटर को आउट करने का तरीका ईजाद किया था। इस विवादास्पद तरीके का नाम ही “मांकड़िंग” रख दिया गया था। दरअसल उसी वर्ष भारत आजाद हुआ था। भारतीय क्रिकेट टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर थी। तब मांकड़ ने दूसरे टेस्ट में नॉन-स्ट्राइकर छोर पर बिल ब्राउन को रन आउट कर दिया।

Analysis

दुनिया पर चढ़ा योग का खुमार: विदेशों में भारतीय दूतावास के योग सत्रों में पहुंचे हजारों लोग

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी के प्रयासों से योग अब भारत से निकलकर वैश्विक पटल पर पहुंच गया है। इसकी बानगी एक बार फिर शुक्रवार को देखने को मिली, जब भारत के श्रीनगर से लेकर अमेरिका के न्यूयॉर्क तक दुनिया के लगभग सभी देशों में 10वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस बड़े उत्साह के साथ मनाया गया। […]

Read More
Analysis

वाइब्रेंट इकोनॉमिक हब के रूप में विकसित होगी ‘पीतल नगरी’

– मुरादाबाद को अगले सात साल में विकसित करने के लिए योगी सरकार ने खींचा खाका – पीतल की कारीगरी करने वाले आर्टिजन के लिए महायोजना 2031 में विशेष प्रबंध – हैंडीक्राफ्ट और निर्यात उद्योग को बढ़ाने पर योगी सरकार का है सर्वाधिक जोर – आर्टिजन के लिए सरकार बनाएगी हस्तशिल्प ग्राम, मेगा एमएसएमई का […]

Read More
Analysis

श्रीराम मंदिर की सुरक्षा में तैनात एसएसएफ जवान की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत

उमेश चन्द्र त्रिपाठी अयोध्या महराजगंज! श्रीराम जन्मभूमि मंदिर परिसर सुरक्षा में तैनात एसएसएफ (स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स) जवान की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने के बाद मौत हो गयी। 28 वर्षीय जवान शत्रुघ्न विश्वकर्मा पुत्र स्व. शिवपूजन विश्वकर्मा निवासी सम्मनपुर थानाक्षेत्र के कजपुरा (पिडैला) के आत्महत्या का कारण लोगों के समझ से परे है। एसएसपी राजकरण […]

Read More