आजादी से संबंधित तीन शिलालेख शहर में पड़े हैं उपेक्षित

  • एक बस्तर हाई स्कूल के कोने में, दो टूटे पड़े हैं जिला संग्रहालय में,

जगदलपुर। बस्तर के शहीद शिरोमणि गेंदसिंह, क्रांतिवीर गुंडाधुर और उत्तर बस्तर के गांधी के नाम से चर्चित इंदरू केवट ने स्वतंत्रता आंदोलन में बस्तर को एक अलग पहचान दी थी। आज इसी बस्तर में आजादी से संदर्भित तीन शिलालेख उपेक्षित पड़े हैं। आजादी की 25वीं वर्षगांठ के अवसर पर मिला एक शिलालेख बस्तर हाई स्कूल के कोने में तो दो शिलालेख जिला पुरातत्व संग्रहालय परिसर में टूटे पड़े हैं।

रजत जयंती पर मिला था शिलालेख

वर्ष 1972 में आजादी का रजत जयंती वर्ष मनाया गया था। देश भर के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा ताम्रपत्र भेंट किया गया था, साथ ही पूरे देश के शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में शिलालेख स्थापित किए गए थे। बस्तर में इस तरह का एक शिलालेख पहले बस्तर हाई स्कूल के पुराने द्वार के पास स्थापित था। उसे हटाकर कोने में खड़ा कर दिया गया है। वहीं दो शिलालेख जो जिला कार्यालय परिसर में रखे गए थे और रखरखाव के अभाव में टूट गए , इन्हें सिरहासार के सामने जिला पुरातत्व संग्रहालय परिसर में छोड़ दिया गया है। ज्ञात हो कि बस्तर हाई स्कूल में स्थापित शिलालेख में बस्तर के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का नाम अंकित है किंतु शहर की 90% आबादी को इसकी जानकारी ही नहीं है।

गोल बाजार में स्थापित करें

लंबे समय से यह मांग की जा रही है कि  शिलालेखों को व्यवस्थित कर बस्तर के ऐतिहासिक गोल बाजार में स्थापित किया जाए, चूंकि गोल बाजार में ही बस्तरवासियों ने 15 अगस्त 1947 की रात आजादी का पहला जश्न मनाया था। गोल बाजार के इमली पेड़ पर ही गुंडाधुर के साथियों को अंग्रेजों ने सरेआम फांसी पर लटकाया गया था। गोल बाजार परिसर में ही राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का भस्म कलश झंडाचौरा के नीचे वर्ष 1948में दबाया गया है, किंतु शिलालेखो को व्यवस्थित कर गोल बाजार में स्थापित करने कोई पहल नहीं हुई। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.बिलखनारायण अग्रवाल के पुत्र डॉ. पीएन अग्रवाल ने कहा है कि देश की आजादी के प्रतीक चिन्हों, स्मारकों या शिलालेखों की अपेक्षा देश का अपमान है। इनकी सुरक्षा और स्थापना की दिशा में जिला प्रशासन को विशेष पहल करनी चाहिए।

National

नेपाली महिला ने कोलकाता में बनवाया फर्जी पासपोर्ट, खुल गया फर्जीवाड़ा

हंगरी जाने के चक्कर में मुंबई एयरपोर्ट पर गिरफ्तार उमेश चन्द्र त्रिपाठी नई दिल्‍ली! विदेश जाने के लिए लोग कई तरह के हथकंडे अपनाते हैं। कोई फर्जी डॉक्‍यूमेंट्स के सहारे किसी देश में घुसना चाहता है तो कोई और जाल बुनता है। नेपाल की एक महिला ने भी विदेश जाने को फर्जी पहचान का सहारा […]

Read More
National

भारत-IORA क्रूज पर्यटन सम्मेलन संपन्न, रोजगार सृजन पर रहा जोर

रोजगार के अवसरों को बढ़ाने से लेकर महिलाओं की भागीदारी मजबूत करने पर हुई चर्चा नई दिल्ली। भारत-आईओआरए क्रूज पर्यटन सम्मेलन शुक्रवार को नई दिल्ली में संपन्न हुआ। दो दिवसीय सम्मेलन में भारत के अलावा हिंद महासागर रिम एसोसिएशन (आईओआरए) के सदस्य देशों के अधिकारियों और विशेषज्ञों ने भाग लिया। विदेश मंत्रालय की ओर से […]

Read More
National

विदेश मंत्रालय के सचिव ने पूर्वी एशिया समिट में लिया हिस्सा

विदेश मंत्रालय के सचिव ने पूर्वी एशिया समिट में लिया हिस्सा नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय के सचिव (पूर्व) जयदीप मजूमदार ने 7-8 जून को वियनतियाने, लाओ पीडीआर में पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक (ईएएस एसओएम) और आसियान क्षेत्रीय मंच वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक (एआरएफ एसओएम) में भारत का प्रतिनिधित्व किया। इस दौरान […]

Read More