लगातार भोजपुरी फिल्में बनाकर ट्रेड सुर्खियों में छाए निर्माता सीपी चौधरी!

लखनऊ। सीपी पैराडाइज मोशन मिक्चर प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले पिछले दिनों तीन भोजपुरी फिल्मों का अनाउंसमेंट हुआ। निर्माता सीपी चौधरी ने एक के बाद एक तीन फिल्मों का ऐलान तीन अलग अलग अभिनेताओं के साथ किया और उन तीन फिल्मों की शूटिंग की डेट भी फाइनल कर दिया। ये तीन फिल्में हैं देवा की अदालत,प्यार ना माने पहरेदारी व भोजपुरिया किंग। इन मे से दो फिल्मों के निर्देशक हैं हेमराज वर्मा व एक फ़िल्म प्यार ना माने पहरेदारी के निर्देशक हैं प्रेम सागर सिंह, फ़िल्म देवा की अदालत में अभिनेता हैं प्रेम सिंह, वहीं प्यार ना माने पहरेदारी के मुख्य अभिनेता हैं आनंद देव मिश्रा व भोजपुरिया किंग को लीड कर रहे हैं अभिनेता रवि यादव, भोजपुरी फ़िल्म प्यार ना माने पहरेदारी की शूटिंग अगले 16 तारीख से गोरखपुर में शुरू हो जाएगी। वहीं भोजपुरिया किंग की शूटिंग भी 16 जून से उत्तर प्रदेश के विभिन्न लोकेशन्स पर होने जा रही है।

वहीं देवा की अदालत की शूटिंग की घोषणा भी जल्द ही कि जाएगी। निर्माता सीपी चौधरी ने मुम्बई में बताया कि उन्होंने तीन लगातार फिल्मों में तीन ऐसे नए अभिनेताओं को मुख्य कलाकार के रूप में लिया है जिनको इस इंडस्ट्री में उनकी छमता के अनुसार काम अब तक नहीं मिल पाया था। यह कदम उन्होंने बहुत सोंच समझकर उठाया है और उन्हें लगता है कि इन तीन अभिनेताओं के साथ फिल्में जब बनकर आएंगी तो दर्शकों के अंदर भोजपुरी फिल्मों के प्रति रुझान और बढ़ाने का काम करेगा। निर्माता सीपी चौधरी ने बताया कि तीनों फिल्मों के स्क्रिप्टिंग का काम लगभग पूरा हो चुका है और उनको अब तकनीकी बारीकियों के पैमाने पर निर्देशकीय टीम द्वारा परखा जा रहा है।

निर्माता सीपी चौधरी की एक के बाद एक लगातार फ़िल्मों के आने की खबर से पूरी भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री उन्हें बेहद आशा भरी निगाहों से देखने लगी है। क्योंकि आज की तारीख में भोजपुरी फ़िल्म के स्थापित निर्माता भी लगातार तीन तीन फिल्मों की शूटिंग एक साथ कराने की जोखिम नहीं ले रहे । ऐसे में सीपी चौधरी के इस साहसिक कदम की काफी तारीफ भी हो रही है। अब देखना यह है कि आने वाले समय मे ये तीन फिल्में किस कदर बॉक्स ऑफिस पर अपना जादू दिखा पाती हैं। इन तीनो फिल्मों के पीआरओ संजय भूषण पटियाला हैं।

Entertainment

संजय बिश्नोई की फिल्म संतोष का काँस फिल्म फेस्टिवल में हुआ ऑफिसियल सिलेक्शन

एमी-विनिंग  सीरीज़ दिल्ली क्राइम और 12वीं फेल का हिस्सा बनने के बाद, संजय बिश्नोई ने अपने नाम में एक और उपलब्धि जोड़ ली है हालही में चल रहे 77वें कान्स फिल्म फेस्टिवल में उन्हें  भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। अभिनेता की फिल्म संतोष को अन सर्टन रिगार्ड कैटेगरी  में प्रतिष्ठित मंच पर प्रदर्शित […]

Read More
Entertainment

बात फिल्म इंड्रिस्ट्री के पहले “एंटी-हीरो” अशोक कुमार की….

शाश्वत तिवारी कलकत्ता से वकालत पढ़े अशोक कुमार को फिल्में देखना बहुत पसंद था। वो क्लास के बाद वे अपने दोस्तों के साथ थियेटर चले जाते थे। तब आई हीरो के. एल. सहगल की दो फिल्मों से वे बहुत प्रभावित हुए – ‘पूरण भगत’ (1933) और ‘चंडीदास’ (1934)। वे तत्कालीन बंगाल में आने वाले भागलपुर […]

Read More
Entertainment

पुण्यतिथि पर विशेषः जब नौशाद ने मुगल-ए-आजम का संगीत देने से कर दिया था मना

पांच मई को दुनिया से रुखसत हुए थे, 25 दिसम्बर 1919 को जन्मे थे नौशाद मुंबई। वर्ष 1960 में प्रदर्शित महान शाहकार मुगल-ए-आजम के मधुर संगीत को आज की पीढ़ी भी गुनगुनाती है लेकिन इसके गीत को संगीतबद्ध करने वाले संगीत सम्राट नौशाद ने पहले मुगल-ए-आजम का संगीत निर्देशन करने से इंकार कर दिया था। […]

Read More