योगी ने संभाली दूसरे चरण की कमान

डॉ दिलीप अग्निहोत्री


नरेंद्र मोदी ने योगी आदित्यनाथ को सन्यासी के साथ ही कर्मयोगी बताया था। वस्तुतः योगी आदित्यनाथ की कार्यशैली कर्मयोग के अनुरूप है। अपने सामाजिक धार्मिक और संवैधानिक दायित्वों का वह पूर्ण कर्म कौशल से निर्वाह करते हैं। नगर निगम चुनाव में उन्होंने अट्ठाइस जन सभाएं की।इसी में समय निकाल कर वह सरकारी कामकाज भी करते रहे।  महंत के रूप में उन्होंने गौरक्ष पीठ में रुद्राभिषेक किया। इसके पहले श्री काशी विश्वनाथ धाम में पूजा अर्चना की थी। पहला चरण समाप्त होने के बाद विश्राम नहीं किया। वह दूसरे चरण के प्रचार पर निकल गए।

उन्होंने  संतकबीर नगर आजमगढ़ मऊ बलिया में जनसभाओं को संबोधित किया। योगी  आदित्यनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री निकाय चुनाव में इसलिए उतरे हैं कि केंद्र व राज्य का पैसा जनहित में लगे। संतकबीर नगर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मध्य काल के महान संत कबीर के आगमन के पूर्व मगहर के बारे में माना जाता था कि यह ऊसर भूमि है। संत कबीर ने उस धारणा को बदला। मगहर में उनकी महापरिनिर्वाण स्थली है। डबल इंजन सरकार ने संत कबीर अकादमी बनाकर उनके मूल्यों, आदर्शों व समाज में समता-समरसता के मूल्यों की स्थापना व शोध को बढ़ावा देने को प्रोत्साहित किया है।

जो मगहर मध्यकाल में नरक का प्रतीक माना जाता था। डबल इंजन की सरकार में वह स्वर्ग सा प्रतीत हो रहा है। छह वर्ष में प्रदेश में हुए परिवर्तन इन बातों की तरफ ध्यान आकर्षित करते हैं। संतकबीर नगर से बहने वाली आमी छह साल पहले तक प्रदूषित थी। पालतू पशु उसके जल को ग्रहण कर ले तो मर जाता था। आज मगहर में आमी नदी स्वच्छ, निर्मल, अविरल है। मुंडेरवा चीनी मिल बंद हो गई थी। पिछली सरकारों ने किसानों पर गोली चलवाई। हमारी सरकार ने न सिर्फ चीनी मिल स्वीकृत की, बल्कि वहां की मिल पेराई भी कर रही है। यहां के किसानों के लिए यह सम्मान का माध्यम बना। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का लिंक एक्सप्रेसवे संतकबीर नगर होते हुए गोरखपुर जा रहा है। यहां औद्योगिक गलियारा बनेगा।

आजमगढ़ की छवि पहले नकारात्मक थी। विगत छह वर्षों के प्रयासों से यहां सकारत्मक माहौल बना। अब यहां विकास हो रहा है। पिछली सरकार ने आजमगढ़ का केवल दोहन किया था। हम अपने युवाओं को तमंचे नहीं, टैबलेट दे रहे हैं। उन्हें तकनीकी से जोड़कर स्किल्ड बना रहे हैं। आजमगढ़ को पूर्वांचल एक्सप्रेस से जोड़ा जा चुका है। यहां एयरपोर्ट बन रहा है। महाराज सुहेलदेव के नाम पर विश्व विद्यालय भी शुरू हो चुका है, शीघ्र ही उसका प्रशासनिक भवन बनने जा रहा है। पहली बार आजमगढ़ से एक कलाकार सांसद बना। परिणाम ये रहा कि यहां हरिहरपुर संगीत महाविद्यालय बनाया गया। आजमगढ़ से हर शहर की बेहतरीन कनेक्टिविटी हो गयी है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि याद कीजिए, जो लोग पर्व और त्योहारों में मऊ की कानून व्यवस्था को व्हीलचेयर पर लाने का काम करते थे, आज वो स्वयं व्हीलचेयर में पड़े हुए हैं। ये वही जनपद है जहां रामलीला का आयोजन नहीं हो पाता था।

कानून व्यवस्था को व्हीलचेयर पर ले जाने वालों को ही व्हीलचेयर पर पहुंचाने का काम कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कभी स्वामी सहजानंद सरस्वती की प्रगतिशील सोच ने इस जनपद को दिशा दी थी। स्वर्गीय कल्पनाथ राय जी का योगदान मऊ विस्मृत नहीं कर सकता। एक ओर इन प्रगतिशील सोच के महापुरुषों का योगदान इस जनपद को बढ़ाने के लिए रहा, लेकिन बीच के कालखंड में बुआ और बबुआ की पार्टी ने इस क्रांति की भूमि को कर्फ्यू में बदलने का कार्य किया था। सीएम ने यहां भाजपा का बोर्ड बनाने की अपील भी की। बलिया में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज हमारे व्यापारी और नागरिक सीना तानकर चल रहे हैं। अपराधी गले में तख्ती बांधकर जान की भीख मांगता हुआ दिखाई देता है।

 

Raj Dharm UP

सैलानियों को भाया उत्तर प्रदेश 2023-24 में टाइगर रिजर्व में बढ़ी पर्यटकों की संख्या

लोगों की आमद देख 10 दिन और बढ़ाया गया पर्यटन सत्र, अब 25 जून तक खुलेंगे टाइगर रिजर्व पिछले सत्र की अपेक्षा इस वर्ष भारतीय और विदेशी पर्यटकों की भी बढ़ी आमद लखनऊ, 15 जूनः उत्तर प्रदेश सैलानियों को खूब भा रहा है। पर्यटन सत्र 2023-24 में उत्तर प्रदेश के टाइगर रिजर्व में पर्यटकों की […]

Read More
Raj Dharm UP

सीएम योगी ने कहा, जाओ और बाड़े में चला गया बब्बर शेर

कार्यालय प्रतिनिधि बब्बर शेर की जोड़ी को सीएम ने कराया चिड़ियाघर के बाड़े में प्रवेश तेरह दिन में दूसरी बार गोरखपुर के चिड़ियाघर पहुंचे मुख्यमंत्री हरिशंकरी का पौध रोपण कर दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को शहीद अशफाक उल्ला खां प्राणि उद्यान (गोरखपुर चिड़ियाघर) में बब्बर शेर “भरत” और शेरनी […]

Read More
Raj Dharm UP

बिजनौर जेल अधीक्षक पर कार्यवाही करने से बच रहा शासन!

राकेश यादव, विशेष संवाददाता/न्यूज एडिटर आचार संहिता के दौरान जेल डॉक्टर का करवाया था तबादला जेल प्रशासन को तानाशाही से जेलकर्मियों में आक्रोश नियमो को ताख पर रखकर बंदियों से की जा रही जमकर वसूली लखनऊ। कारागार विभाग में दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही नहीं होने से अधिकारी बेलगाम हो गए हैं। आदर्श चुनाव आचार […]

Read More