जितनी मजबूत दिखती थी उतना मजबूत नहीं निकली आकांक्षा, उसके जाने से बहुत दुःखी हूँ-पाखी हेगड़े

भोजपुरी फिल्मों की जानी मानी अभिनेत्री व फ़िल्म निर्मात्री पाखी हेगड़े ने भोजपुरी मॉडल व अभिनेत्री आकांक्षा दुबे के अचानक हुए संदिग्ध मौत पर गहरा दुःख जताया है। मुम्बई में एक कार्यक्रम के दौरान प्रेस मीट में पत्रकारों के सवाल पर जवाब देते हुए पाखी हेगड़े ने कहा कि आकांक्षा को वो अच्छी तरह से जानती थी, उन्होंने हाल फिलहाल में ही अभी एक गीत साथ मे शूट किया था। उससे बात करने पर ऐसा कभी भी महसूस ही नहीं हुआ कि आकांक्षा भी ऐसा कर सकती है। वो बहुत मजबूत माइंडसेट की लड़की थी। एकद्दम बिंदास रहने वाली हँसमुख प्रवृति की आकांक्षा ऐसा कैसे कर सकती है यह समझ मे नहीं आ रहा है।

पाखी ने यह भी कहा कि हर इंसान के जीवन मे उतार चढ़ाव आते रहता है उस उतार चढ़ाव के सामंजस्य को एक सूत्र में पिरोकर चलना ही ज़िन्दगी है। यदि अभी आपके जीवन मे कुछ बुरा हो रहा है तो आगे निश्चित ही कुछ अच्छा होगा। क्योंकि परिस्थितियां हमेशा एक सी नहीं रहा करती।

https://instagram.com/pakkhihegde?igshid=YmMyMTA2M2Y=

उसे बदलना ही होता है। आकांक्षा शायद इस दबाव को नहीं समझ सकी। उसके जाने से हमें बेहद दुख पहुंचा है। क्योंकि उससे हमने यह कहा था कि अपनी जिंदगी में कुछ अच्छा करके जाओगी तो माता पिता को खुशी मिलेगी उनकी खुशी की खातिर आप मेहनत कर रही हो। लेकिन अफसोस कि उसे समझाने को दुबारा मौका नहीं मिलेगा। ईश्वर आकांक्षा दुबे की आत्मा को शांति दें।

https://www.facebook.com/pakkhihegdeofficial?mibextid=ZbWKwL

Entertainment

लाडो फेम निर्देशक से खास बातचीत

अब बॉलीवुड में दिखने लगा है गोरखपुर का जलवा सबसे कम उम्र के निर्देशक , एडिटर और सिनेमाटोग्राफर हैं प्रकर्ष बॉलीवुड में गोरखपुर का जलवा दिखने लगा है। अभी तक म्यूजिक विडिओ में धूम मचा रहे सबसे कम उम्र के निर्देशक, सिनेमाटोग्राफर और एडिटर शॉट बाई इन्फ्लिक्ट यानी प्रकर्ष तिवारी ने ब्लैक होल मीडिया के […]

Read More
Entertainment

‘स्कंदा’ के वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर में मनाइए जबर्दस्त एक्शन का जश्न, आज ज़ी सिनेमा पर

  जब पर्दे पर जबर्दस्त एक्शन और रोमांच का जादू चलता है तो दर्शकों को मिलता है ढेर सारा यादगार मनोरंजन! और फिल्म ‘स्कंदा’ इसी बात की एक सटीक मिसाल है। तो आप भी जबर्दस्त एक्शन, झूमने लायक डांस, दमदार परफॉर्मेंस और रोमांच से भरी कहानी का मजा लेने के लिए तैयार हो जाएगी क्योंकि […]

Read More
Entertainment

एक बार और चोट पहुँचाने की कोशिश की आमिर खान ने… ‘महाराज’ को बनाया माध्यम

वैष्णव सम्प्रदाय और सनातन धर्म के ऊपर कुठाराघात है फ़िल्म “महाराज” केवल हिंदू समाज को बदनाम करने के लिए बनाई गई फ़िल्म, नहीं होना चाहिए- संजय भट्ट भारतीय फिल्म जगत में कुछ लोग विवादों में जान-बूझकर बने रहना चाहते हैं। उनको लगता है कि विवादों के बगैर उनको शोहरत हासिल नहीं हो सकती। कुछ लोग […]

Read More