हर मदद का किया वादा: क्यूबा_ग्वाटेमाला की यात्रा पर मीनाक्षी लेखी

शाश्वत तिवारी


भारत की विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने 12 से 14 जनवरी तक क्यूबा गणराज्य की आधिकारिक यात्रा की। यह क्यूबा की उनकी पहली यात्रा थी। 13 जनवरी को मीनाक्षी लेखी ने हवाना में जोस मार्टी को उनके स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित करके अपनी यात्रा शुरू की। बाद में क्यूबा गणराज्य के संस्कृति मंत्री एल्पिडियो अलोंसो ग्राउ के साथ हवाना के एक पार्क में महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। मीनाक्षी लेखी ने क्यूबा गणराज्य के राष्ट्रपति से द्विपक्षीय महत्व, राजनीतिक और आर्थिक सहयोग आदि के मामलों पर चर्चा की।

इस दौरान क्यूबा के राष्ट्रपति ने क्यूबा के लिए भारत के समर्थन, भारतीय सहायता प्राप्त परियोजनाओं और एलओसी और अन्य विषयों के साथ-साथ आईटीईसी के तहत क्यूबा के नागरिकों को प्रशिक्षित करने की सराहना की। यात्रा के दौरान विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कई कार्यक्रमों के माध्यम से व्यापार, निवेश, ऊर्जा, आपदा प्रबंधन, संस्कृति, स्वास्थ्य और फार्मा में सहयोग बढ़ाने की इच्छा व्यक्त की। यात्रा के दौरान भारत ने क्यूबा को पेंटावैलेंट टीकों की 12500 खुराक दान करने की घोषणा की। विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने हवाना में फिदेल कास्त्रो केंद्र और अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य केंद्र (ला प्राडेरा) के परिसर में ‘पंचकर्म केंद्र’ का भी दौरा किया, जिसे आयुष मंत्रालय के सहयोग से स्थापित किया गया था, जहां उन्होंने ला प्रडेरा के निदेशक और चिकित्सकों के साथ बातचीत की।

क्यूबा के बाद विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने ग्वाटेमाला का दौरा किया और यहाँ भी उन्होंने कई मंत्रिस्तरीय बैठकों में भाग लिया और भारतीय प्रवासियों से मुलाकात की ग्वाटेमाला के यात्रा के दौरान मिनाक्षी लेखी ने ट्वीट किया कि ग्वाटेमाला में भारतीय समुदाय के साथ बातचीत करके खुशी हुई, भारत-ग्वाटेमाला संबंधों को मजबूत करने में उनके योगदान की सराहना की और उन्हें आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण को साकार करने में भागीदार बनने के लिए आमंत्रित किया। एक और ट्वीट में मीनाक्षी लेखी ने लिखा कि ग्वाटेमाला में एस्कुइंटला के टेक्नोपार्क में भारतीय कंपनियों के लिए भंडारण परियोजना का उद्घाटन किया। यह सुविधा ग्वाटेमाला में तेजी से सामान वितरित करने में मदद करेगी और मध्य अमेरिकी क्षेत्र के प्रवेश द्वार के रूप में कार्य करेगी।

ग्वाटेमाला के विदेश मंत्री के साथ चर्चा करने के बाद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि दोनो ने रचनात्मक चर्चा की साथ ही द्विपक्षीय संबंधों की पूरी श्रृंखला पर और हमारे विकास सहयोग के हिस्से के रूप में भारत सरकार द्वारा उपहार में दिए जाने वाले 10 पिकअप ट्रकों के लिए एक प्रतीकात्मक कुंजी सौंपी। विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी 17 से 19 जनवरी तक अल सल्वाडोर में रहेंगी और अल सल्वाडोर के राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगी इस यात्रा में वो विदेश मामलों, संस्कृति और अर्थव्यवस्था के मंत्रियों के साथ भी बैठकें करेंगी। बोलिविया में राष्ट्रपति लुइस एर्स कैटाकोरा के पदभार सँभालने के बाद वो उनसे मुलाकात करेंगी साथ ही विदेश मामलों और हाइड्रोकार्बन और ऊर्जा मंत्रियों के साथ बैठकें करेंगी।

International

लुंबिनी विकास कोष के उपाध्यक्ष ने किया मोरारी बापू का स्वागत

गौतम बुद्ध का दर्शन पाना मेरे लिए सौभाग्य की बात: मोरारी बापू उमेश तिवारी लुंबिनी/नेपाल। नेपाल के लुंबिनी में रामकथा करने के लिए सोमवार को पहुंचे मोरारी बापू ने भगवान गौतम बुद्ध के जन्मस्थली माया देवी मंदिर का दर्शन किया। बुद्ध जन्मस्थली का दर्शन करने के बाद मोरारी बापू ने कहा कि गौतम बुद्ध की […]

Read More
International National

कनाडा की विदेश मंत्री “मेलानी जोली” का भारत दौरा

शाश्वत तिवारी कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली भारत यात्रा के दौरान अपने भारतीय समकक्ष डॉ. एसo जयशंकर के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगी। मंत्रालय की माने तो दोनों विदेश मंत्रियों के बीच एहम मुद्दों को लेकर द्विपक्षीय वार्ता होगी। कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली भारत की दो दिवसीय यात्रा पर सोमवार को नई दिल्ली […]

Read More
International Purvanchal

बौद्ध धर्म से जुड़े संगठनों ने लुंबिनी में राम कथा के विरोध में किया प्रदर्शन

कई संगठनों ने किया रामकथा प्रवचन का समर्थन उमेश तिवारी नौतनवा /महराजगंज। बौद्ध धर्म से जुड़े संगठनों ने नेपाल के लुंबिनी में होने वाले रामकथा प्रवचन के विरोध में प्रदर्शन किया है। रुपन्देही जिले के भैरहवा में सड़क पर उतर कर बौद्ध धर्म के अनुयायियों ने मंगलवार से होने वाले राम कथा के विरोध प्रदशर्न […]

Read More