“भीड़” के एक्सक्लूसिव प्रीमियर के साथ सिनेमाई हदें तोड़ने जा रहा है एंड एक्सप्लोर एचडी

एंड एक्सप्लोर एचडीचैनल एक बेमिसाल अनुभव का वादा करता है जो दर्शकों के लिए सिनेमा को अनबॉक्स करेगा। यह चैनल अब शनिवार, 16 मार्च को अभूतपूर्व फिल्म “भीड़” का प्रीमियर करने जा रहा है। यह हर फिल्म प्रेमी की मनोरंजन की जरूरतों को पूरा करेगा जो कि अनरूटीन, अनपेक्षित और अनफॉर्मूला है। चैनल के पास फिल्मों का एक विशाल भंडार है जो कहानी कहने की अभूतपूर्व खोज करता है। “भीड़” कहानी कहने, सिनेमाई हदों से पार निकलने और कहानी की सीमाओं को आगे बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण पड़ाव है। यह फिल्म कोविड-19 महामारी की पृष्ठभूमि पर आधारित एक अनसुनी कहानी पर रौशनी डालती है।

इसकी कहानी एक समर्पित पुलिस अधिकारी के रूप में सामने आती है, जिसे संकट के बीच प्रवासी मजदूरों को सीमा पार करने से रोकने का चुनौतीपूर्ण कार्य सौंपा जाता है। हालांकि, अधिकारी की यात्रा एक अनजाना मोड़ लेती है क्योंकि वो अपने चारों ओर पूर्वाग्रह और गहरे दर्द को देखता है, जिससे उसका कर्तव्य इंसानियत के लिए एक भावुक लड़ाई में बदल जाता है #UnlockHumanity। जाने-माने निर्देशक अनुभव सिन्हा द्वारा निर्देशित इस फिल्म में पंकज कपूर, राजकुमार राव, भूमि पेडणेकर, दीया मिर्जा और कृतिका कामरा जैसे शानदार कलाकार हैं।

एंड एक्सप्लोर एचडीपर प्रीमियर होने जा रही “भीड़” को लेकर राजकुमार राव अपना उत्साह ज़ाहिर करते हुए कहते हैं, “यह फिल्म सिर्फ एक प्रोजेक्ट नहीं है; यह अनसुनी और अनजानी कहानी कहने का एक जरिया है। एंड एक्सप्लोर एचडीहमारी अनूठी यात्रा के लिए एकदम सही जगह है, और मैं वास्तव में इस अनुभव को सभी के साथ साझा करने के लिए रोमांचित हूं। ‘भीड़’ कोई आम फिल्म नहीं है; यह एक खोज है, मानदंडों के लिए एक चुनौती है, और मुझे दर्शकों के इस ख़ास कहानी में गहरे उतरने का इंतजार है।

दीया मिर्ज़ा ने कहा, “मुझे यकीन है कि अगर हम धरती माता की रक्षा करते हैं, तो वो भी हमारी रक्षा करेगी। भीड़, कोविड -19 महामारी के दौरान इंसानियत के सामने आने वाली चुनौतियों को गहराई से दर्शाती है, और एक ऐसी कहानी का हिस्सा बनना हमेशा से पुरस्कृत और स्फूर्तिदायक रहा है जो ऐसे गहन विषयों को संबोधित करती है। महामारी ने यह पूरी तरह से स्पष्ट कर दिया है कि हमें अपने जीने, उत्पादन, निर्माण और उपभोग के तरीके को बदलना होगा। इस फिल्म की शूटिंग एक भावनात्मक यात्रा रही है, किसी भी चीज़ से कहीं ज्यादा परिवर्तनकारी और मैं एंड एक्सप्लोर एचडी के दर्शकों के लिए इंसानियत और हौसले की इस खोज को शुरू करने के लिए उत्सुक हूं।

निर्देशक अनुभव सिन्हा ने एंड एक्सप्लोर एचडी पर प्रीमियर के महत्व पर जोर देते हुए कहा, “हमारे लिए, ‘भीड़’ एक फिल्म से कहीं ज्यादा है; यह इंसानी अनुभव की खोज है। मुझे सचमुच विश्वास है कि एंड एक्सप्लोर एचडी पर इसके प्रीमियर के साथ, हम ज्यादा से ज्यादा दर्शकों तक पहुंच पाएंगे, जो फिल्म के सार को समझ सकेंगे। भीड़ के कलाकारों के साथ शूटिंग करना वाकई एक सुखद एहसास था, जिससे यह पूरी टीम के लिए यादगार बन गया। अंत में, नई कहानियों के प्रति एंड एक्सप्लोर एचडीका समर्पण इसे बनाने के हमारे दृष्टिकोण के साथ पूरी तरह से मेल खाता है। यह हमारे लिए बिल्कुल सही मंच है। एंड एक्सप्लोर एचडी दर्शकों को एक बेमिसाल सिनेमाई सफर पर जाने और शनिवार, 16 मार्च को ‘भीड़’ का प्रीमियर देखने के लिए आमंत्रित करता है।

Entertainment

संजय बिश्नोई की फिल्म संतोष का काँस फिल्म फेस्टिवल में हुआ ऑफिसियल सिलेक्शन

एमी-विनिंग  सीरीज़ दिल्ली क्राइम और 12वीं फेल का हिस्सा बनने के बाद, संजय बिश्नोई ने अपने नाम में एक और उपलब्धि जोड़ ली है हालही में चल रहे 77वें कान्स फिल्म फेस्टिवल में उन्हें  भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। अभिनेता की फिल्म संतोष को अन सर्टन रिगार्ड कैटेगरी  में प्रतिष्ठित मंच पर प्रदर्शित […]

Read More
Entertainment

बात फिल्म इंड्रिस्ट्री के पहले “एंटी-हीरो” अशोक कुमार की….

शाश्वत तिवारी कलकत्ता से वकालत पढ़े अशोक कुमार को फिल्में देखना बहुत पसंद था। वो क्लास के बाद वे अपने दोस्तों के साथ थियेटर चले जाते थे। तब आई हीरो के. एल. सहगल की दो फिल्मों से वे बहुत प्रभावित हुए – ‘पूरण भगत’ (1933) और ‘चंडीदास’ (1934)। वे तत्कालीन बंगाल में आने वाले भागलपुर […]

Read More
Entertainment

पुण्यतिथि पर विशेषः जब नौशाद ने मुगल-ए-आजम का संगीत देने से कर दिया था मना

पांच मई को दुनिया से रुखसत हुए थे, 25 दिसम्बर 1919 को जन्मे थे नौशाद मुंबई। वर्ष 1960 में प्रदर्शित महान शाहकार मुगल-ए-आजम के मधुर संगीत को आज की पीढ़ी भी गुनगुनाती है लेकिन इसके गीत को संगीतबद्ध करने वाले संगीत सम्राट नौशाद ने पहले मुगल-ए-आजम का संगीत निर्देशन करने से इंकार कर दिया था। […]

Read More