हिन्दू हित ही देश का हित और हिंदू संस्कृति ही इस देश की संस्कृति : परांडे

अयोध्या। विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने शनिवार को कहा कि हिन्दू हित ही देश का हित और हिंदू संस्कृति ही इस देश की संस्कृति है। विहिप के अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री परांडे ने आज यहां श्रीरामजन्मभूमि न्यास कार्यशाला राजघाट में प्रेस कांफ्रेंस करते हुए पत्रकारों से कहा कि विहिप जन्म से ही देश में हिन्दू समाज के लिये कार्य कर रहा है। संगठन को साठ वर्ष पूर्ण होने वाले हैं। अपने इस षष्ठी पूर्ति वर्ष के अंतर्गत विहिप देश के एक लाख स्थानों पर संगठन को विस्तार देगी। एक सवाल के जवाब में विहिप अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री ने कहा कि अयोध्या, काशी और मथुरा का संकल्प सम्पूर्ण हिंदू समाज का था। भव्य राम मंदिर निर्माण से अयोध्या का संकल्प पूर्ण हुआ। मंदिर वहीं बना जहां हम सबने संकल्प लिया था। काशी, मथुरा के बारे में सारे विषय आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी साक्ष्यों से यही लग रहा है कि हिन्दू समाज का काशी, मथुरा का भी संकल्प पूर्ण होने वाला है।

उन्होंने कहा कि अयोध्या कारसेवकपुरम् में विहिप प्रन्यासी मंडल की महत्वपूर्ण बैठक में हिन्दू समाज को संगठित करने तथा देश में चल रहे जनसंख्या असंतुलन, लव जिहाद, विदेशी मुस्लिम घुसपैठ, गुपचुप तरीके से ईसाई मिशनरियों द्वारा चलाये जा रहे अवैध धर्मान्तरण जैसे विषयों पर मंथन किया जायेगा। इससे निपटने की कार्ययोजना को मूर्त रूप दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि विहिप के ये प्रन्यासी मण्डल की आवश्यक बैठक विलम्ब से और रामजन्मभूमि मंदिर में विराजमान श्रीरामलला के दिव्य, भव्य प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के उपरान्त अयोध्या धाम में सम्पन्न होने जा रही है।

उन्होंने कहा कि संकल्प की सिद्धि का सुखद आनंद सभी ध्येय निष्ठ कार्यकर्ताओं के हृदयों को स्वाभिमान और गर्व से झंकृत कर रहा है। यहां आयोजित यह षष्ठी पूर्ति वर्ष की देरी होने कार्यकर्ताओं में नवीन ऊर्जा का संचार करने के साथ आगामी कार्यक्रमों की योजना, रचना को गति प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि इस बैठक में विहिप देश के एक लाख स्थानों पर संगठन विस्तार करने की योजना बनायेगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक वर्षों की भांति इस वर्ष भी विहिप सहित उसके अनुसांगिक संगठनों जैसे बजरंग दल, दुर्गा वाहिनी और मातृ शक्ति के प्रशिक्षण वर्गों का आयोजन भी होगा। देश के हजारों हिंदू युवा सहभागी बनकर राष्ट्रोत्थान में संकल्पित होंगे। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा घोषित किये गये सीएए कानून का लाभ जिसमें पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बंगलादेश से आये हुए निर्वासित हिन्दू, जैन, बौद्ध को नागरिकता दिलाने के लिये विहिप पूरी निष्ठा और समर्पण के साथ आगे रहेगी।

अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री ने कहा कि विगत दिनों पश्चिम बंगाल में माता-बहनों और संतों पर जो नृशंस और पाशविक अत्याचार जिहादी मुस्लिम अराजक तत्वों द्वारा पश्चिम बंगाल सरकार तथा स्थानीय प्रशासन के संभावित संरक्षण में किये गये उसका विहिप घोर निंदा करती है। उन्होंने कहा कि विहिप अपराध में लिप्त जेहादी मुस्लिम नरपिशाचों को फांसी देने की जोरदार ढंग से मांग करती है। पश्चिम बंगाल में अस्थिरता का दौर चल रहा है। अपराधी बेखौफ हो चुके हैं। अपराध करने वाले, अत्याचार करने वाले सत्ताधारी दल के कार्यकर्ता हैं। उन्हें सत्ता पक्ष सीधे-सीधे बचा रहा है। उन्होंने कहा कि उनके अत्याचारी कृत्य को हिन्दू समाज को कभी भूलना नहीं चाहिए। ऐसी घटनायें भविष्य में दुबारा चुनौती न देने पायें इसके लिए सम्पूर्ण हिंदू समाज को एकजुटता के लिए लोकतंत्र को मजबूत करना चाहिए। इस बैठक में विहिप के केन्द्रीय अध्यक्ष पद्मश्री आर्यन सिंह, कार्याध्यक्ष आलोक कुमार, विहिप उपाध्यक्ष एवं श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के उपाध्यक्ष चम्पत राय, विहिप प्रांतीय मीडिया प्रभारी शरद शर्मा भी मौजूद थे। (वार्ता)

Central UP Uttar Pradesh

ठाकुर अपराधियों के खिलाफ ‘ठाकुर’ ने खोला मोर्चा

पूर्व आईपीएस ने यूपी के मुख्य सचिव, गृह सचिव और डीजीपी को लिखा पत्र बृजेश सिंह पर लखनऊ में चल रहे मुकदमे में सही पैरवी की मांग अतीक- मुख्तार की मौत के बाद यूपी में धनंजय और बृजेश के ख़िलाफ़ भी उठने लगी आवाज़ प्रदेश को भयमुक्त कराने वाली योगी सरकार इन दो बाहुबलियों पर […]

Read More
Politics Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण की गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट का हाल

हैट्रिक की आस में भाजपा, क्या विपक्षी दल दिखा पाएंगे कोई जादू उत्तर प्रदेश के सबसे अमीर जिला कहे जाने वाला गौतम बुद्ध नगर भी राजनीतिक रूप से बेहद खास माना जाता है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे होने की वजह से गाजियाबाद की तरह गौतम बुद्ध नगर भी बेहद हाई प्रोफाइल क्षेत्र माना जाता […]

Read More
Politics Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश में लखनऊ लोकसभा सीट का हाल : राजनाथ लगायेंगे ‘हैट्रिक’ या खुलेगा सपा-बसपा का ‘खाता’?

लखनऊ। गोमती तट पर बसे लखनऊ को नवाबों का शहर कहा जाता है। यहां की गंगा जमुनी तहजीब की चर्चा देश ही नहीं दुनिया भर में होती है। मतलब साफ है लखनऊ तब भी चर्चा में रहा, आज भी है। चुनाव के लिहाज देश की हाई प्रोफाइल लोकसभा सीटों में से एक यूपी की राजधानी […]

Read More