चाबहार बंदरगाह से लेकर समुद्र में व्यावसायिक जहाजों पर बढ़ रहा खतरा

शाश्वत तिवारी

ईरान की दो दिवसीय यात्रा पर राजधानी तेहरान पहुंचे विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर ने अपने समकक्ष होसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन के साथ द्विपक्षीय बैठक में विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की। उन्होंने रणनीतिक रूप से अहम चाबहार बंदरगाह से लेकर समुद्र में व्यावसायिक जहाजों पर बढ़ रहे खतरों पर बातचीत की। बैठक के दौरान दोनों नेताओं ने क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय विकास की समीक्षा की और अंतरराष्ट्रीय उत्तर-दक्षिण परिवहन गलियारे (INSTC) के मुद्दे पर भी विचार साझा किए।

अब्दुल्लाहियन के साथ बैठक के बाद जयशंकर ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा हमारी द्विपक्षीय चर्चा चाबहार बंदरगाह और आईएनएसटीसी कनेक्टिविटी परियोजना में भारत की भागीदारी के लिए दीर्घकालिक ढांचे पर केंद्रित रही। साथ ही क्षेत्र में समुद्री नौवहन के खतरों के बारे में भी बात की। एजेंडे में अन्य मुद्दे गाजा स्थिति, अफगानिस्तान, यूक्रेन और ब्रिक्स सहयोग थे।
इसके अलावा विदेश मंत्री ने ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी से मुलाकात की और उन्हें ईरानी मंत्रियों के साथ अपनी सार्थक चर्चाओं से अवगत कराया।

जयशंकर ने ईरान के सड़क एवं शहरी विकास मंत्री मेहरदाद बजरपाश से मुलाकात की और चाबहार बंदरगाह पर दीर्घकालिक सहयोग ढांचा स्थापित करने पर विस्तृत और सार्थक चर्चा की। जयशंकर ने कहा भारत और ईरान पश्चिम एशिया की हाल की घटनाओं को लेकर चिंतित हैं और हमने क्षेत्र में हिंसा और शत्रुता को और बढ़ने से रोकने के महत्व पर जोर दिया है। हमारे बीच गाजा की बेहद चिंताजनक स्थिति पर भी चर्चा हुई। भारत के आसपास व्यावसायिक जहाजों पर हमले को अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए गंभीर चिंता का विषय बताते हुए जयशंकर ने कहा कि यह भयानक स्थिति किसी भी देश के हित में नहीं है और इस संकट को शीघ्रता से दूर किया जाना चाहिए। इस दौरान फारसी भाषा को भारत की नई शिक्षा नीति में नौ शास्‍त्रीय भाषाओं में से एक के रूप में शामिल करने की भी घोषणा की गई।

International

ब्राजील में G20 विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल हुए मुरलीधरन

शाश्वत तिवारी ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में गुरुवार को जी20 देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक हुई, जिसमें विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने भारत का प्रतिनिधित्व किया। इस दौरान उन्होंने महत्वपूर्ण विषयों पर अपने विचार रखने के अलावा ब्राजील के प्रति उसकी जी20 अध्यक्षता के दौरान भारत के दृढ़ समर्थन की प्रतिबद्धता भी जताई। […]

Read More
homeslider International

क्षेत्रीय एवं वैश्विक महत्व के मुद्दों पर जयशंकर अगले महीने करेंगे कोरिया और जापान का दौरा

शाश्वत तिवारी विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर 5 से 8 मार्च के बीच कोरिया गणराज्य और जापान का द्विपक्षीय दौरा करेंगे। विदेश मंत्रालय के मुताबिक जयशंकर 10वीं भारत-कोरिया गणराज्य संयुक्त आयोग बैठक (जेसीएम) में हिस्सा लेने के लिए 5-6 मार्च को सियोल का अपना पहला दौरा करेंगे। इस दौरान वह अपने समकक्ष चो ताए-यूल के […]

Read More
homeslider International

भारत और चीन सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध

शाश्वत तिवारी भारत और चीन ने सीमावर्ती क्षेत्रों में जमीनी स्तर पर शांति बनाए रखने को लेकर प्रतिबद्धता जताई है। साथ ही दोनों देशों ने पूर्वी लद्दाख में सीमा पर व्याप्त गतिरोध को दूर करने पर जोर दिया है। भारत-चीन कोर कमांडर स्तर की बैठक का 21वां दौर 19 फरवरी को चुशुल-मोल्डो बॉर्डर मीटिंग प्वाइंट […]

Read More