होली के दिन करें राशि के अनुसार रंगों का चयन

डॉ उमाशंकर मिश्रा

लखनऊ। इस बार होली पर यदि आप अपनी राशि के अनुसार रंगों का इस्तेमाल करेंगे तो आपकी कुंडली से अशुभ ग्रहों का प्रभाव कम हो सकता है। साथ ही, आपकी किस्मत भी पलट सकती है। तो आइए जानते हैं इस साल किस राशि के जातकों को किस रंग का इस्तेमाल करना चाहिए।

मेष  :   चक्र की पहली राशि है। इस राशि के स्वामी मंगल हैं। मेष राशि के जातकों का शुभ रंग लाल है। लाल रंग प्रेम और ऊर्जा का प्रतीक होता है। यह रंग मेष राशि के लोगों के लिए शुभ साबित होगा। ऐसे में, इस रंग से होली खेलना आपके लिए अच्छा रहेगा।

वृषभ  : इस राशि के स्वामी शुक्र हैं इसलिए इस राशि के लिए शुभ रंग सफेद होगा। इसके अलावा हल्का नीला रंग भी आपके लिए अच्छा साबित होगा। सफेद रंग इस राशि के लोगों को सुख व शांति प्रदान करेगा।

मिथुन  : इस राशि के स्वामी बुध हैं इसलिए इस राशि के लोगों के लिए हरा रंग बहुत ही भाग्यशाली साबित होगा। यह रंग आपके ऊपर सकारात्मक प्रभाव डालेगा। मिथुन राशि वालों के लिए यह रंग शुभ फलदायक

कर्क  : चंद्रमा मन और मन की भावनाओं को नियंत्रित करने का काम करता है इसलिए इस राशि का शुभ रंग सफेद है। होली पर इस रंग से होली खेलना आपके लिए बहुत अधिक लाभदायक रहेगा।

ये भी पढ़ें

प्रदोष व्रत आज है, जानिए शुभ तिथि व पूजा विधि और करें ये काम

सिंह  :  इस राशि के स्वामी सूर्य हैं। यह ग्रह सफलता का प्रतीक माना जाता है। इस राशि के लोगों के लिए शुभ रंग गहरा लाल, संतरी, पीला और सुनहरा है। ऐसे में, होली के दिन आप इन रंगों का इस्तेमाल करें ये आपको मानसिक सुख प्रदान करेगा।

कन्या  :   कन्या राशि का शुभ रंग गहरा हरा है। हरा रंग सुख और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। इसके अलावा, नीला रंग भी इन लोगों के लिए अच्छा माना जाता है। ऐसे में, आप हरा व नीला रंग दोनों से ही होली खेल सकते हैं।

तुला  :   इस राशि के स्वामी शुक्र हैं इसलिए इस राशि के लोगों के लिए शुभ रंग सफेद और हल्का पीला होता है। ऐसे में, तुला राशि के जातकों को पीले रंग से होली खेलना चाहिए।

वृश्चिक  :  इस राशि के स्वामी मंगल हैं इसलिए इस राशि के लोगों के लिए लाल और मैरून रंग बहुत शुभ माना गया है। वृश्चिक राशि के लिए इस शुभ रंग का प्रयोग काफी फायदेमंद साबित होता है। इस रंग के प्रयोग से हर कठिन परिस्थिति से बाहर निकलने में मदद मिलती है।

ये भी पढ़ें

गोविंदा द्वादशी आज है, जानिए शुभ तिथि व पूजा विधि और उत्सव…

धनु  :  इस राशि के स्वामी बृहस्पति हैं। बृहस्पति का शुभ रंग पीला होता है। यदि संभव हो तो इस राशि के लोगों को होली खेलते समय पीले रंग का प्रयोग करना चाहिए। इससे धनु राशि के लोगों को लाभ होगा और उनके मन में सुख और शांति का एहसास होगा।

मकर  :  इस राशि के स्वामी शनि हैं। शनि के स्वामी होने के कारण इस राशि का शुभ रंग काला या गहरा नीला होता है। मैरून रंग भी मकर राशि के लोगों के लिए उत्तम माना जाता है। ऐसे में, इसके इस्तेमाल से आप हर नकारात्मक ऊर्जा से दूर रह सकते हैं।

कुंभ  :  इस राशि के स्वामी शनि हैं इसलिए इस राशि का शुभ रंग भी काला या गहरा नीला माना जाता है। इन रंगों का प्रयोग करना कुंभ राशि के लोगों के लिए लाभदायक होगा।

मीन :  इस राशि के स्वामी बृहस्पति हैं। बृहस्पति का शुभ रंग पीला है इसलिए मीन राशि के लोगों के लिए पीला रंग बहुत लाभकारी होता है। यह रंग आपके जीवन में शुभता लेकर आया आएगा और आपको हर प्रकार की समस्या से दूर रखेगा।

Religion

चेतना डेंटल व नंदी इंटरप्राइजेज के भंडारे में उमड़ी भक्तों की भीड़

जेष्ठ माह के अंतिम मंगलवार को आशियाना में जगह जगह लगे भंडारे अधिकांश स्थानों पर सुंदरकांड पाठ के बाद हुआ भंडारा लखनऊ। जेष्ठ माह के अंतिम मंगलवार के अवसर पर आशियाना और आसपास क्षेत्रों में जगह जगह सुंदर कांड पाठ और भंडारे का आयोजन किया गया। इन आयोजनों में श्रद्धालुओ की जमकर भीड़ उमड़ी। बजरंगबली […]

Read More
Analysis Religion

पांच महीने में 2.86 करोड़ भक्तों ने बाबा के दरबार में लगाई हाजिरी

2023 के पांच महीने के सापेक्ष 2024 में लगभग 50 प्रतिशत अधिक भक्त पहुंच दरबार बाबा की आय में भी 33 फीसदी की हुई वृद्धि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण, 16 जून 2024 तक 16.46 करोड़ से अधिक भक्तों ने बाबा के चौखट पर नवाया शीश योगी सरकार […]

Read More
Religion

श्री जन कल्याणेश्वर मंदिर, सैनिक नगर प्रबंध समिति द्वारा मेधावी छात्र/छात्राओं का सम्मान समारोह

सैनिक नगर, लखनऊ स्थित श्री जन कल्याणेश्वर मंदिर प्रबंध समिति के द्वारा ज्येष्ठ माह के आख़िरी मंगल के शुभ अवसर पर सुंदर काण्ड पाठ के उपरांत 21 मेधावी छात्र/ छात्राओं को उनके उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम के लिये प्रशस्ति पत्र व मेडल के साथ सम्मानित किया गया। मंदिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष कर्नल आदि शंकर ने […]

Read More