जिला पंचायत सदस्यों ने धरना देकर लगाया टेंडर में अनियमितता का आरोप

  • निर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों की उपेक्षा बंद हो

विपिन श्रीवास्तव

सिद्धार्थनगर। जिला पंचायत सदस्यों ने अनियमिता का आरोप लगाते हुए धरना देकर टेंडर प्रक्रिया निरस्त करने की मांग की। जिला पंचायत परिसर में मंगलवार को धरना के दौरान उन्होंने निर्वाचित सदस्यों की उपेक्षा करने और
पदेन सदस्यों को अनावश्यक रूप से लाभ दिए जाने का आरोप लगाया है।

जिला पंचायत सदस्य महेंद्र सिंह, अब्दुल सलाम चौधरी, गंगा मिश्र, परवेज आलम, ज्ञानमती और शैलेश ने धरना देकर कहा कि तीन दिन के अंदर जिला पंचायत की बैठक करा प्रकाशित टेंडर निरस्त किया जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि निर्वाचित 47 सदस्यों की अनदेखी की जा रही है। उनका कहना था कि वर्तमान में कार्यरत तीन सदस्यीय कमेटी को हटाकर नई कमेटी गठित की जाए और सभी सदस्यों के वार्डों में दो वर्षों के बजट के अनुसार कार्य कराया जाए।

अनुरक्षण के मद में आए धन से भी विकास कार्य कराए जाए, साथ ही जिला पंचायत के सभी ठेकेदारों को बराबर कार्य दिया जाए।किसी की अनदेखी न की जाए। परवेज आलम का कहना था कि जब तक हमारी मांगे मानी नहीं जाएंगी तब तकधरना जारी रहेगा। सदस्यों ने डीएम के माध्यम से छह सूत्री ज्ञापन मुख्यमंत्री को भेजा।