थायराइड कंट्रोल करने के लिए ट्राय करें ये योगासन, जल्द ही दिखेगा असर

नया लुक डेस्क। कई बार होता है कि लोग काम के चक्कर में खुद का ख्याल नहीं रखते। ऐसे में कई तरह की बीमारियां उनमें से घर कर लेती हैं। जिनमें से एक का नाम है थायराइड। दरअसल, यह गर्दन की एक ग्रंथि में टी3 और टी4 नामक हार्मोस के स्त्राव के असंतुलित हो जाने से हो जाती है। इसके साथ ही थायराइड ग्रंथि से निकलने वाले हार्मौंस के असंतुलित होने से शरीर का वजन बढ़ने और कम होने लगता है। लेकिन अपने खान—पान पर ध्यान रखा जाय और कुछ योगासन की जाएं तो थायराइड को कंट्रोल में रखा जा सकता है। हम आपको आज इस आर्टिकल में कुछ ऐसे ही योगासन के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके जरिए जल्द से जल्द आप थायराड कंट्रोल कर सकते हैं।

मत्स्यासन

यह मछली के आकृति का योग होता है। इस आसन की मदद से थायराइड के साथ-साथ कमर दर्द से भी छुटकारा पाया जा सकता है। इसे करने के लिए योग मैट पर सबसे पहले पद्मासन की मुद्रा में बैंठ जाएं। अब अपने हाथों की मदद से धीरे-धीरे झुकते हुए पीठ के बल लेट जाएं।

अब अपने हाथों के बल से अपने शरीर को उठाएं। इस दौरान अपने पैरों और सिर पर बॉडी को संतुलित करें। अब अपने दाएं हाथ से बाएं पैर को और बाएं हाथ से दाएं पैर को पकड़ें। इस दौरान आपकी कोहनी और घुटने जमनी से चिपके होने चाहिए। इस मुद्रा में रहने हुए धीरे-धीरे सांस लें। करीब 30 सेकंड तक इसी मुद्रा में रहें और पुन: अपनी मुद्रा में लौट आएं। इस स्थिति को करीब 3 से 4 बार दोहराएं।

सर्वांगासन

इस आसन की मदद से आप थायराइड के हार्मोंस को कंट्रोल कर सकते हैं। इस आसन को करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं। अब अपने हाथों को सीधा रखकर बॉडी में चिपकाएं। इसके बाद अपने कूल्हों और कमर को ऊपर की ओर उठाएं। अब अपने कोहनियों को जमीन पर रखते हुए पीठ को अपने हाथों से सहारा दें। इस दौरान अपने पैरों और घुटनों को ऊपर की ओर एकदम सीधा रखें। ध्यान रहे कि इस दौरान आपके घुटने और पैर आपस में मिले होने चाहिए। इस स्थिति में कम से कम 1 मिनट के लिए रहें और गहरी सांस लेते रहें। इसके बाद वापस अपनी मुद्रा में लौट जाएं। इसे करीब 8 बार दोहराएं।

हलासन

हलासन करने से थायराइड के साथ-साथ कमर दर्द और पीठ के दर्द से राहत मिलता है। इस आसन को करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल सीधा लेट जाएं। अब अपने हाथों को शरीर से चिपकाएं, इस दौरान आपके हाथ सीधे होने चाहिएं। अब पैरों का घुटना मोटते हुए ऊपर उठाएं।

फिर सांस छोड़ते हुए पीठ को ऊपर उठाएं और पैरों को पीछे की ओर ले जाएं। अब अपनी उंगलियों से फर्श को छूने की कोशिश करें, इस अवस्था में एकदम सीधे खड़े रहें। करीब 1 मिनट तक इस मुद्रा में रहें और पुन: अपनी अपवस्था में वापस आ जाएं। इस आसन को कम से कम 8 बार जरूर करें।

विपरीत करनी

इस आसन को करने से थायराइड को कंट्रोल किया जा सकता है। इस आसन को करने के लिए सबसे पहले दीवार पर मैट बिछा लें। अब अपने मुंह को दीवार की ओर रखकर बैठ जाएं। अब अपने हाथों का सहारा लेते हुए पीछे की ओर झुकें और अपने पैरों और कुल्हों को ऊपर उठाते हुए दीवार पर सटाएं। इस दौरान अपने बाहों को शरीर से दूर फैलाएं और हथेलियों को उपर की ओर रखें। इस स्थिति में करीब 5 से 15 मिनट रुकें और पुन: अपनी मुद्रा में वापस आ जाएं।

Covid19 World