एसजीपीजीआई में कोरोना की को वैक्सीन का तीसरा ट्रायल अक्टूबर तीसरे हफ्ते से

  • अक्टूबर के पहले हफ्ते में पीजीआई आ रहे हैं भारत बायोटेक के प्रतिनिधि 

नया लुक ब्यूरो

लखनऊ ।  एसजीपीजीआई में को-वैक्सीन का तीसरा ट्रायल अक्टूबर के तीसरे हफ्ते से शुरू किया जाएगा। पीजीआई प्रशासन ने इसकी कार्य योजना तैयार कर ली है। सरकार ने पिछले दिनों भारत बायोटेक द्वारा विकसित की जा रही कोरोना वैक्सीन ‘को-वैक्सीन’ को पीजीआई और गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज को ट्रायल की मंजूरी दी थी।  पीजीआई निदेशक डॉ. राधाकृष्ण धीमान बताते हैं कि 15 अक्टूबर के बाद को-वैक्सीन का तीसरा ट्रायल संस्थान में शुरू हो जाएगा। यह ट्रायल दो अलग अलग उम्र के स्वास्थ्य लोगों में किया जाएगा।

जो कोरोना संक्रमण की चपेट में न आये हो। हालांकि, इनमें डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, थायरायड आदि गंभीर मरीजों में होगा। उनका कहना है कि अक्टूबर के पहले हफ्ते में कोवैक्सीन बनाने वाली कम्पनी भारत बायोटेक के प्रतिनिधि पीजीआई आ रहे हैं। उनके साथ पीजीआई के डॉक्टरों की वैक्सीन की खुराक देने और उसके तकनीकी पहलुओं बातचीत होगी। उसके बाद जिन लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल होगा। उन्हें सूचना दी जाएगी।

डॉ. धीमान ने बताया कि वैक्सीन की पहली खुराक महीने के पहले हफ्ते में और दूसरी खुराक महीने के आखिर में दी जाएगी। जिन लोगों पर इसका ट्रायल होगा। उन्हें पीजीआई आना होगा। पीजीआई निदेशक बताते हैं अलग अलग उम्र के लोगों में खुराक देने का बाद जांच होगी। एक को खुराक दी जाएगी और दूसरे को नही दी जाएगी। तब विशेषज्ञ ट्रायल वाले दोनों लोगों के लक्षणों की तुलना करेंगे। यह भी देखेंगे कि वैक्सीन का इन लोगों पर क्या असर हुआ है?