महिला के बिना नहीं मिल सकी किसी कार्य में सफलता : पुष्पांजलि

  • नोडल अधिकारी ने ली महिला प्रधानाचार्यों की बैठक

बांदा। रविवार को उत्तर प्रदेश शासन द्वारा संचालित ‘मिशन शक्ति’ अभियान के अंतर्गत आज जनपद की नोडल अधिकारी रेलवे डीआईजी पुष्पांजलि ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जनपद की समस्त महिला प्रधानाचार्यों की बैठक की और महिला सशक्तिकरण महिला सम्मान एवं महिला स्वावलंबन पर सब के विचार सुने और उनसे यह अपेक्षा की कि आप लोग महिलाओं को जागरूक करने में अपना कैसे योगदान दे सकते हैं और उनकी कैसे आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो सकती है।

कैसे उनकी सुरक्षा हो सकती है। इसकी ओर सार्थक प्रयास किए जाएं ।यह मुख्यमंत्री मंशा है की कल 17 अक्टूबर शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र तक इस मिशन का शुभारंभ किया गया है और यह अभियान 180 दिवसीय चलेगा और इसमें महिलाओं के प्रति बेटियों के प्रति जन जागरूकता हेतु विभिन्न प्रकार के आयोजन कराए जाएंगे और सब लोगों से यही अपेक्षा करती हूं कि की महिला के प्रति सम्मान की भावना रखें और महिला को पुरुषों से कम आंकलन न करें।

क्योंकि महिला ही सृष्टि की रचना करती है महिला के बिना कोई कार्य सफल पूर्वक किया ही नहीं जा सकता ऐसा हमारी संस्कृत और सभ्यता में भी है ।और महिला को प्रथम दर्जा दिया गया है इसलिए माननीय मुख्यमंत्री जी ने यह मिशन शक्ति अभियान चलाने का संकल्प लिया है जिसमें महिलाओं को सुरक्षा सम्मान एवं स्वावलंबन बनाया जा सके।

कार्यक्रम में उपस्थित जिलाधिकारी बांदा आनंद कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व संतोष बहादुर सिंह ,मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चंद्र वर्मा,जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिश्चंद्र नाथ, जिला विद्यालय निरीक्षक विनोद कुमार सिंह सहित जनपद की समस्त प्रधानाचार्या एवं प्रबंधक एवं स्वयंसेवी संस्थाओं की सदस्य उपस्थित रहीं ।