राज्यसभा सांसद अमर सिंह का निधन, पढ़िए अमर सिंह के बारे में कुछ रोचक तथ्‍य

लखनऊ। अमर सिंह ने फिल्म हमारा दिल आपके पास है में एक छोटी सी भूमिका निभाई और निर्देशक शैलेन्द्र पांडे की फिल्म जेडी में एक राजनेता की भूमिका निभाई। कला, संस्कृति, खेल, शिक्षा और दलितों के उत्थान, संगीत सुनने, फिल्में देखने और किताबें पढ़ने में उनकी विशेष रुचि है।

इनके रह चुके हैं सदस्य

  • इंडिया इंटरनेशनल सेंटर, नई दिल्ली
  • एन.ओ.आई.डी.ए., गोल्फ क्लब,
  • नई दिल्ली डी.डी.ए., स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स
  • आर्मी गोल्फ कोर्स

वे निदेशक, (i) इंडियन एयरलाइंस, (ii) भारतीय स्टेट बैंक और (iii) राष्ट्रीय कपड़ा निगम रह चुके हैं। वे पहले कांग्रेस से जुड़े; जिला कांग्रेस कमेटी, कलकत्ता के सचिव cus; सदस्य (i) ए.आई.सी.सी. और (ii) संयुक्त मोर्चा संचालन समिति; सदस्य, (i) केन्द्रीय विद्यालय संगठन के बोर्ड ऑफ गवर्नर, (ii) टेलीफोन सलाहकार समिति, दूरसंचार जिला गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश, 1998, (iii) टेलीफोन सलाहकार समिति, दूरसंचार जिला वाराणसी, उत्तर प्रदेश, 1999 और (iv) हिंदी सलाहाकर रक्षा उत्पादन और आपूर्ति और रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन विभाग की समिति; अखिल भारतीय महासचिव, समाजवादी पार्टी; राष्ट्रीय प्रवक्ता, समाजवादी पार्टी रहें।

वे अपने विवादों के लिए जाने जाते हैं जैसे:

उन्हें 24 अगस्त 2011 को दिल्ली पुलिस द्वारा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत 2008 में भारतीय जनता पार्टी के तीन संसद सदस्यों को रिश्वत देने के लिए भी आरोपपत्र सौंपा गया था।
अमर सिंह ने 2006 में अपनी कुछ टेलीफोन वार्तालापों के अवैध रूप से टैप करने और प्रचलन में आने के बाद याचिका दायर की थी।
पुस्तक क्लिंटन कैश के संदर्भ में, न्यूयॉर्क पोस्ट ने क्लिंटन फाउंडेशन के लिए सिंह के 5 मिलियन डॉलर के योगदान पर सवाल उठाया, “सिंह के दान को भारत में संदेह औरमनोरंजक माना गया था।”