सिंगापुर के सबसे प्राचीन हिंदू मंदिर का पुजारी गिरफ्तार

सिंगापुर। सिंगापुर के सबसे प्राचीन हिंदू मंदिर के मुख्य पुजारी को ‘‘आपराधिक विश्वासघात’’ के आरोपों में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने यह जानकारी दी। मंदिर की तरफ से शनिवार को जारी एक बयान में कहा गया कि श्री मरियाम्मान मंदिर की ओर से पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई गई थी क्योंकि पुजारी की देखरेख में रखे गए सोने के कुछ गहने गायब थे।

दिन की 15 महत्वपूर्ण खबरें एक नजर में

चैनल न्यूज एशिया के मुताबिक मंदिर की ओर से कहा गया कि गहने गायब होने की जानकारी लेखा जांच के दौरान मिली। बयान में पुजारी के नाम का जिक्र नहीं है। इसमें कहा गया, ‘‘प्रार्थनाओं के दौरान जिन स्वर्ण आभूषणों का उपयोग किया जाता था उन्हें मंदिर के गर्भगृह में मुख्य पुजारी की निगरानी में रखा गया था। इस बारे में पुजारी से पूछताछ की गई और उन्होंने गायब किए सभी आभूषण बाद में लौटा दिए।’’

पुलिस ने बताया कि 36 वर्षीय पुजारी को आपराधिक विश्वासघात के आरोपों में गिरफ्तार किया गया है। मंदिर की ओर से कहा गया कि मुख्य पुजारी अभी जमानत पर है। पुलिस ने बताया कि मामले की जांच चल रही है।(भाषा),