लखनऊ जा रहे फिजिशियन को पुलिस ने पीटा, हड़ताल पर गए डॉक्टर

लखनऊ। लॉकडाउन के दौरान ही लखनऊ में ट्रेनिंग के लिए जा रहे  जिला अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशियन को पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान पीट दिया। नाराज डॉक्टरों व मेडिकल स्टॉफ ने दोपहर बाद हड़ताल शुरू कर दी। इससे जिले भर की सभी CHC व PHC में इमरजेंसी सेवाएं ठप कर दी गईं।शासन ने कई डॉक्टरों की लखनऊ में कोरोना को लेकर ट्रेनिंग लगाई है। इसके लिए प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ के जिलाध्यक्ष व जिला अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. आरएस मधौरिया लखनऊ जा रहे थे। बताया जाता है कि जैसे ही वह शहर की बाहरी चौकी पर पहुंचे। पुलिस ने उनको रोक लिया और लॉकडाउन में बाहर निकलने का कारण पूछा।

इस दौरान पुलिस और डॉ. मधौरिया से बातचीत हो गई। आरोप है कि पुलिस ने डॉ. मधौरिया को पीट दिया। नाराज डॉक्टरों व मेडिकल स्टाफ ने हड़ताल कर दी। इसके बाद जिले की सभी सेवाएं ठप हो गई हैं। लखनऊ के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. जीके वाजपेयी कहते हैं कि डॉ. मधौरिया के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है। मैं ये नहीं जानता कि उनकी पोस्टिंग कहां है और वह लखनऊ क्या करने आ रहे थे।

बताते चलें कि सूबे में कोरोना के बढ़ते दायरे को देखते हुए प्रदेश सरकार युद्ध स्तर तैयारी करने के लिए कमर कस चुकी हैं। उसी सिलसिले में आज किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों के कर्मचारियों को सैंपल लेने उसे पैक करने और केजीएमयू ट्रांसपोर्ट करने की हैंड्स ऑन ट्रेनिंग के लिए बुलाया गया था। विभाग की हेड डॉ.अमिता जैन बताती हैं कि सरकार का यह कदम बहुत मददगार साबित होगा। इसका सीधा लाभ यह हो रहा है कि यदि कोई संदिग्ध मरीज किसी जिले में है तो उसे जांच के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं। उनसे डॉ. मधौरिया और पुलिसिया झड़प के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जानकारी से साफ इंकार किया।