अपर जिलाधिकारी डॉ पंकज कुमार वर्मा ने किया बढ़ते जलस्तर वाले क्षेत्रों का भ्रमण

बृजेंद्र वीर सिंह

अंबेडकरनगर। अपर जिलाधिकारी डॉ पंकज कुमार वर्मा द्वारा घाघरा नदी के बढ़ते जलस्तर वाले क्षेत्रों का भ्रमण कर प्रभावित गांव का जायजा लिया गया। तहसील आलापुर एवं टांडा के कुछ गांव के आसपास पानी लग गया है, लोगों के घरों में पानी आने से पूर्व ही जिला प्रशासन द्वारा उन्हें सुरक्षित सेंटर होम में पहुंचाया जा रहा है। घाघरा नदी के जलस्तर बढ़ने से तहसील टांडा के गांव माझा उल्टा वा, माझा कला, माझा केवतला, माझा चिंतोरा और औसानपुर एवं आलापुर तहसील के गांव माझा कमरिया, आराजीडियरा प्रभावित हुआ है।

प्रभावित क्षेत्रों में जिला प्रशासन के आला अधिकारी एसडीएम/तहसीलदार, कानूनों एवं अन्य अधिकारी मौके पर उपस्थित रहकर लोगों की मदद पहुंचाने में अहम भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। इन क्षेत्रों में चिकित्सीय टीम अस्थाई कैंप लगाकर दवाओं का वितरण कर रही है एवं चिकित्सीय सुविधा प्रदान कर रही है। जिला प्रशासन द्वारा जिन गांव की कनेक्टिविटी खत्म हो गई है।

उन गांव में 20 नाव लगाकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। इन क्षेत्रों में बाढ़ चौकियां एवं लोगों को सुरक्षित रखने के लिए सेल्टर होम बनाए गए हैं। गांव माझा कमरिया के कुछ घरों में पानी आने की संभावना देख जिला प्रशासन द्वारा पहले ही लोगों को निकाल कर उन्हें सेंटर होम में सुरक्षित रखा गया है। घाघरा नदी के जलस्तर बढ़ने से इन क्षेत्रों में लगभग 1881 परिवार प्रभावित हुई है। इन सभी लोगों को जिला प्रशासन द्वारा राशन किट, मिट्टी का तेल एवं अन्य आवश्यक सामग्री दिए जाने की तैयारी की जा रही है।

सभी तरह की सरकारी सहायता लोगों दी जा रही है। प्रभावित क्षेत्रों के गांव में से जानवरों को निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है एवं जानवरों हेतु भूसा आदि दिए जाने तैयारी किया जा रहा है। जिला प्रशासन पूर्व से ही मौके का निरीक्षण कर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर ली थी।

जिला प्रशासन की सभी अधिकारी निरंतर सतर्क होकर पूरी निष्ठा से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। लोगों को सभी सुरक्षा एवं सुविधा मुहैया कराने में जिला प्रशासन निरंतर अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहा है। तहसील टांडा क्षेत्र के गांव माझा उल्टहवा में आज 18 वर्ष की सीमा का पानी में डूबने से मृत्यु हो गई, जिला प्रशासन द्वारा परिवार को सहायता दिए जाने की कार्यवाही की जा रही है।