ओडिया फिल्म अभिनेता अजीत दास का निधन

भुवनेश्वर। ओडिया फिल्मों के वरिष्ठ अभिनेता अजीत दास का 71 वर्ष की उम्र में यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। पारिवारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी।
उन्हें एक सितंबर को यहां कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन अधिकारियों ने अब तक उनकी मौत के कारण का खुलासा नहीं किया है।
राज्य के नियमों के मुताबिक, कोई कोविड-19 मरीज की पहचान तब तक उजागर नहीं कर सकता जब तक कि यह सरकार, स्थानीय अधिकारियों या संबंधित मरीज द्वारा जाहिर नहीं की जाती।

दास के परिवार में उनकी पत्नी और तीन बेटियां हैं। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और प्रताप सारंगी तथा कई अन्य लोगों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है। राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के पूर्व छात्र दास ने 60 से ज्यादा ओडिया फिल्मों में अभिनय किया और कई अन्य का निर्माण भी किया। वह भुवनेश्वर स्थित उत्कल संगीत महाविद्यालय में नाटक विभाग के पूर्व प्रमुख भी थे।

दास का जन्म 1949 में हुआ था और उन्होंने 1976 में आई फिल्म ‘सिंदुरा बिंदु’ से अपने फिल्मी सफर की शुरुआत की थी। साल 1980 के दशक में आई चर्चित फिल्मों ‘हाकिम बाबू’ और ‘टुंडाबैदा’ ने उन्हें लोगों में काफी लोकप्रिय बना दिया। उन्होंने इन फिल्मों में मुख्य भूमिका निभाई। उनकी आखिरी फिल्म ‘इश्क पुनी थारे’ सितंबर 2018 में रिलीज हुई थी।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अपने शोक संदेश में कहा, “अजीत दास के निधन से ओडिया फिल्म उद्योग में खालीपन आ गया है जिस भरने में वर्षों लगेंगे। अजीत दास ओडिशा के सिने प्रेमियों के दिलों में हमेशा रहेंगे।”

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने एक ट्वीट में कहा, “उन्होंने अपने अभिनय से ओडिया सिने दर्शकों को काफी समय तक मंत्रमुग्ध किया। उनके निधन के साथ ओडिया फिल्म उद्योग के एक युग का अंत हो गया।”