संतुलन बिगड़ जाने से मोटरसाइकिल सवार युवक ने नहर में गिर कर हुई मौत,पत्नी रोड पर कूदकर बचाई जान

सुधीर शर्मा 

  बाराबंकी । बाराबंकी तहसील रामसनेहीघाट के शारदा सहायक नहर में गिरकर एक युवक की जान चली गई,वहीं सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची कोतवाली दरियाबाद पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी रही।मामला कोतवाली दरियाबाद अंतर्गत ग्राम पंचायत सेमौर का है। जहाँ के निवासी महेश सिंह आयु 30 वर्ष पुत्र रनबहादुर सिंह अपनी ससुराल रायबरेली से अपने गाँव सेमौर मोटरसाइकिल से वापस घर आ रहे थे । सामने से जा रहे वाहन को ओवरटेक करते समय बाइक का संतुलन बिगड़ा गया और सवार मोटरसाइकिल फिसल कर शारदा सहायक नहर में जा गिरा ,जबकि मोटरसाइकिल पर बैठी उसकी पत्नी ममता सिंह आयु 28 वर्ष घटित घटना के समय से पहले कूद कर अपनी जान बचाने में कामयाब रही ।

किन सड़क पर गिरने से चोटिल हो गई,वहीं शारदा सहायक नहर में गिरा युवक तेज बहाव के कारण पानी मे बह गया , युवक की पत्नी की चीख़ पुकार सुनकर आस पास के तमाम लोग घटना स्थल पर एकत्रित हो गए ,और उसी रास्ते से गुजर रहे राहगीर द्वारा नहर में कूद कर युवक को बचाने की कोशिश भी की गई ,लेकिन सफलता नही मिली सकी और पानी के तेज बहाव होने के कारण युवक का पता नही चल सका । प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हादसा होने का मुख्य कारण नहर के पुल की रेलिंग का टूटा होना बताया जा रहा है मौके पर उपस्थित ग्रामीणों ने बताया यदि नहर के पुल की रेलिंग होती तो संभव था कि थोड़ी बहुत चोट लग सकती थी यह जो अनहोनी घटना हुई है टल सकती थी ।

परंतु नहर विभाग की घोर लापरवाही के कारण ये दुर्घटना घटित हुई लोगो ने आरोप लगाते हुए बताया कि कई बार विभाग को शिकायत की गई मगर पिछले 10 साल से पुल की जर्जर रेलिंग का निर्माण नही हो सका जबकि दरियाबाद से बारिनबाग का ये ही मात्र एकलौता मुख्य मार्ग है जिस पर चलकर रोज सैकड़ो लोग सहित तमाम विद्यार्थी बारिनबाग जाते है ,आये दिन नहर के पुल की टूटी रेलिंग से कोई न कोई दुर्घटना होती रहती है ,जर्जर रेलिंग हादसे को दावत दे रही है ,टूटी रेलिंग की वजह से कई बार इस पुल से हादसे हो चुके है  लेकिन प्रशासन कुंभकरणी नींद सोता रहता है ।

नहर में लापता हुए व्यक्ति की घटना का समय लगभग 9:30 बजे का है ,लेकिन खबर लिखे जाने तक युवक का कोई सुराग नही लग पाया था। गाँव के लोगों द्वारा मोटरसाइकिल नहर से निकाल ली गई थी । कुछ देर बाद राहत आपदा टीम भी युवक का पता लगाने के लिए आई और खोज बीन जारी है । युवक के दो छोटे बच्चे है जिनके सिर से पिता का साया उठ गया युवक अपने पिता की इकलौते संतान है । युवक के पिता और परिवार वालो ने प्रसाशन पर समय से राहत बचाव न करने का आरोप भी लगाया गया वही किसी भी अनहोनी को लेकर रो रो कर बुरा हाल है । पुल पर भारी संख्या में ग्रामीणो का मजमा लगा हुआ था।