हिंदुस्तान शिपयार्ड में बड़ा हादसा 11 लोगों की मौत

  • लोड टेस्टिंग ट्रायल के दौरान 75 टन वजनी क्रेन गिरने से नीचे दब गए लोग

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में शनिवार को हिंदुस्तान शिपयार्ड में अचानक क्रेन टूटने 11 लोग चपेट में आ गए और उनकी मौत हो गई। अधिकारियों के मुताबिक हिदुस्तान शिपयार्ड का यह पहला हादसा है। समाचार एजेंसियों के मुताबिक लोड टेस्टिंग ट्रायल के दौरान Hindustan Shipyard Limited की 75 टन वजनी एक क्रेन गिर गई, जिसके नीचे दबकर 11 लोगों की मौत हो गई। जिला कलेक्टर विनय चंद ने इस बात की पुष्टि की है। चंद ने समाचार एजेंसी ANI को बताया, “नई क्रेन लाई गई थी। पूरी तरह से काम में लाने के लिए इसका ट्रायल रन चल रहा था। हमने भी Hindustan Shipyard में और प्रशासन की उच्च स्तरीय समिति में इस हादसे को लेकर जांच के आदेश दिए है।”

इसी बीच, अफसरों के हवाले से समाचार एजेंसी ANI ने बताया कि 11 मृतकों में से 4 चार HSL के कर्मचारी थे। वहीं, विशाखापट्टनम के पुलिस कमिश्नर के मुताबिक चार शिपयार्ड कर्मचारियों के अलावा शेष सात लोग कॉन्ट्रैक्ट पर वहां काम करते थे। घटना से जुड़ी करीब आठ सेकेंड की वीडियो क्लिप में एक बड़ी सी पीले रंग की क्रेन नीचे एकदम से जा गिरी थी। सूचना पर आनन-फानन वहां एंबुलेंस और पुलिस पहुंची, जिसके बाद नीचे राहत-बचाव कार्य शुरू किया गया। चंद के मुताबिक, हिन्दुस्तान शिपयार्ड में इस तरह का यह पहला हादसा है। वहीं, पुलिस आयुक्त आरके मीणा ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि हादसा उस समय हआ जब ये कर्मी क्रेन को खड़ा कर रहे थे।

पुलिस ने बताया कि तीन शवों को निकाल लिया गया है और उनकी पहचान कर ली गई है। उन्होंने बताया कि घटना स्थल पर बचाव कार्य जारी है। टेलीविजन पर प्रसारित वीडियो में विशाल और 75 टन वजन की क्रेन तेज अवाज के साथ नीचे गिरते दिखाई दे रही है। मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने जिला कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर को फौरन इस मामले में ऐक्शन लेने के लिए कहा है। बता दें कि Hindustan Shipyard Limited आंध्र प्रदेश के तटीय शहर के पास स्थित है। यह एक सरकारी उपक्रम है, जो शिप बनाने और उससे जुड़ी जरूरतों को पूरा करने, शिप्स को दुरुस्त करने, पंडुब्बियों का निर्माण करने और उनकी रीफिटिंग का काम करता है।