पिता सैफ चिंतित, बेटी सारा बेपरवाह

  • मुम्बई से गौरव सागर निगम

मुम्बई । बॉलीवुड के सुल्तान खान यानी सैफ अली खान और अमृता सिंह की बेटी सारा इन दिनों अलमस्त है तो पिता सैफ उसके इस व्यवहार से काफी दुःखी दिखाई दे रहे हैं। अब वह न तो पिता की चिंता करती है और न घर की वह खुद में इतनी मस्त रहती है कि उसे किसी की परवाह ही नहीं रहती। बेटी के बदले व्यवहार से दुखी सैफ कहते हैं कि वह अगली फिल्म में सफल हो, इसकी ढेर सारी दुआएं, लेकिन बेटी से खुद को अलग-थलग पाकर खुश नहीं हूं।

बताते चलें कि सारा का करियर इन दिनों काफी तेजी से बढ़ रहा है। दूसरी ओर वह बड़ी तेजी से दोस्त भी बदल रही है। कुछ दिनों पहले सारा और कार्तिक आर्यन के साथ गॉसिप बन रही थी। यह बात भी पिता सैफ को पसंद नहीं आई और वह सारा से रुष्ट हो गए। वह सार्वजनिक रूप से कई बार सारा को हिदायत भी दे चुके हैं, लेकिन सारा है कि मानती ही नहीं। वह पिता को लेकर काफी बेपरवाह हो गई है। सूत्रों का कहना है कि जबसे टाइगर पटौदी के घर में करीना कपूर खान की इंट्री हुई है, तब से सारा का मिजाज बदला हुआ है।

सैफ ने कई बार बिटिया को समझाया भी है कि यदि बेहतर अभिनय सीखना है तो स्टारडम के सम्मोहन से दूर रहना पड़ेगा पर सारा है कि अपनी धुन में रमी हुई है। फिल्मी गलियारों में यह चर्चा भी आम है कि सारा अपने पिता की बजाय अपनी मां यानी अमृता सिंह की सुनती है, वह अपनी अम्मी (करीना कपूर खान) की परवाह तनिक भी नहीं करती। अमृता सिंह के ही कहने पर सारा ने केदारनाथ पिटने के बाद सिम्बा जैसी मसाला फिल्म ज्वाइन किया था।

बिंदास ख्याली सारा कहती है कि अन्य फिल्मी घरानों की तर्ज पर उसे भी नेपोटिज्म के ताने सुनने पड़ते हैं। वह साफ शब्दों में कहती है कि मेरे माता-पिता मुझे फिल्मों में नहीं लाए, वो मुझे फिल्मों से हमेशा दूर रही रहते रहे। वह कहती हैं कि मैं अपनी मम्मी पापा के साथ किसी भी फिल्मी पार्टी में नहीं गई थी, फिल्मी ग्लैमर से अब मैं परिचित हुई हूं।