ठप पड़े ठूठीबारी बाईपास निर्माण को लेकर सख़्त दिखे आयुक्त

  • काम के प्रति शिथिलता व लापरवाही बर्दाश्त नही:आयुक्त
  • जल्द से जल्द काम पूरा करने की नसीहत

अरुण वर्मा

महराजगंज। करीब 9 माह पूर्व ठूठीबारी सड़क बाईपास की सौगात पर अधिकारियों की संवेदनहीनता के कारण ग्रहण लग गया है। जिसका जायजा लेने मौके पर पंहुचे आयुक्त गोरखपुर ने जमकर अधिकारियों को फटकार लगाई और नसीहत दी कि अविलम्ब कार्य को शुरू करा इसकी रिपोर्ट भेजें।

मंगलवार की दोपहर बाद अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत गोरखपुर आयुक्त जयंत नार्लीकर जब ठूठीबारी निर्माणाधीन बाईपास सड़क का जायजा लेने मौके पर पंहुचे तो उनके तेवर काफी सख़्त दिखे। जब उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारी से पूछा कि काम क्यों रुका हुआ है। जिसपर पीडब्ल्यूडी के अधिकारी ने राजनैतिक बाधा व कोरोना का हवाला देते हुए कहा कि कार्य के प्रारम्भ में ही कुछ राजनैतिक दल के लोगों ने मिट्टी खनन आदि को लेकर बाधा उत्पन्न कर दिया था।

 

उनकी इन बांतो का आयुक्त पर कोई असर होता नही दिखा उन्होंने जिलाधिकारी उज्जवल कुमार को भी निर्देश देते हुए कहा कि अविलम्ब निर्माण कार्य को प्रारम्भ कराए और इसमें आ रही दिक्कतों का समाधान कराए। बताते चलें राजाबारी पूल से नोमेन्स लैण्ड तक 850 मीटर लम्बी बाईपास सड़क निर्माण के लिए कुल 5 करोड़ अवमुक्त किया जा चुका है पर विभागीय लापरवाही के कारण लक्षित समय मे यह काम पूरा नही कराया जा सका।

आयुक्त महोदय के इस दौरे के बाद सम्बंधित विभाग के अधिकारियों के चेहरे से रंगत उतर गई है अब काम मे तेजी आने की बात कही जा रही है। इस मौके पर जिलाधिकारी उज्ज्वल कुमार, सीडीओ पवन अग्रवाल, एसडीएम राम सजीवन मौर्या सहित पीडब्ल्यूडी के अधिकारी मौजूद रहे।

Covid19 World