आइए जाने आज का पञ्चाङ्ग

शनिवार – ०१ अगस्त २०२०
सूर्योदय: ०५:४४
सूर्यास्त: ०७:१३
चन्द्रोदय: १७:३४
चन्द्रास्त: २७:५८
अयन दक्षिणायने (उत्तरगोलीय)
ऋतु:  वर्षा
कलियुगाब्द: ५१२२
शक सम्वत: १९४२ (शर्वरी)
विक्रम सम्वत: २०७७ (प्रमादी)
मास श्रावण
पक्ष शुक्ल
तिथि: त्रयोदशी (२१:५४ तक)
नक्षत्र: मूल (०६:४९ तक)
योग: वैधृति (०९:२४ तक)
प्रथम करण: कौलव (१०:१५ तक)
द्वितीय करण: तैतिल (२१:५४ तक)

गोचर ग्रहा:

सूर्य कर्क
चंद्र धनु
मंगल मीन (उदित, पूर्व)
बुध कर्क (अस्त, पश्चिम, मार्गी)
गुरु धनु (उदित, पश्चिम, वक्री)
शुक्र मिथुन (उदित, पूर्व, मार्गी)
शनि मकर (उदय, पूर्व, वक्री)
राहु मिथुन
केतु धनु

शुभाशुभ मुहूर्त विचार

अभिजित मुहूर्त: ११:५६ से १२:५०
अमृत काल: २६:०४ से २७:४०
होमाहुति: शनि (०६:४९ तक)
अग्निवास: आकाश
दिशा शूल: पूर्व में
नक्षत्र शूल: कुछ भी नहीं
चन्द्र वास: पूर्व
दुर्मुहूर्त: ०५:४० से ०६:३४
राहुकाल: ०९:०१ से १०:४२
राहु काल वास: पूर्व
यमगण्ड: १४:०४ से १५:४५

चौघड़िया विचार

दिन का चौघड़िया

१ – काल २ – शुभ
३ – रोग ४ – उद्वेग
५ – चर ६ – लाभ
७ – अमृत ८ – काल

रात्रि का चौघड़िया

१ – लाभ २ – उद्वेग
३ – शुभ ४ – अमृत
५ – चर ६ – रोग
७ – काल ८ – लाभ

नोट- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।

शुभ यात्रा दिशा

पूर्व-उत्तर (वाय विन्डिंग अथवा तिल मिश्रित चावल का सेवन कर यात्रा करें)

तिथि विशेष

अगस्त माह आरम्भ, शनिप्रदोष व्रत, बुध कर्क में २७:३० से आदि।

आज जन्मे शिशुओं का नामकरण

आज ०६:४९ तक जन्मे शिशुओ का नाम मूल नक्षत्र के चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (भी) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम पूर्वाषाढ़ नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय, चतुर्थ चरण अनुसार क्रमश (भू, धा, फा, ढा) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है।

उदय-लग्न मुहूर्त:

०५:४० – ०६:४९ कर्क
०६:४९ – ०९:०८ सिंह
०९:०८ – ११:२६ कन्या
११:२६ – १३:४७ तुला
१३:४७ – १६:०६ वृश्चिक
१६:०६ – १८:१० धनु
१८:१० – १९:५१ मकर
१९:५१ – २१:१७ कुम्भ
२१:१७ – २२:४० मीन
२२:४० – २४:१४ मेष
२४:१४ – २६:०९ वृषभ
२६:०९ – २८:२४ मिथुन
२८:२४ – २९:४० कर्क

पञ्चक रहित मुहूर्त:

०५:४० – ०६:४९ शुभ मुहूर्त
०६:४९ – ०६:४९ रोग पञ्चक
०६:४९ – ०९:०८ शुभ मुहूर्त
०९:०८ – ११:२६ मृत्यु पञ्चक
११:२६ – १३:४७ अग्नि पञ्चक
१३:४७ – १६:०६ शुभ मुहूर्त
१६:०६ – १८:१० रज पञ्चक
१८:१० – १९:५१ शुभ मुहूर्त
१९:५१ – २१:१७ चोर पञ्चक
२१:१७ – २१:५४ शुभ मुहूर्त
२१:५४ – २२:४० रोग पञ्चक
२२:४० – २४:१४ चोर पञ्चक
२४:१४ – २६:०९ शुभ मुहूर्त
२६:०९ – २८:२४ रोग पञ्चक
२८:२४ – २९:४० शुभ मुहूर्त