क्या है त्रिशूल, वृषभ, डमरू आदि का वास्तविक अर्थ :

‘महागौरी– माता का आठवाँ रूप’ आरंभ में एक बार माता के पहले के सात प्रतीकात्मक रूपों का पुनर्स्मरण कर लेना

Read more

दुग्ध उत्पादन में गिरावट का प्रमुख कारण- पशुओं में कुपोषण

  डॉ. बीके सिंह पूर्व जोन प्रबंधक, पशुधन विकास परिषद्, गोरखपुर जोन, गोरखपुर हमारे देश में पशु संख्या बहुतायत में है एवं

Read more

बात तो चुभेगी : बिहार चुनाव में अंपने अपने दांव

बिहार चुनाव में राहुल बाबा की एन्ट्री अजब गजब है। फरमाते हैं उनको सत्ता मिली तो शराब बंदी कानून की

Read more

बाढ़ पीड़ित किसानों को आर्थिक सहायता देने के लिए लागू किया गया ​कृषि कानून

केंद्र व यूपी की वर्तमान सरकारें किसान कल्याण के लिए कटिबद्ध है। इसके लिए पिछले वर्षों में अनेक कदम उठाए

Read more

बात तो चुभेगी : भागो भइया हमार ऊंट कटहा

भागो भइया हमार ऊंट कटहा। साक्षरता प्रसार के सिलसिले में प्रकाशित एक पुस्तक का शीर्षक है। यह शीर्षक बेमतलब याद

Read more

शक्ति-साधना और आज्ञाचक्र की वैज्ञानिकता

माता कात्यायनी (आदि शक्ति का छठा रूप) पराम्बा शक्ति पार्वती के नौ रूपों में छठा रूप कात्यायनी का है। अमरकोष

Read more

फ़्लैश बैक नेपाल : तुम्हें याद हो, के न याद हो, न तो मस्तों की वो टोली है और न ही सारंगी की मीठी धुन

वैसे तो पूरा मुल्क नेपाल ही अपनी खूबसूरती, भोलेपन, सादगी, निश्छलता और सरल स्वभाव की वजह से जाना जाता है।

Read more

बिहार में योगी की हुंकार

बिहार में योगी आदित्यनाथ की हुंकार कांग्रेस और राजद दोनों पर भारी पड़ी है। उन्होंने तथ्यों व प्रमाणों के आधार

Read more

बात तो चुभेगी : राम भक्त हनुमान की लीला

रामलीला पर एक लतीफा याद आया। एक गांव में मंच पर रामलीला हो रही थी। राम भक्त हनुमान धौला पर्वत

Read more

हरीतिमा संवर्द्धन- मानव अस्तित्व के लिए आवश्यक

डॉ0 बीके सिंह पूर्व जोन प्रबंधक, पशुधन विकास परिषद्, गोरखपुर जोन, गोरखपुर देश की सामाजिक, आर्थिक तथा सांस्कृतिक उत्थान में

Read more

महिला सुरक्षा व सम्मान का मिशन शक्ति क्यों न महिला शिक्षकों से शुरू किया जाए

समाज में गरिमा एवं सम्मान का भाव पैदा करने वाला एकमात्र सक्षम व्यक्ति शिक्षक ही है, परंतु हमारे समाज एवं

Read more

बात तो चुभेगी : पाकिस्तान में बूट पॉलिश तेल मालिश

बूट पॉलिश तेल मालिश। पाकिस्तान के वजीरे आजम की जुबान फिसली नहीं है। उन्होंने जो कहा है वह सौ टका

Read more

कोविड-19 : अभी कोरोना का खतरा टला नहीं

  डॉ. ओ.पी मिश्र हम भारतवर्ष के लोग बहुत ही जल्दी लापरवाह हो जाते हैं और भूल जाते हैं कि

Read more

बात तो चुभेगी : मन के अंधे थरूर को माफ कर दें

संत कबीर का एक दोहा याद आ गया। माला फेरत जुग गया। गया न मनका फेर। कर का मनका डारि

Read more

समाज सरकार व संस्कृति

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर पूरे प्रदेश में मिशन शक्ति संचालित किया जा रहा है। इसका प्रशासनिक व सामाजिक

Read more

बिहार चुनाव : पप्पू , चिराग गड़बड़ा न दे सत्ता की गणित

यशोदा श्रीवास्तव बिहार का विधानसभा चुनाव इस बार पिछले कई चुनावों से हटकर है। पिछले चुनावों में किसी एक के

Read more

ब्रह्मचारिणी : मां का दूसरा रूप

कमलेश कमल मां का दूसरा रूप ब्रह्मचारिणी का है, जिसका शाब्दिक अर्थ है -‘ब्रह्मा का-सा आचरण करने वाली’। ‘ब्रह्म’ (ब्रम्ह

Read more

गजल : अपना गुनाह छुपाने को कोई गिरेबां ढूंढिए

सलिल सरोज, नई दिल्ली अपना गुनाह छुपाने को कोई गिरेबाँ ढूँढिए जो कुछ भी ना कह सके, वैसी जुबाँ ढूँढिए हमें

Read more

पृथ्वी पर मानव जनसंख्या का चरमोत्कर्ष एवं चुनौतियां

प्रोफेसर दिनेश कुमार सिंह पूर्व अध्यक्ष प्राणि विज्ञान विभाग और पर्यावरण विभाग डीडीयू विश्वविद्यालय, गोरखपुर जनसांख्यिकी दृष्टि से 21वीं सदी

Read more

बात तो चुभेगी : बिहार में गड़बड़ चौथ है

एक शेर याद आ गया मुलाहिजा फरमाइए। शेख ने मस्जिद बना, मिसमार बुतखाना किया। पहले इक सूरत भी थी अब

Read more