बलिया मे सिपाही ने कोरेन्टाइन सेन्टर की पोल खोली

  • सामाजिक कार्यकर्ता सुनील कुमार यादव ने पी.एम., सी.एम. और डी.एम. का ध्यान आकृष्ट कराया

जयराम अनुरागी

बलिया। जनपद के एल.आई. अस्पताल बसन्तपुर, बलिया मे भर्ती एक सिपाही ने कोरोना मरीजों की शासन से मिलने वाली सुविधाओं के मुहैया नहीं कराये जाने पर बलिया के सी.एम.ओ. को जमकर लताडा है। ज्ञात हो कि जनपद के क्षेत्राधिकारी कार्यालय रसडा मे पेशकार पद पर कार्यरत सिपाही बसन्तपुर मे कोरेन्टाइन है। सिपाही के अनुसार सेन्टर मे कोरोना मरीजों की सुविधाओं के नाम पर कोई खास व्यवस्था नहीं है। यहां तक कि मरीजों की शिकायत को कोई गम्भीरता से सुनता भी नहीं है। यही कारण है कि नगर पंचायत रेवती के एक कोरेन्टाइन मरीज को चहारदीवारी फांदकर भागना पडा। ये भी नहीं की भागने वाला मरीज कोई सामान्य नागरिक था ।सूत्रो के अनुसार भागने वाला मरीज एक सभासद एवं सतापक्ष से जुडा एक नागरिक है।

आज फिर एल.आई. अस्पताल पर एक जागरूक सिपाही ने सवाल खडा कर लोगों को उस अस्पताल की व्यवस्था पर सोचने के लिए मजबूर कर दिया , जहां पर कोरोना मरीजों को इलाज के लिए भर्ती किया जाता है । सिपाही के अनुसार उक्त अस्पताल मे न तो दवाई की सुविधा है और न तो पानी की सुविधा है । सब भगवान भरोसे चल रहा है। सामाजिक कार्यकर्ता सुनील कुमार यादव ने उक्त हास्पिटल की दुर्वयवस्था पर पी.एम., सी.एम.और डी.एम . का ध्यान आकृष्ट करते हुए कोरोना मरीजों को शासन से मिलने वाली सारी समस्त सुविधाओं को मुहैया कराये जाने की माँग की है।