… और क्वारंटाइन सेंटर पहुंच गए दूल्हा और बाराती

  • कोराना जांच रिपोर्ट आने के बाद ही होगा निकाह

नया लुक ब्यूरो

लखनऊ। चलती का नाम गाड़ी के चर्चित गाने , जाना था जापान पहुंच गये चीन। समझ गये ना की लाइनें यूपी के हापुड़ के एक गांव में उस वक्त देखने को मिली जब निकाह करने आया युवक बारात अपने बारातियों समेत क्वारंटाइन सेन्टर पहुंच गया है। दुल्हे और बारातियों का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया है और जब तक रिपोर्ट तक नहीं आती तब तक दुल्हा और बाराती सरकारी व्यवस्था पर क्वारंटाइन सेन्टर पर ही रहेंगे। इस दिलचस्प मामले की चर्चा पूरे हापुड़ जिले में है।

मामला कुछ इस तरह है। जानकारी के अनुसार सिंभावली के गांव मुराद नगर निवासी युवक पिछले कई वर्ष से महाराष्ट्र में नौकरी कर रहा था। लाँकडाउन के दौरान वह महाराष्ट्र में ही रह रहा था और इसी बीच उसके परिजनों ने उसका निकाह बुलंदशहर में तय कर दिया। बुधवार को हापुड़ से बारात बुलन्दशहर के स्याना गांव जाने वाल थी। निकाह के लिए दुल्हा सोमवार को महाराष्ट्र से अपने गांव पहुंचा।

निकाह की सारी तैयारियां मुकम्मल हो गयी थी और मंगलवार को उसके घर पर निकाह की एक रस्म् रखी गयी थी। इसी बीच गांव की निगरानी समिति ने दुल्हे के महाराष्ट्र से आने की सूचना पुलिस को दे दी। पुलिस ने मौके पर पाया कि दुल्हा महाराष्ट्र से आया है। इसके बाद गांव के स्वास्थ्य परीक्षण रिजिस्टर में उसका नाम भी नहीं मिला। पुलिस ने पाया कि इस परिवार के निकाह के लिए जिला प्रशासन से किसी तरह की अनुमति भी नहीं ली गयी थी। इसी बीच एसडीएम को इस मामले की सूचना दी गयी। जांच के बाद दुल्हा और बाराती लड़की के घर के बजाय क्वारंटाइन सेन्टर पहुंच गये हैं।