माइक्रो लोक अदालत में निस्तारित हुये 375 मामले

  • 5 लाख 61 हजार का अर्थदंड हुआ अधिरोपित

बांदा। जनपद न्यायाधीश राधेश्याम यादव की अध्यक्षता में मुख्यालय तथा सभी तहसीलों में माइक्रो लोक अदालत का आयोजन किया गया। 375 लघु आपराधिक वादों को निस्तारित करते हुए 5 लाख 61 हजार का अर्थदंड अधिरोपित किया गया।
जनपद न्यायाधीश राधेश्याम यादव द्वारा एक वाद निस्तारित करते हुए 500 अर्थदंड अधिरोपित किया गया। अपर जिला जज द्वितीय रामकरन द्वारा एक वाद निस्तारित किया गया। अपर जिला जज तृतीय रिजवान अहमद द्वारा चार वाद निस्तारित किये गये।

अपर जिला जज चतुर्थ हरेंद्र प्रसाद द्वारा एक वाद निस्तारित किया गया। अपर जिला जज ईसी एक्ट पवन कुमार शर्मा द्वारा चार वाद निस्तारित करते हुए 145000 रूपयों का अर्थदंड अधिरोपित किया गया। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट संजय कुमार द्वारा 38 वाद निस्तारित करते हुए 27800रूपयों का अर्थदंड अधिरोपित किया गया। सिविल जज सीडी भारतेंदू प्रकाश गुप्ता द्वारा 8 वाद निस्तारित किये गये।

जिनमें 4600 रूपयों का अर्थदंड अधिरोपित किया गया। प्रथम अपर सीजेएम नदीम अनवर द्वारा 48 वाद निस्तारित करते हुए 355700 रूपयों का अर्थदंड अधिरोपित किया गया। सिविल जज जूडि अनुजा सिंह द्वारा 500 रूपयों का अर्थदंड अधिरोपित किया गया। सिविल जज बबेरू महेंद्र कुमार पांडेय द्वारा 39 वादों को निस्तारित करते हुए 23500 का अर्थदंड अधिरोपित किया गया।

सिविल जज अतर्रा सर्वेश सिंह यादव द्वारा 26 वादों को निस्तारित करते हुए4025 का अर्थदंड अधिरोपित किया गया। इसके साथ ही उप जिला मजिस्ट्रेट के सभी न्यायालयों द्वारा कुल 205 लघु आपराधिक वाद निस्तारित किये गये।