लक्ष्मण शाखा का मकर संक्रांति उत्सव

डॉ. दिलीप अग्निहोत्री


संक्रांति के मूल भाव को समझना आवश्यक है। भारतीय संस्कृति प्रकृति से तादात्म्य रखने हुए सतत प्रवाहित रहती है। मकर संक्रांति प्रकृति का संक्रमण है। इसको भी हमारी संस्कृति में पर्व माना गया। प्रकृति के साथ ही वैचारिक संक्रमण होता है। य़ह बात पूर्व प्रांत संघ चालक प्रभु नारायण श्रीवास्तव ने कही। वह कैलाश चंद्र शर्मा के आवास पर आयोजित

लक्ष्मण शाखा के मकर संक्रांति कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि विश्व की समस्याओं का समाधान भारतीय चिन्तन से ही सम्भव है। इसके लिए पहले अपने समाज का संगठित होना आवश्यक है। संगठन के लिए समरसता पर अमल करना चाहिए। मकर संक्रांति समरसता का ही पर्व है। देवासुर संग्राम भी वैचारिक सप्रमण का परिणाम था। आज भी देश में वैचारिक संक्रमण है। इसको समझने की आवश्यकता है। राष्ट्रीय स्वयसेवक संघ समाज को संगठित करने की दिशा मेँ कार्य कर रहा है। इस प्रयास से ही भारत को पुनः विश्वगुरु बनाना सम्भव होगा। इस अवसर पर नगर कार्यवाह राजीव पंडित,शाखा कार्यवाह रामजनम,मुख्य शिक्षक हेमन्त सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Raj Dharm UP

संघर्ष समिति की लम्बी वार्ता के बाद सार्थक निर्णयों के साथ चार फरवरी का प्रस्तावित सांकेतिक विरोध स्थगित

लखनऊ। विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति, उप्र ने अपर मुख्य सचिव (ऊर्जा) महेश गुप्त के साथ तीन फरवरी को रात हुई लम्बी वार्ता के बाद, समस्याओं का सार्थक निराकरण होने के साथ चार फरवरी को होने वाले प्रदेशव्यापी विरोध प्रदर्शन को स्थगित कर दिया है। वार्ता में प्रबन्धन की ओर से चेयरमैन एम. देवराज, प्रबन्ध […]

Read More
Raj Dharm UP

महाप्राण निराला की रचना ‘राम की शक्तिपूजा’ मंच पर नौटंकी रूप में

‘कथा बस राम रावण की नहीं, मुक्त सीता करानी है…. लखनऊ। अपनी सीतारूपी भारतीय और सनातनी संस्कृति को अपहरण और क्षरण से बचाना है तो हमें राम की तरह जूझते हुए इसे बचाना होगा। ये संदेश छायावादी महाकवि सूर्यकांत त्रिपाठी निराला की रची अमूल्य काव्य रचना- ‘राम की शक्ति पूजा’ का लोक नाट्य विधा नौटंकी […]

Read More
Raj Dharm UP

रोजगार पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जरा भी गंभीर नहीं : कांग्रेस

मनरेगा बजट में कटौती का सबसे ज्यादा नुकसान उत्तर प्रदेश को उठाना पड़ेगा। ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट पहले कोई इन्वेस्टर समिट की तरह रोजगार देने में असफल रहेगी लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 24 करोड़ की आबादी है और चुनाव के लिए 15 करोड़ लोगों को पांच किलो राशन का वादा किया जा रहा है। जिस प्रदेश […]

Read More