ठूठीबारी व सोनौली से नेपाल में प्रवेश लिए बनेगा नया भव्य द्वार

उमेश तिवारी


नौतनवा/महराजगंज । केन्द्र व प्रदेश की सरकार ने नेपाल से जुड़े बार्डर के सीमावर्ती व व्यवसायिक कस्बों के विकास पर फोकस बढ़ा दिया है। जिले में अंतर्राष्ट्रीय महत्व के दो प्रमुख कस्बे सोनौली व ठूठीबारी में नेपाल के साथ अंतर्राष्ट्रीय कारोबार व आवागमन के लिए दशकों पहले दो प्रवेश द्वार बनाए जाएंगे। ठूठीबारी में नोमेंस लैंड के समीप बने भारतीय प्रवेश द्वार की ऊंचाई सड़क उच्चीकृत होने से कम हो गई है। इससे बड़े मालवाहक ट्रक इस रास्ते से नेपाल नहीं जा पा रहे हैं। नेपाल के साथ कारोबारी रिश्ता मजबूत करने के लिए सरकार सोनौली व ठूठीबारी के प्रवेश द्वार का नया निर्माण कराएगी।

जिले का सोनौली कस्बा नेपाल का प्रमुख मार्ग है। यह राजमार्ग से भी जुड़ा है। अंतर्राष्ट्रीय महत्व के इस कस्बे के विकास पर सरकार का पूरा फोकस है। आईसीपी, लॉजिस्टिक हब व म्यूजियम समेत करीब 11 सौ करोड़ की परियोजना से सोनौली की छवि अंतर्राष्ट्रीय स्तर के शहर के रूप में विकसित होगी। सोनौली में बनने वाले इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट में नेपाल व भारत के साइड में नया मुख्य प्रवेश द्वार बनाया जाएगा। सोनौली का पुराना प्रवेश द्वार सुरक्षित रहेगा। सामान्य आवाजाही इसी मार्ग से होगी। ठूठीबारी में भी नेपाल के साथ अंतर्रष्ट्रीय कारोबार के लिए कस्टम समेत कई कार्यालय स्थापित हैं। सरकार ने महराजगंज जिला मुख्यालय से तीस मीटर चौड़ी सड़क ठूठीबारी बार्डर तक बनाने की मंजूरी दे दी है। ठूठीबारी में तत्कालीन विधायक अवनीन्द्र नाथ द्विवेदी ने नोमेंस लैंड के समीप अंतर्राष्ट्रीय प्रवेश द्वार का निर्माण कराया था।

नेपाल जाने वाली सड़क कई बार ऊंचा होने की वजह से गेट की ऊंचाई कम हो गई है। बड़े मालवाहक ट्रक का उपरी हिस्सा गेट में फंस जा रहा है। उसके बाद वाहनों को निकालने में मशक्कत करनी पड़ रही है। ठूठीबारी से सोनौली के रास्ते बड़े मालवाहक नेपाल जा रहे हैं। इससे दूरी व लागत बढ़ रही है। ठूठीबारी में बाईपास का निर्माण करा दिया गया है। बाजार के अंदर की मुख्य सड़क को भी चौड़ीकरण किया गया है। महराजगंज से तीस मीटर चौड़ी राजमार्ग से ठूठीबारी के जुड़ने से कारोबार बढ़ेगा। साथ ही साथ सोनौली के ट्रैफिक लोड में भी कमी आएगी। ठूठीबारी में प्रवेश द्वार निर्माण के लिए 1.14 करोड़ की मंजूरी मिल चुकी है।

राजमार्ग बनने के साथ ही प्रवेश द्वार का भी नए सिरे से निर्माण कराया जाएगा। सोनौली व ठूठीबारी नेपाल के साथ आवागमन व व्यवसायिक गतिविधियों का प्रमुख केन्द्र है। इन दोनों स्थानों का विकास कार्य की कई योजना स्वीकृत है। इस संबंध में जिलाधिकारी सत्येन्द्र कुमार का कहना है कि सोनौली व ठूठीबारी में नया प्रवेश द्वार बनाया जाएगा। इससे एक तरफ जहां नेपाल के साथ व्यापार सुगम होगा वहीं दूसरी तरफ संस्कृति और सभ्यता का आदान-प्रदान होगा। स्थानीय स्तर पर भी रोजगार के अवसर मुहैया होंगे।

 

 

Purvanchal

पुलिस ने अवैध गांजे के साथ चार अभियुक्त को किया गिरफ्तार

कीमत 10 लाख 23 हजार वाहन सहित कुल बरामदगी 25 लाख 23 हजार रुपए की बताई गई नन्हें खान देवरिया। पुलिस अधीक्षक कार्यालय से एक विज्ञप्ति जारी कर अवगत कराया गया कि दो फरवरी को प्रभारी निरीक्षक भाटपार रानी मय पुलिस टीम चनुकी पुल के पास वाहन चेकिंग के दौरान एक ट्रक नम्बर UP.52AT.1427 में […]

Read More
Purvanchal

लोहे की राड से वार कर एक शख्स को घायल किया

आरोपी कचहरी का मनबढ़ दलाल देवांस जायसवाल नौतनवां/महराजगंज। नाले और खेत पर कब्जे के विवाद में कचहरी का मनबढ़ दलाल ने एक व्यक्ति को लोहे की राड से मार कर घायल कर दिया। घायल व्यक्ति लहूलुहान हालत में नौतनवां थाने गया जहां घंटा भर बैठाए रखने के बाद कहा गया कि घटना स्थल सोनौली थाने […]

Read More
Central UP Purvanchal Uttar Pradesh

गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में पुलिसकर्मियों पर हमला करने वाले अहमद मुर्तुजा को NI कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

पिछले साल गोरखनाथ में स्थित गोरखनाथ मंदिर में तैनात पुलिसकर्मियों पर हमला करने वाले अहमद मुर्तजा को लखनऊ की एनआई कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। ‌गोरखनाथ मंदिर हमले की घटना में रिकार्ड 60 दिनों की न्यायिक जांच में अहमद मुर्तजा अब्बासी को एनआईए कोर्ट ने आईपीसी की धारा 121 में मौत की सजा […]

Read More