प्रचंड ने नेपाल के प्रधानमंत्री के रूप में ली शपथ,ओली के साथ ढाई ढाई साल का फार्मूला हुआ तय।

निजाम जिलानी


लुंबिनी/नेपाल । नेपाल के अगले प्रधानमंत्री के रूप में माओवादी नेता प्रचंड ने राष्ट्रपति भवन शीतल निवास में शपथ ग्रहण की। नेपाली कांग्रेस के गठबंधन में प्रमुख सहयोगी रहे प्रचंड प्रधानमंत्री बनने के लिए एमाले नेता केपी शर्मा ओली के साथ आ गए। उन्हें ओली के 78 सांसदों सहित पांच अन्य दलों का समर्थन प्राप्त है। बहुमत के लिए जरूरी 138 सदस्य संख्या के मुकाबले प्रचंड के पास 164 सदस्यों का समर्थन है। सभी सदस्यों ने राष्ट्रपति को शपथपत्र देकर प्रचंड को समर्थन की घोषणा की है। आम चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला था लेकिन नेपाली कांग्रेस गठबंधन के पास मात्र दो सीट की ही कमी थी। नेपाली कांग्रेस गठबंधन के सरकार बनने की प्रबल संभावना के बीच रविवार को प्रचंड ओली के साथ जा मिले और आनन फानन में उन्हें प्रधानमंत्री बनाने की घोषणा भी कर दी गई।

इसके पांच अन्य दल जो नेपाली कांग्रेस के साथ जाने को तैयार थे वे भी एमाले के साथ चले गए। प्रचंड की सरकार में तीन उप प्रधानमंत्री भी होंगे। 2008 में जब वह पहली बार नेपाल की सत्ता पर काबिज हुए तो उस वक्त उन्होंने भारत विरोधी रुख अपनाते हुए लगातार चीन के साथ संबंधों को मजबूत किया। उन्होंने स्थापित परम्परा को तोड़ते हुए बीजिंग ओलिंपिक के बहाने सबसे पहले चीन की यात्रा की। उन्होंने 1950 की भारत-नेपाल शांति संधि में बदलाव के लिए आवाज उठाया और मधेश के उग्र आंदोलनों को भी भारत का आवाज बताया है। ऐसे में सवाल ये है सत्ता पाने के बाद प्रचंड और ओली अपने नीतियाँ और भारत के संबंधों को कितना परवान चढ़ाते है।

International

भगवान भरोसे है नेपाल की हवाई यात्रा

प्लेन से नेपाल जाने में डर रहे लोग, पोखरा हादसे के बाद हवाई यात्रा करने वालों की कांप रही है रूह पर्यटन उद्योग को बड़ा झटका उमेश तिवारी काठमांडू / नेपाल । नेपाल विमान हादसे ने नेपाल जाने वाले पर्यटकों के बीच डर बैठा दिया है। लोग पोखरा जाने का अपना प्लान कैंसिल कर रहे […]

Read More
International

कंगाली की राह पर पाकिस्तान

चला था भारत को तबाह करने अब खुद हो गया कंगाल! पाकिस्तान में आंटे के लिए मची घमासान दुनिया देखकर हुई हैरान उमेश तिवारी काठमांडू/नेपाल।  वर्ल्ड बैंक की एक रिपोर्ट कहती है कि पाकिस्तान ने विकास में अपनी क्षमता का इस्तेमाल ही नहीं किया। रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान मे लगभग 1500-1600 मेगावाट बिजली सौर ऊर्जा […]

Read More
homeslider International

कर्तव्य पथ पर भारत ने थल से लेकर आसमान तक किया शौर्य-पराक्रम का प्रदर्शन, विभिन्न राज्यों की झांकी रही आकर्षण का केंद्र, देखें तस्वीरें

राजधानी दिल्ली समेत पूरे देश भर में गणतंत्र दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। ‌ कर्तव्य पथ सांस्कृतिक विविधता और कई अन्य अनूठी पहलों का गवाह बना। इस बार गणतंत्र दिवस पर मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी मुख्य अतिथि थे। गणतंत्र दिवस की परेड में पहली बार केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की पूरी महिला […]

Read More