एक भिखारन तुला बेहरा: भीख मांग कर जमा हुए एक लाख रुपए कर दिए मंदिर को दान, ताकि लोगों के कुछ काम आ सके,

ओडिसा/फुलबानी। एक भिखारिन की कल्पना करते हुए आप क्या सोचेंगे? यही न कि उसके पास पैसे नहीं होंगे। यदि होंगे भी तो खुद उसके अपने जीवनयापन के लायक। लेकिन एक भिखारिन ने अपनी हैसियत से बड़ा धार्मिक दान करके सभी को आश्चर्य में डाल दिया है। उड़ीसा की रहने वाली 70 वर्षीय तुला बेहरा, जोकि एक भिखारन हैं और पिछले 20 सालों से फूलबनी में जगन्नाथ मंदिर के सामने भीख मांगती हैं। उन्होंने भीख मांगकर एक लाख रुपए से ज्यादा एकत्र किए थे, जिसमें एक लाख रुपए मंदिर को दान कर दिए हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक मूल रूप से कटक निवासी, तुला बेहरा फूलबनी कस्बे में ही रहती हैं। वह एक विधवा महिला हैं। उन्होंने फूलबनी जगन्नाथ मंदिर प्रबंधन समिति के अध्यक्ष सुनासिर महापात्रा से संपर्क किया और सालों की मेहनत के बाद जमा की गई पूंजी में से एक लाख रुपए मंदिर को दान में दे दिए, ताकि आम लोगों का कुछ भला हो सके। तुला द्वारा मंदिर को दान किए जाने का मामला इलाके में चर्चा का विषय है।

जानकारी के मुताबिक, कटक की रहने वाली तुला बेहरा अपने पति प्रफुल्ल बेहरा के साथ शादी करने के बाद फूलबनी में रहने लगी थीं। शादी के कुछ वर्षों बाद प्रफुल्ल की मृत्यु हो गई। पति की मौत के बाद तुला को पेट भरने के लिए काम की जरूरत थी। पहले तुला ने कुछ छोटे-मोटे काम किए। लेकिन उससे मिलने वाली रकम से उनका खर्च पूरा होना मुश्किल था। ऐसे में उन्होंने भीख मांगना शुरू कर दिया। भीख मांगने के दौरान जो पैसा उन्हें मिलता वो उसे अपने पोस्ट ऑफिस अकाउंट में जमा कराती रहीं। जब उनके बचत खाते में एक लाख रुपए से अधिक जमा हो गए तब उन्होंने मंदिर को दान करने का फैसला किया, और मंदिर प्रबंधन समिति से मिलकर उन्हें दान के पैसे दिए। पहले मंदिर प्रशासन पैसे लेने में हिचक रहा था, लेकिन तुला बेहरा के काफी अनुरोध करने पर मंदिर प्रशासन ने उनकी दान राशि को स्वीकार कर लिया।

पहले भी सामने आ चुका है ऐसा एक मामला

यह देश का पहला मामला नहीं है, जब किसी भिखारी ने इतना बड़ा दान दिया है। इससे पहले कर्नाटक के कुनादपुर से सामने आए ऐसे ही एक मामले में गंगोली निवासी भिखारिन ने मंदिर के लिए एक लाख रुपये का दान दिया था। इस भिखारिन की पहचान अश्वत्थाम्मा के रूप में हुई थी। उन्होंने अपने जीवन-यापन के लिए मंदिरों के बाहर भीख मांगकर जो पैसा जमा किया था उसमें से से एक लाख रुपया उन्होंने मंदिर में देवी अन्नदान के लिए दे दिए थे।

International National

तालिबान में महिला शिक्षा के लिए आवाज उठाने वाले व्याख्याता गिरफ्तार

नई दिल्ली। अफगानिस्तान की महिलाओं की आजादी और शिक्षा को लेकर आवाज उठाने वाले पत्रकारिकता के व्याख्याता इस्माइल मशाल को तालिबान के अधिकारियों ने हिरासत में लिया है। मशाल के सहयोगी फरीद अहमद फाजली ने मीडिया को बताया कि तालिबान शासन के सदस्यों ने व्याख्याता को बेरहमी से पीटा और उन्हें बहुत ही अपमानजनक तरीके […]

Read More
International National

भारत मिलकर मनाएगा श्रीलंका के 75वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न

 शाश्वत तिवारी श्रीलंका सरकार के निमंत्रण पर विदेश और संसदीय मामलों के राज्य मंत्री वीo मुरलीधरन चार फरवरी को श्रीलंका के 75वें स्वतंत्रता दिवस से जुड़े समारोहों में भाग लेने के लिए कोलंबो गए हैं। यह वो दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने सहित विविध विषयों पर चर्चा करेंगे। मुरलीधरन का श्रीलंका […]

Read More
National

आंध्र प्रदेश की राजधानी होगी विशाखापट्टनम, सीएम जगन मोहन रेड्डी ने की घोषणा

जल्द ही विशाखापत्तनम आंध्र प्रदेश की नई राजधानी होगी। मंगलवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने घोषणा करते हुए कहा कि विशाखापट्टनम जल्द ही राज्य की राजधानी बनने जा रहा है। राजधानी दिल्ली दौरे पर पहुंचे सीएम रेड्डी ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आप सभी को विशाखापट्टनम आमंत्रित […]

Read More