तू पात-पात, मैं घुमूँ डाली-डाली

कर्नल आदि शंकर मिश्र
कर्नल आदि शंकर मिश्र

दसवीं फेल आज घूम रहे हैं,
बीएमडब्ल्यू जैसी लम्बी कारों में,
पढ़े लिखे अब रिक्शा चलाते,
सवारियाँ ढोते दिखते बाज़ारों में।

शिक्षक आज न शिक्षा दे पाते,
चुनाव ड्यूटी में उलझे रहते हैं,
मतदाता सूची में हेर-फेर कर,
नेता नगरी के बन जाते चमचे हैं।

स्वर्ग जाने हेतु खुद ही मरना पड़ता है

अस्पताल में डाक्टर भी अब
अपने मरीज़ कम ही देखते हैं,
ऊपरी कमाई करने में व्यस्त,
सारा व्यापार कार्य वे करते हैं।

कोरोना गया अब डेंग्यू आया,
अस्पताल में बेड नही है ख़ाली,
नक़ली दवा हर दुकान में मिलती,
तू पात पात, मैं घुमूँ डाली डाली।

वोटों राजनीति में नेता सारे,
कुर्सी की ख़ातिर लड़ते हैं,
जनता का हित न कोई देखे,
अपनी झोली कोठी भरते हैं।

जो निर्णय मुश्किल में लिये जाते हैं

लोकतंत्र के नाम की कुर्सी
अब सबको प्यारी लगती है,
शहरी गड्ढों में सड़कें फैली हैं,
बातें ग्राम-विकास की करते हैं।

किस जमाने में आ गए हैं हम सब
आपस में प्यार व पूरा परिवार नहीं,
देना उधार नहीं, नेता ईमानदार नहीं,
मृतक के कंधे की मदद को कोई नहीं।

बच्चों का बचपन, युवाओं का यौवन,
आँख में पानी, दादी-नानी की कहानी,
आदित्य मैं आज खोजते रह जाता हूँ,
बुजुर्गों के प्रति प्रेम व आदर की वानी।

 

Litreture

कविता : ठोकर खाकर इंसान सजग हो जाता है,

मनुष्य का स्वभाव इस तरह है कि जो साथ जाना है उसे छोड़ रहे हैं, जो यहीं रह जाना है हम सभी उसे जोड़ गाँठ कर जोड़ते जा रहे हैं । प्रेम व विश्वास में एक ही समानता है, कि दो में से किसी को भी जबरदस्ती किसी में पैदा नहीं किया जा सकता है, […]

Read More
Litreture

कविता : ज्ञान का एहसास

धन दौलत से सुविधायें तो मिलती हैं सुख मिलता है अपनों के प्यार से, सुविधाओं से सुःख मिलता तो किसी को दुःख क्यों मिलता इस संसार से। रिश्ते वही कामयाब होते हैं जो सभी तरफ से निभाये जाते हैं, केवल एक तरफ़ सेंकने से तो कोई रोटी भी नहीं बना पाते हैं। दिल से अच्छे […]

Read More
Litreture

कविता : कभी वक्त था कि हमें खाने का शौक़ था

कभी वक्त था कि हमें खाने का शौक़ था, श्रीमती जी को खाना बनाने का शौक़ था, हमारी फ़रमाइशों की लिस्ट लम्बी थी, तो उनकी व्यंजनों की लिस्ट लम्बी थी। अब तो खाने की लिस्ट कम हो गई है, दाल, सब्ज़ी, दो रोटी ही बहुत होती हैं, इससे ज़्यादा तो हज़म नहीं होता है, बीपी, […]

Read More