homesliderScience & Tech

Whatsapp का नया शर्त:..तो नहीं देख पाएंगे आप अपनी ही Chat List

Whatsapp's new condition:..so you will not be able to see your own Chat List #NayaLook

गोपनीयता नीति स्वीकार न करने पर Whatsapp कर देगा ये बड़ा ला।

नई दिल्ली। WHATSAAP के आनुसार उसके नए निजता अपडेट को स्वीकार न करने के लिए कोई भी खाता डिलीट नहीं किया जाएगा, लेकिन कई हफ्तों के बाद इन विवादित शर्तों को स्वीकार न करने वाले उपयोगकर्ता अपनी चैट सूची नहीं देख पाएंगे और आखिरकार उनकी एप पर आने वाले फोन कॉल या वीडियो कॉल का जवाब देने की सुविधा के इस्तेमाल पर रोक लग जाएगी। पिछले सप्ताह FACEBOOK के स्वामित्व वाली कंपनी के आनुसार उपयोगकर्ता अपनी 15 मई की समय सीमा तक इसकी गोपनीयता नीति अपडेट को स्वीकार नहीं करते हैं, तो उक्त तिथि पर उनका अकाउंट काम नहीं करेगा। WHATSAAP ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि यह उन लोगों को याद दिलाना जारी है, जिन्हें शर्तों की समीक्षा करने और उन्हें स्वीकार करने का मौका नहीं मिला है।

हालांकि कंपनी ने इन रिमाइंडर के लिए तय की गई समयसीमा के बारे में नहीं बताया। WHATSAAP ने कहा कि लगातार रिमाइंडर भेजने के बाद कार्रवाई का मैसेज भी यूजर्स को भेजा जा रहा है। अपडेट स्वीकार करने तक आप WHATSAAP पर सीमित कार्यक्षमता का सामना करेंगे। यह एक ही समय में सभी उपयोगकर्ताओं के लिए नहीं होगा। इससे पहले WHATSAAP ने अपनी विवादित निजता नीति से जुड़ा अपडेट स्वीकार करने के लिए उपयोगकर्ताओं को दी गयी 15 मई तक की समयसीमा से जुड़ा फैसला वापस ले लिया था और कहा है कि शर्तों को स्वीकार न करने पर भी खाते हटाए नहीं जाएंगे।

बताते चलें कि WHATSAAP की प्रस्तावित नीति पर उपयोगकर्ताओं ने अपने डाटा के अधिकार को लेकर चिंताएं जताई थी। WHATSAAP के तमाम उपयोगकर्ताओं ने कहा कि नई नीति के तहत उनका डेटा WHATSAAP का स्वामित्व रखने वाली कंपनी FACEBOOK के साथ शेयर किए जाएगा। इसको लेकर इस निशुल्क मैसेजिंग एवं कॉलिंग सेवा देने वाले कंपनी की काफी आलोचनाएं हो रही थीं। WHATSAAP के एक प्रवक्ता ने पीटीआई से कहा कि नीति से जुड़े अपडेट को स्वीकार न पर 15 मई को कोई खाता डिलीट नहीं किया जाएगा।

उन्होंने ईमेल के जरिए भेजे गए एक सवाल के जवाब में शुक्रवार को कहा कि इस अपडेट की वजह से 15 मई को कोई भी खाता डिलीट नहीं किया जाएगा और भारत में किसी की भी WHATSAAP सेवा बंद नहीं की जाएगी। हम लोगों को अगले कुछ हफ्तों में नई जानकारी भेजेंगे। प्रवक्ता के आनुसार जहां नई सेवा शर्तों का अपडेट पाने वाले ज्यादातर उपयोगकर्ताओं ने उसे स्वीकार कर लिया है कुछ लोगों के पास अब भी यह अपडेट नहीं पहुंचा है। प्रवक्ता ने हालांकि साफ नहीं किया कि कंपनी ने किन कारणों से अपने रुख में बदलाव किया और इन शर्तों को स्वीकार करने वाले उपयोगकर्ताओं की संख्या का भी खुलासा नहीं किया। (इनपुट एजेंसी/गूगल)

Related Articles

Back to top button